एक देश की आर्थिक और सामाजिक प्रगति के लिए महिलाओं और पुरुषों, दोनों के एक सामान योगदान की ज़रूरत होती है। लेकिन आज भी कई कंपनियां अपने ऑफ़िस में महिलाओं के महत्व को नज़रअंदाज़ कर देती है। किसी भी कंपनी की सफलता और मुनाफ़े के लिए यह ज़रुरी है कि वह अपने पास उपलब्ध सभी बेहतरीन रेसोर्सेज़ का बेहतरीन उपयोग करें। क्या आपको लगता है कि आपकी कंपनी इन सभी रेसोर्सेज़ और पुरुष और महिलाओं की क्षमता का समान तौर पर अच्छे से इस्तेमाल कर रही है ?

ऑफ़िस में विविधता का लाभ उठाएं

एक लेख के अनुसार, सबसे ज़्यादा महिला एम्प्लॉईज़ वाले ‘फॉर्च्यून’ की 500 कंपनियों का आर्थिक रूप से प्रदर्शन उन सब कंपनियों के मुकाबले बेहतर है जिन कंपनियों में महिला एम्प्लॉईज़ की गिनती कम है।

Image Credit: Unsplash.com

अब तक ऐसे कई रिसर्च सामने आए जिनमे यह साबित किया गया है कि एक पुरुष प्रधान ऑफ़िस के मुकाबले एक ऐसा ऑफ़िस ज़्यादा सफ़ल होता है, जहां पुरुषों और महिलाओं को सामान अवसर दिए जाते हैं। एक जेंडर-डाइवर्स ऑफ़िस में काम करना ज़्यादा आसान और बेहतर होता है। साथ ही एक कंपनी अपना सबसे अच्छा प्रदर्शन तब दे सकती है जब हर प्रकार के एम्प्लॉई की एनर्जी एक साथ आकर काम करती है। अन्यथा, कंपनी हमेशा उन योगदानों से वंचित रह जाती है, जो एक महिला कर्मचारी कंपनी को प्रदान कर सकती है।

एक बेहतर वर्क कल्चर

किसी भी कंपनी की सफलता कई हद तक उसके वर्क कल्चर पर निर्भर करती है। आज कल ज़्यादातर एम्प्लॉईज़ नौकरी शुरू करने से पहले उस कंपनी के वर्क कल्चर को अच्छे से समझने की कोशिश करते हैं। इसलिए, यदि आप अपनी कंपनी के लिए बेहतरीन एम्प्लॉईज़ चाहते हैं, तो पहले आपको उन्हें अपने वर्क कल्चर से इम्प्रेस करना चाहिए। एक अच्छा वर्क कल्चर, ऑफ़िस में दोनों, पुरुष और महिला एम्प्लॉईज़ के सामान योगदान से बनता है। महिलाएं अपनी सकारात्मक सोच और विभिन्न स्किल्स के साथ ऑफ़िस में एक नए प्रकार की एनर्जी लेकर आती है और ऑफ़िस के वर्क कल्चर को बेहतर बनाती है।

ऑफ़िस में ज़्यादा महिला एम्प्लॉईज़ होने का मतलब है पुरुषों और महिलाओं दोनों के काम को एक सकारात्मक परिणाम मिलना।

महिलाओं के विभिन्न टैलेंट्स का लाभ उठाएं

टैलेंटेड महिलाओं को नज़रअंदाज़ करने का मतलब है कि आप अपनी कंपनी की आनेवाली सफलता को नज़रअंदाज़ कर रहे हैं

Image Credit: Unsplash.com

कंपनी की ज़िम्मेदारियों को निभा सके ऐसे दमदार टैलेंट को चुनना किसी के लिए भी काफी मुश्किल होता है। ऐसे में क्यों ना इस प्रकार के टैलेंटेड एम्प्लॉईज़ के लिए जॉब के अवसरों को बढ़ाया जाएं? हमे यकीन है कि आप भी एक ऐसी कंपनी बनाना चाहेंगे जहां जेंडर डाइवर्सिटी की बदौलत आप की कंपनी ज़्यादा मुनाफ़ा कमाएं, ना की टैलेंटेड एम्प्लॉईज़ की कमी के कारण अपने काम में असफल रह जाएं। किसी भी कंपनी को चलाने के लिए टैलेंटेड एम्प्लॉईज़ की बहुत ज़रूरत होती है। ऐसे में आपको टैलेंटेड और सक्षम महिला एम्प्लॉईज़ को नज़रअंदाज़ कर अपनी कंपनी की सफलता को नहीं रोकना चाहिए।

हमे यकीन है कि अब आपको पता चल गया होगा कि किसी भी ऑफ़िस में महिला एम्प्लॉईज़ का योगदान ज़रूरी क्यों होता है और अगर आपका ऑफ़िस पहले से ही महिलाओं को पुरुष के समान अवसर देता है तो यह बहुत अच्छी बात है।