जॉब ढूंढने का संघर्ष किसे कहते हैं, यह सभी नौजवान समझते हैं और पहला जॉब मिलने की ख़ुशी जैसी दुनिया में और कोई ख़ुशी नहीं है। ज़ाहिर सी बात है कि अपने लायक और पसंद की एक अच्छी जॉब ढूंढना कोई आसान काम नहीं होता है। एक फ्रेशर होने के नाते ऑफिस में अपनाए जानेवाले काम के सभी तौर-तरीकों को समझने में हर किसी को थोड़ा समय ज़रुर लगता है। हो सकता है शायद कॉलेज से निकलते ही आप को कोई नौकरी मिल जाए, खास बात है कि यह उम्र ऐसी होती है जहां आपके अंदर आज भी एक कॉलेज का स्टूडेंट छिपा हुआ होता हैं।

यदि आप एक फ्रेशर हैं और नौकरी की तलाश कर रहे हैं, तो आपको अपने कदम बहुत सावधानी से उठाने होंगे क्योंकि आपकी एक गलती भी आपके भविष्य में बाधा डालने के लिए काफी होगी। यदि आप एक फ्रेशर हैं, तो हमने आपके लिए कुछ ऐसी गलतियों की सूची बनाई है जो आपको भूल से भी अपने करियर में नहीं करनी चाहिए।

अपने रिज़्युमे के बारे में सावधानी बरतें

यदि आप अपने करियर को एक सही दिशा देना चाहते हैं तो यह सबसे महत्वपूर्ण कदम है। चूंकि आप एक फ्रेशर है और कॉलेज से अभी ही पास आउट आए हैं, तो ज़ाहिर सी बात है कि आपके पास काम का कोई अनुभव नहीं होगा, इसलिए ज़रूरी है कि आप अपने रिज़्युमे को आकर्षक बनाएं। आप जो काम कॉलेज में किया करते थे, जैसे, कॉलेज फेस्टिवल्स में हिस्सा लेना आदि, उसे आप अपने रिज़्युमे में शामिल कर सकते हैं।

अपनी महत्वाकांक्षा को पहचाने

बतौर फ्रेशर जब आप अपने करियर की शुरुआत करते हैं, तो एक चीज़ हमेशा याद रखें कि अपने सपनों को पूरा करने की ख्वाइश कभी ना छोड़े। जिस काम को करके आपके दोस्त सफलता पा रहे हैं, ऐसा ज़रूरी नहीं कि वही काम आपको भी सफलता देगा। आप उस क्षेत्र में अपना करियर बनाए और वो काम करें जिसमे आपकी रूचि हो, ना की वो जो आपके दोस्त कर रहे हैं।

आलसी मत बनिए

ऑफ़िस के समय आलस्य दर्शाने से न केवल आपकी छाप बुरी होगी, बल्कि आपकी प्रोडक्टिविटी पर भी असर पड़ेगा।

Image Credit: kinja-img.com

अपने करियर की शुरुआत में आलसी होना बहुत गलत बात होती है। सिर्फ इसलिए कि आप एक फ्रेशर है और अभी-अभी कॉलेज से अपनी पढ़ाई पूरी कर बाहर आए हैं, आपको कोई हक़ नहीं है कि आप ऑफ़िस में आलसी बनकर घूमे। एक और महत्व की बात है कि आपको अपनी पढ़ाई पूरी करने के साथ नौकरी ढूंढना शुरू कर देना चाहिए। आपके रिज्यूमे में एक-दो साल का ब्रेक भी आपके रिज्यूमे को कमज़ोर बनाता है। यदि आप अपने करियर में तेज़ी से आगे बढ़ना चाहते हैं तो अपनी पहली जॉब से ही अच्छे से काम करें और अपने आलस्य को दूर करें।

पैसे के पीछे मत भागिए

करियर की शुरुआत में आपको सैलरी के रूप में एक बड़ी राशि की उम्मीद नहीं करनी चाहिए। सही यही होगा कि आप एक अच्छी कंपनी में कम सैलरी के साथ ही शुरुआत करें क्योंकि इस तरह से आपको अधिक सीखने का और अपने क्षेत्र में निपुण होने का मौका मिलेगा। जब आपको अपने क्षेत्र में एक अनुभव मिल जाएगा तब खुद ब खुद आपकी सैलरी भी बढ़ेगी।

खुद को परखना सीखिए

आप फ्रेशर हैं इसका मतलब यह नहीं है कि आपको महत्व नहीं दिया जाएगा। अपनी क्षमताओं को समझकर उसे अपने रिज़्युमे में उतारे। अपने एम्प्लॉयर्स को यह दिखाएं कि आप महत्वाकांक्षी हैं, लेकिन सावधान रहें कि आप बहुत ज़्यादा महत्वाकांक्षी भी ना नज़र आएं।

यदि आप इन नियमों को ध्यान में रखते हुए काम करेंगे तो, एक फ्रेशर होने के संघर्ष को आप आराम से पार कर जाएंगे।