किसी भी काम को पूरी लगन के साथ तब किया जा सकता है, जब आपको आपके काम के मुताबिक सैलरी मिल रही हो। यदि ऐसा नहीं होता, तो आप आधे मन से काम करते हैं। लेकिन ये बात भी आप पर लागू होती है कि आपका एक्सपीरियंस उस काम को लेकर कितना है। लेकिन यदि एक्सपीरियंस होने के बाद भी आपकी सैलरी कम है, तो आपको इन टिप्स का इस्तेमाल ज़रूर करना चाहिए। इन टिप्स की मदद से आप अपनी सैलरी को बढ़ा सकते हैं। आइये जानते हैं कैसे।

नेगोशिएट करना सीखें

ध्यान रखें कि आपके काम में वो बात होनी चाहिए, जिससे आप सैलरी बढ़ाने की डिमांड कर सकें

जब भी आप बॉस के साथ प्रमोशन की बात करते हैं, तो उस दौरान आपको नेगोशिएट करना ज़रूरी होता है। लेकिन इस मीटिंग के दौरान आपको कुछ बातों का ख़याल रखना होगा। बॉस के केबिन में जाते ही यह ना कहें कि आप सैलरी के लिए बात करने आए हैं। पहले अपने काम को लेकर बॉस से बात करें और बाद में उन्हें बताएं कि आपको सैलरी हाइक की ज़रुरत है। लेकिन ध्यान रखें कि आपके काम में वो बात होनी चाहिए, जिससे आप सैलरी बढ़ाने की डिमांड कर सकें।

बने कंपनी के चहीते

मुंबई की एक जानीमानी कंपनी में एचआर एक्ज़ीक्युटिव रौशनी दवे कहती हैं कि आपकी बात कंपनी में तब मानी जाती है, जब वो आपके काम को जानती हो। इसलिए कंपनी में आपका काम ऐसा होना चाहिए, जिससे आप कंपनी की ज़रुरत बन जाएं। यदि आप अपने स्किल्स को निखारते हैं और ऑल राउंडर के तौर पर लोग आपको देखते हैं, तो ध्यान रखें कि कोई भी कंपनी आपको जाने देना नहीं चाहेगी। इसलिए आप ज़रुरत पड़ने पर जब सैलरी हाइक की मांग करेंगे, तो आपको बॉस मना नहीं कर पाएगा।

अपने काम को पहचाने

ध्यान रखें कि आप जितना काम करते हैं, उसकी कीमत मार्केट में कितनी है

कुछ लोग ऐसे होते हैं, जिनका काम अच्छा होने के बावजूद वे खुद पर भरोसा नहीं करते। इसलिए कंपनी भी उनके काम को अनदेखा कर देती है। इसलिए जब सैलरी बढ़ाने की बात आए, तो खुद की कीमत आपको पता होनी चाहिए। ध्यान रखें कि आप जितना काम करते हैं, उसकी कीमत मार्केट में कितनी है। इस बात को ध्यान में रखते हुए बॉस के सामने डिमांड रखें।

नज़रअंदाज़ ना हो आपका काम

अक्सर लोग काम तो करते हैं, लेकिन वे हमेशा परदे के पीछे रहना पसंद करते हैं। ऐसे में उनका काम लोगों और बॉस के सामने दिखाई नहीं देता, जिससे जब ज़रुरत पड़ती है, तब उनकी बात पर बॉस विश्वास नहीं कर पाते। इसलिए हमेशा अपने काम को लोगों के सामने आने दें। यहां तक कि आपकी वजह से कंपनी को होनेवाले फायदों के बारे में बॉस से बात करें और उन्हें अपनी ग्रोथ से अवगत करवाएं। इससे जब सैलरी बढ़ाने का मौका आएगा, तो बॉस आपको भूलेंगे नहीं।

यदि आप इन टिप्स को अपनाते हैं, तो आपकी सैलरी में ग्रोथ ज़रूर होगी।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..