Logo
Logo
mic
Download
इस्कॉन वृंदावन श्रीमद् भगवतम

इस्कॉन वृंदावन श्रीमद् भगवतम

Duration

62hr 51m

Language

Hindi

Released

Category

Devotional

Like

Favorite

like

Review

play

Play

share

Share

भगवान् श्री कृष्णा की असीम कृपा से ना केवल हमे यह बहुमूल्य मनुष्य जीवन प्राप्त हुआ है, जिसका एकमात्र लक्ष्य जीवन एवं मृत्यु के कुचक्र में से निकलना है, अपितु हमे भारत जैसे आध्यात्म में उत्कृष्ट देश में निवास प्राप्त हुआ है, जहां के वेद शास्त्रों में जीवन के लक्ष्य को प्राप्त करने का साधन बताया गया है और जहां सभी लोगो को यह ज्ञान है कि यदि कोई अपने वास्तविक ज्ञान का अभिलाषी है तो उसे योग्य गुरु की शरण लेने की आवश्यकता है, जिस प्रकार महाराज परीक्षित ने अपनी मृत्यु को निकट आता देख श्रील शुकदेव गोस्वामी के श्री चरणों में आश्रय लिया एवं उनसे जीवन के लक्ष्य के विषय में ज्ञान प्राप्त किया। उस समय श्रील शुकदेव गोस्वामी ने सात दिवस के लिए श्रीमद भागवतम की शिक्षा परीक्षित महाराज को दी। श्रीमद भागवतम को सभी वेदों का सार बताया गया है, जिसमे आत्मा, परमात्मा, भौतिक जगत, आध्यात्मिक जगत, जन्म-मृत्यु के चक्र से मुक्ति का मार्ग, ईश्वर के अनेक मार्ग, स्वयं भगवान् श्री कृष्ण की अद्भुत लीलाओं एवं अन्य कई विषयों का विस्तार से वर्णन किया गया है। इसी श्रीमद भागवतम का विस्तार रूप से देश विदेश में प्रचार प्रसार

Read More

इस्कॉन वृंदावन श्रीमद् भगवतम

Devotional|Hindi|72 Episodes
Like
share
like

About Show

भगवान् श्री कृष्णा की असीम कृपा से ना केवल हमे यह बहुमूल्य मनुष्य जीवन प्राप्त हुआ है, जिसका एकमात्र लक्ष्य जीवन एवं मृत्यु के कुचक्र में से निकलना है, अपितु हमे भारत जैसे आध्यात्म में उत्कृष्ट देश में निवास प्राप्त हुआ है, जहां के वेद शास्त्रों में जीवन के लक्ष्य को प्राप्त करने का साधन बताया गया है और जहां सभी लोगो को यह ज्ञान है कि यदि कोई अपने वास्तविक ज्ञान का अभिलाषी है तो उसे योग्य गुरु की शरण लेने की आवश्यकता है, जिस प्रकार महाराज परीक्षित ने अपनी मृत्यु को निकट आता देख श्रील शुकदेव गोस्वामी के श्री चरणों में आश्रय लिया एवं उनसे जीवन के लक्ष्य के विषय में ज्ञान प्राप्त किया। उस समय श्रील शुकदेव गोस्वामी ने सात दिवस के लिए श्रीमद भागवतम की शिक्षा परीक्षित महाराज को दी। श्रीमद भागवतम को सभी वेदों का सार बताया गया है, जिसमे आत्मा, परमात्मा, भौतिक जगत, आध्यात्मिक जगत, जन्म-मृत्यु के चक्र से मुक्ति का मार्ग, ईश्वर के अनेक मार्ग, स्वयं भगवान् श्री कृष्ण की अद्भुत लीलाओं एवं अन्य कई विषयों का विस्तार से वर्णन किया गया है। इसी श्रीमद भागवतम का विस्तार रूप से देश विदेश में प्रचार प्रसार

....Loading

You may also like

Picture of the author

S1E1: D'Evil

play
Picture of the author

सुन्दरकाण्ड

play
Picture of the author

ॐ નમઃ શિવાય - ધૂન

play
Picture of the author

हिरण्यकश्यप की तपस्या

play
Picture of the author

Orchha: A Peep Into Bundela Majesty!

play
Picture of the author

SIDDHHAKUNJIKA STOTRA WITH ARTH

play