जब आप 40 की उम्र पार कर लेते हैं, तो संभावना है कि आप या तो पहले से ही एक नौकरी पर बैठे हैं, जिससे आपको एक अच्छी तनख्वाह मिल जाती हैं या आप उस नौकरी को छोड़ कोई अन्य नौकरी करना चाहते हैं। 40 एक ऐसी उम्र है जिस उम्र में आकर नौकरी के बारे में आपकी मानसिकता और सोच बदलने लगती है। हम ना तो बहुत छोटे होते है और ना ही बहुत बूढ़े; बस एक जैसा काम कर बहुत थक चुके होते हैं।

अगर आप 40 साल की उम्र में काम को लेकर प्रयोग करना चाहते हैं, तो इससे बेहतर और कुछ नहीं हो सकता । लेकिन कई लोग 40 की उम्र में नए रोज़गार के बारे में सिर्फ इसलिए नहीं सोचते क्योंकि वह इस बारे में प्रचलित कई भ्रम को सच मानने लगते हैं। हां, इस बात को लेकर कुछ भ्रम ज़रुर हैं, जिन्हें आप निश्चित रूप से पहली बार में नज़रअंदाज़ नहीं कर सकते, लेकिन आखिरकार आपको इसे नज़रअंदाज़ करना ही पड़ेगा।

पहला भ्रम : “मैं वृद्ध और अयोग्य हूं”

1683f9e9-hunting-for-a-living-at-40-no-it-is-not-difficult-500x360_01
40 वर्ष की उम्र में आपको वृद्ध महसूस करने का कोई कारण नहीं है, क्योंकि आप अभी भी बहुत कुछ करने में सक्षम हैं

उम्र के बारे में फैला हुआ यह भ्रम सबसे मुख्य है। जब आप 40 वर्ष के होते हैं, तो आपके आस-पास के लोग आपको हतोत्साहित करते हैं, जिसकी वजह से आप डर जाते है। आप 40 वर्ष के हैं, लेकिन आपको ऐसा लगने लगता है कि आप 98 वर्ष के हैं और परिश्रम के लिए पूरी तरह से तैयार नहीं हो पाते, लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं है।

इस भ्रम के पीछे का सच –

आप सिर्फ 40 साल के हैं और खुद को एक ब्रेक दें। अभी भी आपके पास काम करने और अपने काम पर ध्यान देने के लिए पर्याप्त ताकत है। सच्चाई यह है कि 40 साल की उम्र के लोग टेंडर एज में काम करने वालों की तुलना में बेहतर काम करते हैं। इस उम्र तक आते आते आप को काम का ज़्यादा ज्ञान हो जाता है।

मिथ् : “मैं सीनियर हूँ”

चूंकि आप काम में बहुत से लोगों से सीनियर हैं, इसलिए आप अपने से कम उम्र के लोगों के साथ निचले स्तर के कर्मचारी के रूप में काम नहीं करना चाहेंगे। यह मिथ् आमतौर पर आपको आगे बढ़ने नहीं देता, इस सोच को बदलना ज़रुरी है।

सच –

आपका पद या फिर रैंक पूरी तरह से एक अलग विषय हो सकता है, लेकिन आपकी नौकरी के लिए आपका आत्मसंतोष सबसे महत्वपूर्ण है। ऐसा कुछ नहीं है ‘मैं अपने से छोटे लोगों की नहीं सुनूंगा’। आपको वो पद प्रदान दिया गया है क्योंकि आप उसके योग्य हैं, और वही उनपर भी यहीं लागू होता है, जो आपसे ऊंचे पद पर बैठे हो।

मिथ : “40 पर बदलाव आपका जीवन बर्बाद कर सकता है”

96d8bc80-hunting-for-a-living-at-40-no-it-is-not-difficult-500x360_02
40 साल की उम्र में भी आपके पास अपने सीखने के लिए बहुत कुछ है।

लोगों को लगता है कि 40 की उम्र में बदलाव करने से कुछ ऐसा होता है, जिससे अच्छा परिणाम नहीं मिलता। वे अपने दिल की बात कभी नहीं सुनते क्योंकि वे नकारात्मक विचारों और व्यर्थ की बातों से घिरे होते हैं। यह मिथ उन लोगों के लिए सब कुछ बहुत मुश्किल बना देता है जो वास्तव में अपने योग्य काम का पता लगाना चाहते है तथा प्रयोग करना चाहते हैं।

सच –

जो चतुर है, वो इस उम्र में भी लीक से हटकर कुछ करने में विश्वास रखते हैं। जब आप जानते हैं कि आपने अपने दिमाग को बहुत सी नकारात्मक बातें जोड़ ली है, तब बेहतर होगा कि आप खुद को थोड़ा बदलें। हर बार सुनी सुनाई बातें सच नहीं होती।

बेहतर होगा कि आप खाली ना बैठे और अपनी मौजूद परिस्थिति का ज़्यादा से ज़्यादा लाभ उठाए। आप पूरी तरह से पर्याप्त हैं और यदि आप 40 पर अपनी नौकरी बदलना चाहते हैं, तो इस बात में कोई बुराई नहीं। कई ऐसे पद है, जो आपका ही इंतज़ार कर रहे हैं।