“आपकी तनख्वाह कितनी है?”

हो सकता है आपसे भी ये सवाल एच.आर. या इंटरव्यू देते वक़्त किसी ने पूछा होगा या फिर अगर आप ऑनलाइन अपना रेज़्यूमे डाल रहे हैं, तो शायद वहां आपको ये पूछा जाए।

लेकिन आपसे अगर कोई ये सवाल करता है, तो आपको क्या कहना चाहिए? क्या आपको अपनी तनख्वाह की पूरी जानकारी दे देनी चाहिए, या क्या आपको थोड़ा बढ़ा चढ़ा के झूठ बोलना चाहिए, जिससे आपको आगे ज़्यादा पैसे मिलें?

झूठ बोलने का सच

जब आप किसी नौकरी के लिए अपना रेज़्यूमे भेजते हैं, या इंटरव्यू के लिए जाते हैं, तो ये ज़रूरी नहीं है कि आप अपनी उस तनख्वाह का ज़िक्र करें, जो आपको अभी मिल रही है। ऐसा बहुत ही कम होता है कि कोई आपसे इस बारे में ज़्यादा कुछ पूछे। अक्सर ऐसे सवालों में आपको एक अनुमान ही बताने को कहा जाएगा, ना कि असली तनख्वाह।

Sumitro-Sircar_Communications-Head_Chal-Rang-De
“आपका झूठ अभी या बाद में पकड़ा जा सकता है, इसलिए परहेज़ करें”

सुमित्रो सरकार चल रंग दे नामक प्रॉजेक्ट में कम्यूनिकेशंज़ हेड के तौर पर काम करते हैं। उनका ये मानना है कि चाहे आप इंटरव्यू में अपनी तनख्वाह के बारे में बात कर रहे हैं या किसी और बारे में, झूठ बोलना ना केवल गलत होगा, बल्कि ये आसानी से पकड़ में भी आ सकता है। आप चाहे इसे कितना ही छुपाने की कोशिश करें, हो सकता है कि जो लोग आप का इंटरव्यू ले रहे हैं, वो इस बारे में दूसरों से मालूम करें। अगर उन्हें आपकी बात सच नहीं लगी तो वो आपसे इसका सबूत भी मांग सकते हैं।

स्मार्ट जवाब दें, ऐसे

पहली बात – जब तक आपसे तनख्वाह के बारे में ना पूछा जाए, उस बारे में खुद से बात मत कीजिये। दूसरी बात, जितना हो सके सच ही कहिये, पर थोड़ा समझदारी से। मसलन, आप अपनी तनख्वाह का एक अनुमान दे सकते हैं, बजाय इसके की पूरी जानकारी दे दें। अगर आपसे ये पूछा जाए कि आपको कितनी तनख्वाह की उम्मीद है, तो बिना अभी के तनख्वाह की बात करे भी आप जवाब दे सकते हैं।

सबसे अच्छा होगा अगर आप सच ही बोले, और अगर किसी वजह से आपको तनख्वाह के बारे में बताना पड़ा तो जवाब दें, पर उसके बाद ये भी साफ़ कर दीजिये कि अभी आपको इतना मिलता है, पर आप आगे इतनी (जो भी आप चाहते हैं) तनख्वाह की उम्मीद करते हैं।

जितना हो सके झूठ ना बोलें, क्योंकि एक बार ये सामने आ गया तो आपकी नौकरी को खतरा हो सकता है।