बचपन से हम यह सुनते आ रहे है कि किसी भी काम को करने के लिए कड़ी मेहनत करना ज़रूरी है। इसीलिए कई बार अपने काम को मेहनत से और जल्दी से पूरा करने की चाह में हम यह देखना भूल जाते है कि क्या हम उस काम को सही रूप और ढंग से कर रहे हैं। कड़ी मेहनत के साथ-साथ इस बात का ध्यान रखना भी बहुत ज़रूरी है कि आप सही काम को सही ढंग से करें।

अधिकतर कम्पनीयों की सोच होती है कि अगर कोई कर्मचारी ज़्यादा घंटो के लिए ऑफ़िस में काम करता है तो वह एक बेहतर कर्मचारी है। हालांकि, सबसे ज़्यादा मायने रखता है तो वो है एक कर्मचारी के काम करने की क्षमता। यदि कोई कर्मचारी कम समय में भी अपने कार्य को पूरा करने में सक्षम है, तो एक समझदार बॉस को इस बात की शिकायत करने के बजाय कि वह कम घंटो के लिए काम क्यों करता है उससे प्रभावित होना चाहिए। दिन के अंत में एक कर्मचारी को हुई थकावट के आधार पर हम इस बात का अंदाज़ा नहीं लगा सकते कि उसने आज कितना सारा काम किया होगा। आज हम आपको बताएंगे कि आप एक स्मार्ट वर्कर कैसे बन सकते हैं!

पता करें कि आपने अपना समय कहाँ बर्बाद किया है

Find-Out-Where-You-Waste-Your-Time-500x360
टू-डू लिस्ट नंबर 1- अपने काम को टालना बंद करें

Image Credit: Unsplash
अपने पूरे दिन के कार्यक्रम की एक सूची बनाए और अब देखें कि ऐसे कौन से काम है जहां आप अपना थोड़ा समय बचा सकते है। यह कोई भी काम हो सकता है। यह समझने की भी कोशिश कीजिये की आप किसी कार्य को करते समय उसे टालने की कोशिश क्यों करते है। अपनी ख़ामियों की पहचान होते ही, आपको उनसे छुटकारा पाने के आवश्यक हल भी मिल जाएंगे। आपको खुद महसूस होगा कि आपकी काम करने की क्षमता कितनी बढ़ गयी है।

शॉर्ट टर्म टू डू लिस्ट

Short-Term-To-Do-Lists-500x360
पहले वर्तमान में हो रहे काम को पूरा करे फिर ही भविष्य के काम के बारे में सोचे

Image Credit: pixel
एक स्मार्ट वर्कर बनने के लिए आपके काम में वास्तविकता का होना आवश्यक है। इसलिए हमेशा टू-डू लिस्ट बनाते समय केवल अपने ‘आज के काम’ पर ध्यान दें। आपकी टू-डू लिस्ट में हमेशा केवल महत्वपूर्ण कार्यों का उल्लेख होना चाहिए । एक आदर्श टू-डू लिस्ट में कम समय में किये जाने वाले सबसे महत्वपूर्ण काम ही होने चाहिए।

स्व-मूल्यांकन बहुत ज़रुरी है।

Evaluate-Your-Methods-And-Be-Flexible-500x360
क्या खुद के काम में बदलाव लाने की ज़रुरत है

Image Credit: Unsplash
एक काम को करने के काफी अलग-अलग तरीके होते है । मूल्यांकन करें कि आपकी तकनीक अन्य ज्ञात तकनीकों से बेहतर कैसे हैं। अपनी कार्यकुशलता को बढ़ाने के लिए कदम उठाएं जैसे- दिनचर्या की लिस्ट बनाना, विचलित होने से बचना, थोड़ी थोड़ी देर में काम करने के बजाय एक ही समय में काम को पूरा खत्म कर देना आदि और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि अपने कार्य को सुधारने के लिए हमेशा तैयार रहें । नई चीजें आज़माते रहें और हमेशा रचनात्मक और कुछ नया करने की कोशिश करते रहें।

कड़ी मेहनत का कभी कोई विकल्प नहीं हो सकता और आप सभी इस बात तो ज़रुर मानते होंगे कि काम में सफलता पाने के लिए मेहनत करना बहुत ज़रुरी है। लेकिन आज के दौर में हार्ड वर्क के साथ साथ स्मार्ट वर्क की भूमिका को समझना भी ज़रुरी है। आज सब हमसे स्मार्ट हार्ड-वर्क की उम्मीद रखते हैं ।