हम सभी एक ऐसी दुनिया का हिस्सा हैं जहां हम कोई किसी ना किसी तरह आपका लाभ उठा लेना चाहता है। अगर आप में से किसी ने क्रिएटिव प्रोफेशन चुन रखा हैं, तो आपको बहुत सावधानी बरतनी होगी। क्रिएटिव यानी रचनात्मक प्रोफेशन में होते हुए, आपको बहुत सारे ऐसे प्रोजेक्ट्स के प्रस्ताव आएंगे, जहां आपको मुफ्त में काम करने के लिए अनुरोध किया जाएगा। इन सभी प्रस्तावों के बदले में वह आपको बेहतर मंच और ‘एक्सपोज़र’ देने की बात भी करेंगे। दरअसल, अपने काम और नाम को आगे बढ़ाने के लिए आपको इन में से कुछ प्रस्ताव को मान कर उसके लिए काम करना होगा। हो सकता है कि आपको शुरुआत में शायद मुफ्त में काम करना पड़े। लेकिन ज़रुरी है कि आपको लाभकारी प्रस्तावों और समय की बर्बादी वाले प्रस्ताव के बीच का अंतर पता हो। आइये जानते है कि मुफ्त में काम आपको कब और क्यों करना चाहिए।

अपनी क्षमता साबित करना

Demonstrating-Your-Ability-500x360
आपका कौशल दिखाने का उचित समय

Image Credit: Unsplash

किसी काम के लिए अपनी कला या स्किल के प्रदर्शन का मतलब यह नहीं है कि आप लंबे समय तक मुफ्त में काम कर रहे है। अपने करियर की शुरुआत में इस तरह से अपने कौशल और प्रतिभाओं का प्रदर्शन करना लाभकारी होता है। कई बार क्लाइंट्स की मांग पर हमें उनके लिए मुफ्त में एक सैंपल जॉब करना पड़ता है। ऐसी परिस्थिति में ज़रुरी है कि आप अपना काम पूरी समझदारी के साथ करें, जिससे आपकी बात आगे बढ़ जाए, नहीं तो मुफ्त में किया गया सैंपल जॉब भी आपके लिए किसी काम का नहीं होगा। आपको शुरुआत में छोटे छोटे प्रोजेक्ट्स पर मुफ्त में भी करना पड़ेगा ताकि आप अपनी प्रतिभाओं और कलाओं का प्रदर्शन कर सकें। लेकिन कुछ सालों के अनुभव के बाद आपको फ्री में काम करना है या नहीं, इस बात का निर्णय काफी सोच समझ कर लेना चाहिए।

अवसर जो आपको और आपके काम को बढ़ावा देते हैं

Opportunities-That-Promote-You-Your-Brand-500x360
ब्रांडिंग और नेटवर्किंग फ्रीलांसिंग के लिए महत्वपूर्ण हैं।

Image Credit: Pixabay

अपनी प्रोफेशनल लाइफ के भविष्य के बारे में सोच कर रखना बेहतर होता है। आपको ऐसे अवसर बहुत कम मिलेंगे जहां आपको पैसे नहीं मिल पाएंगे लेकिन बड़े पैमाने पर अपना काम प्रस्तुत करने का मौका मिलेगा। ऐसे प्रस्ताव का हमेशा स्वीकार करें क्योंकि यह आपके लिए इस इंडस्ट्री में नेटवर्किंग का ज़रिया बन सकता है। इंडस्ट्री में जितना ज़्यादा आपका नेटवर्क होगा उतना ही ज़्यादा आपको काम मिलेगा। फ्रीलांसिग के दौरान यह बहुत मायने रखता है कि आपके कितने तरीकों का काम किया हुआ है।

दरअसल ‘एक्सपोज़र’ क्या है

Legitimate-Exposure-500x360
कांट्रेक्ट को अच्छी तरह से पढ़ लें।

Image Credit: Unsplash

‘एक्सपोजर’ शब्द का प्रयोग अक्सर फ्रीलांसर्स का फायदा उठाने के लिए किया जाता है। अपने काम के सम्बन्ध में ज़्यादा से ज़्यादा जानकारी हासिल करने की कोशिश करे और उसी के अनुसार अपने क्लाइंट्स से प्रश्न करें। जब भी एक्सपोज़र की बात हो तो जानने की कोशिश करे कि वास्तविक रूप से आपका काम कितने लोगों तक पहुँचने वाला है। इस बात पर भी ध्यान दें कि क्या यह काम आपका समय देने और मेहनत करने के योग्य है या नहीं। यदि आपको सच में लगता है कि इस फ्री जॉब से आपको आगे अच्छे अवसर मिल सकते हैं तो उस काम को ज़रूर कीजिये।

किसी नेक कारण के लिए

For-A-Cause-500x360
जिस चीज़ में आप विश्वास रखते हैं, उसके लिए काम करने में संकोच ना करें।

Image Credit: Pixabay

हर काम के लिए यह सोचना गलत होगा की आपको काम के बदले में क्या मिलने वाला है। अगर किसी N.G.O या सामाजिक संस्था को आपकी मदद की ज़रूरत है, तो उनकी मदद ज़रूर कीजिये। लेकिन ज़रूरत से ज़्यादा अपने आप उस काम के शामिल ना हो। यह सुनिश्चित कर ले कि वह काम आपके करियर के रास्ते में ना आए।

हमेशा याद रखें कि मुफ्त में काम करना आपके लिए कभी कभी ठीक है, लेकिन साथ ही यह देखना भी ज़रुरी है कि वह काम आपके समय और मेहनत के लायक होना चाहिए।