काम में अक्सर ही ऐसा होता है कि कोई दिन हमारे लिए बहुत ही अच्छा जाता है और कोई दिन ऐसा होता है कि कुछ भी आपके मुताबिक़ ना हो रहा हो। लेकिन ऐसे ही कुछ और भी दिन होते हैं जो ना तो बहुत अच्छे और ना ही बहुत बुरे होते हैं, बस ऐसा लगता है कि कुछ ख़ास दिन नहीं था, और काम में भी कोई ख़ास मन नहीं लगा हो, या मज़ा नहीं आया।

जब ऐसा ही कोई दिन आपके काम में बाधा डाल रहा हो, तो कुछ ऐसा कर के देख सकते हैं।

आप चीज़ों को मूल्य दे रहे हैं


Priti Rathi Gupta
जानिये आप कैसे मूल्य बढ़ा रहे हैं

प्रीती राठी गुप्ता इश्का फ़िल्म्स की स्थापक हैं और आनंद राठी शेयर्स ऐंड स्टॉकब्रोकर्स की मैनेजिंग डिरेक्टर भी। उनका मानना है कि चाहे आप नौकरी कर रहे हैं या अपना कोई काम कर रहे हैं, अपने ग्राहक की ज़िन्दगी में मूल्य प्रदान करने से ज़्यादा अच्छा एहसास कोई नहीं हो सकता है। जब आपके काम या प्रॉडक्ट से किसी को फायदा हो सकता है, तो आपको ज़रूर अच्छा लगेगा।

छोटे छोटे लक्ष्य बनाइये

वैसे तो सब कहते हैं कि लक्ष्य हमेशा बड़ा होना चाहिए, पर कभी कभार, खुद को छोटे छोटे लक्ष्य देकर आप वहां जल्दी और आसानी से पहुंच सकते हैं। एक बड़ा लक्ष्य होना तो ज़रूरी है, पर वहां तक जल्दी पहुंचने में ऐसे भी मदद मिल सकती है।

चीज़ों को अलग नज़रिये से देखिये

प्रीती कहती हैं कि अगर आप खुद का बिज़नेस सम्भालते हैं तो मुश्किल के बाद वापस डट कर खड़े हो जाइये। अगर कोई काम ठीक से नहीं हुआ तो उसे करने का दूसरा तरीक़ा अपना कर देख सकते हैं। परेशानी के बाद जो जीत हासिल होती है उसका मज़ा ही कुछ और है।

एक टू-डू लिस्ट बनाइये

कागज़ पर एक टू-डू लिस्ट बना लीजिये और इसे अपने काम की जगह पर लगाइये ताकि आप इसे हमेशा देख सकें। जैसे ये चीज़ें होती जाएंगी वैसे वैसे इन्हें लिस्ट पर काट दीजिये। अपना लिस्ट पूरा होता हुआ देख कर आपको भी काम करने में उत्साह मिलेगा।

अपने सह-कर्मियों से बातचीत करते रहिये और काम के बीच में थोड़ा ब्रेक लेना मत भूलिए।