‘बॉस’, यह शब्द सुनने में ही कितना अप्रिय लगता है। यह शब्द सुनते ही ना जाने क्यों हम सब के अंदर एक डर सा बैठ जाता है। क्या कभी बॉस भी हमारे दोस्तों की तरह हो सकता है ? सुनने में थोड़ा अजीब लगता है लेकिन ऐसा मुमकिन है। क्या पता कि जिस बॉस के अंडर आप काम कर रहे हैं, वो आपका कोई पुराना दोस्त हो ? या आज भी वह आपका अच्छा दोस्त हो तो ? क्या तब भी आपको ‘बॉस’ से डर लगेगा। खैर, यह तो समय समय पर निर्भर करता है। एक अच्छा दोस्त कभी भी आपको नीचा महसूस नहीं करवाएगा, लेकिन अगर आपका दोस्त थोड़ा सख्त मिजाज़ का है, तो कार्यस्थल पर आपको उससे अपनी दोस्ती के बारे में पुनः विचार करना पड़ सकता है।

अपने दोस्त को अपने बॉस के रूप में पाने के फायदे और नुकसान दोनों हो सकते हैं। जैसे

सबसे पहले बात करते हैं फ़ायदों की

Image Credit: shutterstock

  • अगर बॉस ही आपका सबसे अच्छा दोस्त बन जाए तो आपका ऑफिस और बेहतरीन बन जाएगा
  • आपका अपने बॉस के साथ सबसे अच्छा तालमेल होगा, क्योंकि हो सकता है शायद आप उन्हें तब से जानते हो जब आप दोनों अपने डायपर पहना करते थे। हां, यदि बॉस आपका बचपन का अच्छा दोस्त हो तो आपको सचमुच ऑफ़िस में बॉस के रूप में एक दोस्त मिल जाएगा ।
  • अगर बॉस ही आपका दोस्त हो तो ऑफ़िस में अकेलेपन के लिए जगह ही नहीं बचती । कभी अगर अकेला महसूस हो भी, तो बिंदास उसकी केबिन में घुस जाइए और गपशप का सिलसिला शुरू कर दीजिए।
  • ऑफिस में दूसरे सभी कर्मचारियों के मुकाबले आप अपने आप को श्रेष्ठ मानेंगे क्योंकि बॉस आपका दोस्त जो है। हो सकता है कि ऑफ़िस में वो आपका पक्ष लें। इसीलिए भले ही आप बोरिंग और असहनीय हो, लेकिन फिर भी अन्य कर्मचारी आपके साथ बातचीत और दोस्ती बढ़ाने की कोशिश करेंगे। जीत तो दोनों तरफ से आप ही की होगी।
  • कितनी अच्छी बात होगी अगर बॉस द्वारा पूरे ऑफ़िस में सिर्फ आपको ही पसंद किया जाए ? कितनी ख़ुशी की बात होगी अगर बॉस की शाबाशी और प्रशंसा बटोरने के लिए सिर्फ आप ही खड़े हो।

लेकिन जहां ढेरों फायदे हैं, वहीं इस बात के नुकसान भी कई है। अब बात करते हैं नुकसानों की


Image Credit: mylearningsolutions.org

  • बॉस के पसंदीदा होने के कारण, उनकी सारी गॉसिप का कारण आप ही बन जाएंगे
  • चूंकि बॉस आपको दूसरों के मुकाबले बेहतर जानता है, इसलिए दूसरों के मुकाबले वह काम की अपेक्षा आपसे ज़्यादा रखेगा। इस अपेक्षा को पूरा करते करते आप बहुत ज़्यादा थकावट महसूस करेंगे।
  • बॉस की तरफ से आपको मिल रही लगातार प्राथमिकता अन्य कर्मचारियों को आपके खिलाफ कर सकती है। संभावना है कि सभी कर्मचारी आपको नापसंद करने लगे, जिसके कारण आप ऑफिस में अकेला महसूस करने लगेंगे। ऐसी स्थिति में आपके बॉस के कारण आप अपने सहकर्मियों से दूर हो जाएंगे
  • आपका बॉस आपकी और उसकी मित्रता का सम्मान ना करते हुए आपको ऑफिस में नीचा दिखाने की कोशिश कर सकता है। इससे आपके काम पर गलत प्रभाव पड़ सकता है। कोई भी कर्मचारी यह नहीं बर्दाश्त कर सकता की काम पर उसकी छवि को हानि पहुंचे।
  • अपनी पुरानी मित्रता के कारण आपका बॉस आप पर हक़ जमाने की कोशिश करेगा जिसके चलते वह आपको अपने सहकर्मियों से घुलने-मिलने नहीं देगा।

आपकी मित्रता कितनी सच्ची है, वह तो आपको जांचने पर ही पता चलेगा। इसलिए, ऐसी स्थिति में आप और आपका बॉस अपने इस रिश्ते को और उससे जुड़े फायदे और नुकसान को कैसे संभालते है यह आप दोनों पर निर्भर करता है। हालांकि आपकी कोशिश यही रहनी चाहिए कि नौकरी के कारण आप दोनों की दोस्ती में किसी तरह की खटास ना पड़ जाए। आखिरकार, अगर ज़िन्दगी में सबसे ज़्यादा किसी चीज़ की ज़रूरत होती है, तो वो हैं हमारे दोस्त और उनकी दोस्ती!