ओवरटाइम काम करना बहुत अच्छी बात होती है, खासकर तब, जब आपको पैसों की ज़रूरत हो। जब आप अपने नियमित समय में कंपनी को मेहनत कर अपना काम करके देंगे, तो वो आपको उसका वेतन ज़रूर प्रदान करेंगे, लेकिन आपके अक्सर देखा गया है कि ओवरटाइम काम के लिए बहुत सी कम्पनियां भुगतान नहीं देती हैं।

ओवरटाइम काम करने का मतलब है कि आप अपने खाली समय में कंपनी के लिए काम कर रहे हैं। इसीलिए आपको निश्चित रूप से उसका भुगतान मिलना चाहिए। लेकिन कभी-कभी, कुछ कम्पनियां इस बात को एक कर्मचारी के नज़रिये से देखने में असफल हो जाती हैं।

हम आपसे कुछ ऐसी तरकीब शेयर करेंगे जिसका पालन कर आप बिना किसी हिचकिचाहट से अपने ओवरटाइम काम के लिए पैसे मांग सकते हैं:

आपका हक़ आपको मिलना ही चाहिए

हम सभी इस बात को मानते है कि अतिरिक्त समय के लिए काम करने पर आपको निश्चित रूप से अतिरिक्त तनख्वाह मिलनी चाहिए, इसीलिए अगर आप चाहे तो दिल खोलकर अपने बॉस के सामने अपने पैसों की मांग कर सकते हैं। ऐसी स्थिति में घुमा फिरा कर बात करना ठीक नहीं है। इसलिए ओवरटाइम शिफ्ट शुरू होने से पहले ही अपने बॉस से बात करना बेहतर होता है। हो सकता है कि आपका बॉस यह बात पसंद ना करे, लेकिन याद रखें कि आप काम कर रहे हैं और इसके लिए वेतन मिलना आपका हक़ है।

पहले अपनी सैलरी चेक करें और फिर तय करें

Check Your Salary And Then Decide-500x360
पहले अपनी तनख्वाह की जांच करें और फिर अतिरिक्त तनख्वाह के लिए बात करें

Image Credit: financialexpress.com

यदि आपको अपने बॉस से पूछने में थोड़ा अजीब लग रहा है, तो महीने का अंत में जब आपकी तनख्वाह आती है, तब सबसे पहले वो देख लें। यदि आपको लगता है कि आपको आपके काम के मुकाबले उतने पैसे नहीं दिए गए हैं, तो फिर सीधा जाकर अपने बॉस से बात करें। ईमानदारी से दिल खोलकर अपना पक्ष सामने रखें। इससे आप दोनों को एक दूसरे के विचार को समझने में आसानी होगी। इसलिए सबसे पहले यह सुनिश्चित करें कि आपको तनख्वाह बराबर मिली है या नहीं और फिर ही कोई कदम उठाएं।

ऑफ़िस में सबसे एक अच्छा सम्बन्ध बनाएं

अगर आप उन लोगों में से है, जिन्हें लोगों से बात करने में थोड़ी हिचकिचाहत होती है तो कोशिश करें कि अपने बॉस के साथ शुरुआत से ही अच्छे सम्बन्ध बनाने की कोशिश करें। यदि आप अपने बॉस के साथ सही तरीके से और तहज़ीब से बात करते हैं, तो संभावना है, वह आपके बिना पूछे ही आपकी तनख्वाह बढ़ा दे। तो हुई ना यह समझदारी वाली बात।

शिकायत करें

अगर आपको लगता है कि आपको लम्बे समय से ओवरटाइम का पैसा नहीं दिया गया, तो आप इसके खिलाफ आवाज़ उठा सकते हैं। आपकी मेहनत का भुगतान ज़रुर होना चाहिए। इसलिए यदि कंपनी ने आपसे अतिरिक्त तनख्वाह का वादा किया है, तो उन्हें आपको वो देनी ही पड़ेगी।

यदि आपने ओवरटाइम काम किया है तो आपको उस परिश्रम का फल ना मिले, ऐसा हो ही नहीं सकता। आपका कभी कोई काम अधूरा रह जाता है तो कभी ऑफिस में कोई आपातकालीन स्थिति पैदा हो जाती है, इन सभी स्थितियों में आपका ऑफ़िस के बाद कुछ और समय के लिए रुकना अनिवार्य बन जाता है। ऐसे समय में एक कर्मचारी को उसके ओवरटाइम के लिए भुगतान करना किसी भी कम्पनी के लिए महत्वपूर्ण है। यह प्रत्येक कर्मचारी के जोश को बनाए रखने में मदद करता है क्योंकि वे जानते है कंपनी उनकी इस मेहनत का इनाम ज़रूर देगी।