ऑफिस हमारे एक ऐसे परिवार की तरह है, जहां हम रोज़ाना दिन का काफी लम्बा समय बिताते हैं। लेकिन जिस तरह हम अपने परिवारजनों के साथ खुलकर बातचीत करते हैं, वैसे हम ऑफ़िस में अपने कलीग्स के साथ बात नहीं कर सकते। ऑफ़िस में आपको एटिकेट्स फॉलो करने होते हैं, जिसमें आपको उठने-बैठने और बोलचाल के कुछ रूल्स फॉलो करने पड़ते हैं। इसलिए आपके लिए बेहद ज़रूरी हो जाता है कि आप ऑफिस में लोगों के साथ कैसा बर्ताव करते हैं। कई बार हम लोगों से बातचीत के दौरान इस बात का ख़्याल नहीं रख पाते कि हम क्या और कैसे बात कर रहे हैं। इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसे विषयों के बारे में बता रहे हैं, जिसे आपको ऑफिस में लोगों के साथ डिस्कस नहीं करना चाहिए।

राजनीति

राजनीति एक ऐसा विषय है, जिसे लेकर अलग-अलग लोगों का अलग-अलग मत हो सकता है। इसलिए हो सकता है कि किसी व्यक्ति विशेष को लेकर रखी गई आपकी राय आपके कलीग्स को अपमानित महसूस करवा सकती है। इसकी वजह से कई बार आपके वर्कप्लेस पर लोगों के साथ सम्बन्ध भी खराब हो सकते हैं और आपके इस बर्ताव का बदला लेने के लिए कोई आपके काम को निशाना बना सकता है। इसलिए बेहतर है कि आप राजनीति जैसे गंभीर विषय पर वर्कप्लेस पर डिस्कशन ना करें।

कई बार आपके वर्कप्लेस पर लोगों के साथ सम्बन्ध भी खराब हो सकते हैं

धर्म

जैसा कि हमने बताया, राजनीति एक ऐसा विषय है, जिसे लेकर आपके कलीग्स कई बार बुरा मान जाते हैं। लेकिन इससे भी गंभीर और जोखिम भरा विषय है धर्म। हर व्यक्ति अपने धर्म का पूरे मन से पालन करता है। ऐसे में यदि आप किसी धर्म पर विशेष टिप्पणी करते हैं, तो इसके लिए आपकी नौकरी भी जा सकती है। इस विषय पर ऑफिस का एचआर डिपार्टमेंट दखल दे सकता है और इसका असर आपके काम पर हो सकता है। इसलिए बेहतर है कि हर धर्म का सम्मान करते हुए ऐसे विषय पर ऑफिस में डिस्कशन से बचें।

हेल्थ इशूज़

आज कल के बढ़ते हुए स्ट्रेस को लेकर लोगों में स्वास्थ्य समस्याएं होना आम है, लेकिन यदि आप अपनी किसी समस्या को लेकर वर्कप्लेस पर बात करते हैं, तो कलीग्स इसका इस्तेमाल आपके खिलाफ कर सकते हैं। कई बार आपकी स्वास्थ्य समस्या से जुड़ी बातों को लोग बॉस के सामने तोड़ मरोड़कर पेश करने से नहीं कतराते, इसलिए अपने हेल्थ इशूज़ को लेकर वर्कप्लेस पर बात करने से बचें।

कई बार आपकी स्वास्थ्य समस्या से जुड़ी बातों को लोग बॉस के सामने तोड़ मरोड़कर पेश करने से नहीं कतराते

पर्सनल इशूज़

यदि आप ये समझते हैं कि आपकी निजी समस्याओं का हल ऑफ़िस के कलीग्स निकाल सकते हैं, तो आप गलत हैं। क्योंकि आपकी निजी समस्या को लेकर लोग आपको आंकने लगते हैं, जो आपके लिए अच्छा नहीं माना जाता। इससे आपके बारे लोगों के बीच नेगेटिव धारणा बनती है और इससे लोग आपसे बिना कारण बुरा व्यवहार कर सकते हैं। इसका सबसे पहला असर आपकी प्रोडक्टिविटी पर पड़ता है और बाद में आपकी मानसिक स्थिति पर। इसलिए अपने परिवार या रिलेशनशिप को लेकर कलीग्स के सामने चर्चा करने से बचें।

गॉसिप

यदि आप अपने बॉस से नाखुश हैं, तो आपको इसे सॉल्व करने के लिए अपने बॉस से सीधे तौर पर बात करनी चाहिए। यदि आप कलीग्स के साथ बॉस को लेकर गलत बातें करते हैं, तो इसका इस्तेमाल आपके खिलाफ कभी भी किया जा सकता है। आपके कलीग्स आपकी कही हुई बातों को बॉस के सामने गलत रूप में पेश कर सकते हैं, जिसकी वजह से आपके काम को काफी नुकसान पहुंचता है। साथ ही अपनी सैलरी या इंक्रीमेंट को लेकर ऑफिस कलीग्स से चर्चा नहीं करनी चाहिए। ऐसा करने से लोग आपकी ग्रोथ में बाधा डाल सकते हैं और आपके काम के दौरान कई चुनौतियां खड़ी हो सकती हैं।

बेहतर है कि आप इन टिप्स को अपनाएं और इन विषयों को ऑफिस प्लेस में डिस्कस करने से बचें।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..