गिल्बर्ट नर्सिंग होम के बाद अब प्रोफेसर अग्नीस्वरूप आपके लिये एक और खतरनाक केस लेकर आये हैं। यह केस है मुंबई के डीसूजा चॉल का। मुंबई के माहिम कि डीसूजा चॉल तब से प्रख्यात हुई, जब से वहाँ पर अजीबो-गरीब और डरावने किस्से होने की बात सामने आने लगी। ऐसे किस्से जो चॉल में रहने वाले कुछ लोगों की मौत का कारण बने। मुंबईकरों और खासतौर पर माहिम वासियों के लिए यह बहुत चौका देने वाली बात थी। इन घटनाओं के बाद मानो डीसूजा चॉल खाली हो गई। अब वहाँ कोई नहीं रहता। लेकिन कहा जाता है कि आज भी वहाँ रात में डरावनी चीजें होती है। आइये सुनते हैं डीसूजा चॉल की यह कहानी प्रोफ़ेसर अग्नीस्वरूप की ज़ुबानी।