हमें अपने करियर के दौरान कई उतार-चढ़ाव देखने पड़ते हैं और इस दौरान हमारी भलाई के लिए हमें कई फैसले लेने पड़ते हैं, जो हमारा भविष्य तय करते हैं। ऐसे कई मौके आते हैं, जब हम दो राहों पर खड़े रहते हैं और फैसला लेना हमारे लिए मुश्किल हो जाता है। यदि आप कभी ऐसी स्थिति में पड़ जाएं, जब आपको कम समय में एक अच्छा और फायदेमंद फैसला लेना हो, तो इन बातों का ख़्याल ज़रूर रखें। आइये जानते हैं कम समय में सही फैसला कैसे लें।

हर पहलू को सोचें

हर फैसले के दो पहलू होते हैं, जिसमें नेगेटिव और पॉजिटिव दोनों बातें होती हैं

सही फैसला लेने की क्षमता यदि हम में हो, तो आत्मविश्वास अपने आप आ जाता है। यही आत्मविश्वास हमें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है। लेकिन कोई फैसला लेने से पहले उससे जुड़े हुए हर पहलू के बारे में सोचना बेहद ज़रूरी है। हर फैसले के दो पहलू होते हैं, जिसमें नेगेटिव और पॉजिटिव दोनों बातें होती हैं। इसीलिए दोनों पहलुओं पर अच्छी तरह से सोच विचार कर लें। अगर इस फैसले की वजह से आने वाली समस्या से आप वाकिफ नहीं है, तो आपको उस फैसले का चुनाव नहीं करना चाहिए।ऐसी स्थिति में दूसरा कोई रास्ता निकालें, जिसमें आपको कम नुकसान और ज्यादा फायदा हो।

इमोशन्स पर रखें काबू

भावनाएं, जहां एक ओर हमें मज़बूत बनाती है, उसी तरह यही भावनाएं हमें कठोर फैसले लेने नहीं देती। फैसले लेते समय इमोशन्स पर काबू रखें और स्थिति में फायदे और नुकसान के बारे में पहले सोचें। फैसले लेते वक्त आपको अक्सर तनाव वाले माहौल से गुज़रना पड़ता है, ऐसे में भावनाओं को कंट्रोल करना आपके लिए बेहद ज़रूरी है। दिमाग से काम ले और दिल को समझाएं।

ना करें ज़रूरतों को नज़रअंदाज़

आपका फैसला इन ज़रूरतों को पूरा करने का दमखम रखता हो, तो उस फैसले के साथ जाएं

कोई भी फैसला लेने से पहले यह सोचना बेहद ज़रूरी है कि आपकी कुछ ज़रूरतें भी हैं। यदि आपका फैसला इन ज़रूरतों को पूरा करने का दमखम रखता हो, तो उस फैसले के साथ जाएं। यदि इसमें रिस्क ज्यादा और फायदा कम हो, तो उस फैसले के बारे में ठहरकर सोच लें। वैसे तो हर कोई इस दौर में आसमान की बुलंदियों को छूना चाहता है, लेकिन अपने हुनर पर विश्वास करते हुए आगे बढ़े और फैसला लेने से पहले रोज़मर्रा की ज़रूरतों को नज़रअंदाज़ ना करें।

प्लानिंग है ज़रूरी

कहते हैं कि जिसके पास भविष्य और कल एक अच्छी प्लानिंग हो, तो वह कभी फेल नहीं हो सकता। फैसले की घड़ी में यही प्लानिंग आपको आत्मविश्वास देती है। जब आपकी प्लानिंग सही हो, तो आप सही फैसला ले पाते है। इसीलिए कोई भी काम करने से पहले उसे लेकर प्लान ज़रूर बनाएं।

यदि आप कम समय में बेहतर फैसला लेना चाहते हैं, तो इन बातों का ख़्याल ज़रूर रखें।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..