छुट्टियों पर जाना हम सबका ड्रीम है। हालांकि, आज के बदलते कॉर्पोरेट कल्चर में काम का प्रेशर कुछ ऐसा रहता है कि चाहकर भी हम में से अधिकांश लोग छुट्टियों पर या तो जा नहीं पाते या उसे ठीक ढंग से एन्जॉय नहीं कर पाते। हालांकि, हम चाहते हैं कि आप ना सिर्फ छुट्टियों पर जाएं बल्कि इसे भरपूर एन्जॉय भी करें। अब सवाल उठता है कि भले ही छुट्टियों की प्लानिंग हमने कर ली है लेकिन हमारे एब्सेंस में काम कैसे मैनेज हो ? और हमें कैसे प्लान करना चाहिए ताकि छुट्टियों का टेंशन फ्री होकर भरपूर आनंद लिया जा सके ? तो इस आर्टिकल से माध्यम से इन सभी सवालों का जवाब हम देने की कोशिश करेंगे।

एडवांस प्लानिंग

आप छुट्टियों का भरपूर आनंद लेना चाहते हैं तो अपने सभी कामों को एडवांस में पूरा करना शुरू कर दीजिये। इससे आपको डबल फायदा होगा, पहला यह कि आप चिंता मुक्त हो जाएंगे और दूसरा यह कि आपके ऊपर लास्ट मिनट में काम को ख़त्म करने को लेकर कोई दबाव नहीं रहेगा। छुट्टियों पर जाने से कुछ दिन पहले ही इस स्ट्रेटजी को अपनाइए और छुट्टियों के दौरान आपने सभी वर्क कमिटमेंट्स को पहले ही क्लाइंट्स को हैंड ओवर कर दीजिये, ताकि छुट्टियों के दौरान आप बिना किसी टेंशन के फुल एन्जॉय कर सकें।

प्रायोरिटी तय करें

छुट्टियों पर जाने से पहले यह तय करना बेहद ज़रूरी है कि कौन सा काम पहले ख़त्म किया जाए और किसे बाद में। इसलिए आप जब भी छुट्टियों पर जाने का मन बना रहे हों तो सबसे पहले ऐसे सभी काम जिनकी प्रायोरिटी सबसे ज्यादा है उन्हें सबसे पहले ख़त्म करने की कोशिश करें।

ऑफिस से लंबी छुट्टी लेने से पहले करें ये काम

किसी और को सौंपें जिम्मेदारी
किसी और को सौंपें जिम्मेदारी

रिप्लेसमेंट तलाशें

यदि कोई ऐसा काम है जिसे आप एडवांस में पूरा नहीं कर सकते तो उसके लिए टीम को अपना रिप्लेसमेंट सुझाएं। क्योंकि आपकी एब्सेंस में भी कुछ ना कुछ ऐसा काम होगा ही जिसे आप पहले से (एडवांस) पूरा करके नहीं दे सकते। ऐसे में जिस समय आप छुट्टियों पर जाएं अपने हिस्से का काम किसी जिम्मेदार व्यक्ति को दे जाएं। इससे आप की छुट्टियों पर भी असर नहीं पड़ेगा और काम भी बेहतर ढंग से मैनेज हो जायेगा।

मैनेजर/एचआर को दें पूरी जानकारी

अपने रिपोर्टिंग मैनेजर और एचआर को एडवांस में छुट्टियों की डेट्स बता कर जाएं ताकि वह पहले से ही आपकी एब्सेंस को लेकर मेंटली प्रिपेयर्ड रहें। अपने मैनेजर को यह जानकारी देने से आपको एक और फायदा है कि एडवांस में ही यह डिसाइड हो जाएगा कि आपका काम कैसे मैनेज होने वाला है और कौन आपकी जगह इस दौरान डील करेगा। साथ ही आपके पास सबंधित व्यक्ति को अपना काम समझाने के लिए पर्याप्त समय भी होगा, जिससे इसके एरर फ्री होने के चांसेज बढ़ जाएंगे।

टीम को दें ब्रीफिंग, बनाएं टू डू लिस्ट

यदि आप किसी टीम को मैनेज करते हैं तो लंबी छुट्टियों पर जाने से पहले टीम को इसकी जानकारी देकर जाएं। साथ ही टीम में सभी अहम लोगों की ज़िम्मेदारी तय करें जिससे आपकी एब्सेंस में किसी भी प्रकार की समस्या उत्पन्न ना हो। टीम के प्रत्येक मेंबर के लिए एक टू डू लिस्ट बनाएं ताकि उसे पता रहे कि उसके पास क्या जिम्मेदारियां हैं साथ ही आप भी उसके काम को समय-समय पर ट्रैक कर सकें।

खुलकर अपनी बात रखें

आपने छुट्टियां प्लान की हुई है और इस दौरान आपके पास कोई नया टास्क आ जाए तो ऐसे में क्या करें ? इसका सबसे बेहतर रास्ता है कि आप खुलकर अपनी छुट्टियों की जानकारी मैनेजमेंट के सामने रखें और उन्हें यह भरोसा दिलाएं कि वापस आने के बाद सबसे पहले आप इस काम को ही प्रायोरिटी से डिलीवर करेंगे।

This is aawaz guest author account