ज़्यादातर एम्प्लाईज़ को अपने ऑफिस के नियमों के बारे में पता नहीं होता है। यही कारण है वे कभी-कबार अनजाने में उन नियमों को तोड़कर मुश्किल में पड़ जाते हैं। साथ ही, कुछ एम्प्लॉईज़ ऐसे भी होते हैं जिन्हे ऑफिस के नियमों के बारे में पता ज़रूर होता है, लेकिन वे उसे महत्त्व नहीं देते हैं। क्या आप जानते हैं कि ऑफिस में किन नियमों का पालन करना अनिवार्य है ? आइये देखते हैं –

पर्सनल कॉल्स अटेंड ना करें

अपने घरवालों और दोस्तों से बात करने के लिए ऑफिस नहीं होती सही जगह

Image Credit: Pexels.com

हर किसी की पर्सनल लाइफ में 24 घंटे हलचल मची होती है। इसका मतलब यह नहीं है कि आप ऑफिस के समय में पर्सनल लाइफ की परेशानियों के बारे में फ़ोन पर चर्चा करें। ऑफिस में पर्सनल कॉल्स लेने से ना सिर्फ आपको शर्मिंदगी हो सकती है, बल्कि आपके कलीग्स का भी ध्यान भटक सकता है। यदि आप चाहते हैं कि ऐसा ना हो, तो काम के समय पर्सनल कॉल्स को अटेंड ना करें।

गॉसिप ना करें

यदि आप चाहते हैं कि आपकी छाप एक अच्छे और सुलझे हुए एम्प्लॉई की हो, तो कभी भी गॉसिप ना करें। ऑफिस में इधर की बात उधर करने से कलीग्स का भरोसा आप पर से उठ सकता है, वे आपको उनकी टीम से निकाल सकते हैं या फिर आपको एक अनएथिकल एम्प्लॉई समझकर आपके करैक्टर पर सवाल उठा सकते हैं। यदि आप इन सब से बचना चाहते हैं, तो गॉसिपिंग से दूर रहें।

अपने बॉस या किसी कलीग से फ़्लर्ट ना करें

यह ऑफिस का सबसे पहला रूल होता है जिसे एम्प्लॉईज़ अक्सर अनदेखा कर देते हैं

Image Credit: Unsplash.com

ऑफिस में किसी कलीग या अपने बॉस के साथ फ़्लर्ट करना अच्छी बात नहीं होती है। बहुत सी कंपनियां फ्लर्टिंग जैसे इशू को गंभीरता से लेती हैं और ज़रूरत पड़ने पर उसके लिए कानूनी कारवाई भी करती है। ऐसा होने से आप पर मुसीबत आ सकते हैं। इसलिए ऑफिस में फ़्लर्ट करने से पहले दस बार सोचें।

ऐसे इमेल्स ना भेजें जिन्हे पढ़कर आपके बॉस को आपत्ति हो

आपके वाई-फाई प्रोवाइडर में ऑफिस के हर कंप्यूटर पर चलनेवाली चीज़ों की जानकारी होती है। इसलिए अगर आपको ऐसा लगता है कि अपने पर्सनल ईमेल का उपयोग करते हुए, कोई भी ईमेल भेज सकते हैं, तो यह गलत बात हैं। आपके द्वारा भेजे गए हर ईमेल की जानकारी ऑफिस के वाई-फाई प्रोवाइडर से मिल सकती है। इसलिए बेहतर यही है कि आप ऑफिस में किसी भी तरह के पर्सनल इमेल्स ना भेजें।

सोशल मीडिया का सही इस्तेमाल करें

अगर आप कंपनी के सोशल मीडिया मैनेजर हैं, तो उसका इस्तेमाल कंपनी के फायदे के लिए करें, ना की अपने। अक्सर ऑफिस में सोशल मीडिया एम्प्लॉईज़ को लोग कामचोर समझकर उनके काम पर भरोसा नहीं कर सकते। इसलिए अपने आलस को छोडें और काम पर ध्यान दें। कंपनी आपको सैलरी आपके काम के लिए देती हैं, ना की सोशल मीडिया पर सर्फिंग और गेमिंग के लिए।

ढंग के कपड़े पहने

अगर आप अच्छी तरह से तैयार होकर ऑफिस आते हैं तो दूसरे समझते हैं कि आप ऑफिस को महत्त्व देते हैं

Image Credit: Pexels.com

आज-कल लोग ऑफिस में अपने कलीग्स के साथ अच्छी तरह से घुलने-मिलने के लिए कैज़ुअल कपड़े पहनना पसंद करते हैं। लेकिन कैज़ुअल कपड़े पहनना का मतलब यह नहीं होता कि आप कुछ भी पहनकर आएं। आपको अपने ऑफिस के वातावरण के अनुसार ही सही और ठीक ढंग के कपड़े पहनने चाहिए। इससे दूसरे लोग भी आपकी ज़्यादा इज़्ज़त करते हैं।

इन सब बातों पर ध्यान दें और ऑफिस के सभी ज़रूरी नियमों का पालन करें।