सिगरेट पीनेवालों के लिए जितना हानिकारक है, उससे कहीं ज्यादा हानिकारक बच्चों के लिए होती है। इसका धुआ बच्चों के कोमल फेफड़ों में जाकर बड़ी बीमारियों का सबब बन सकता है। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया में एक गांव ऐसा भी है, जहां बच्चों के लिए खुद उनके माता-पिता सिगरेट खरीदते हैं। ना केवल उनके लिए सिगरेट खरीदते हैं, बल्कि उन्हें सिगरेट पीने के लिए उत्साहित भी करते हैं। है ना चौकाने वाली बात? लेकिन यह पूरी तरह से सच है। आइए जानते हैं कहां है यह गांव।
क्या है असली वजह?
पुर्तगाल के एक गांव वेल दे सालगुरो में लोग ऐसी अजीबो-गरीब बातों को बढ़ावा देते हैं। यहां के लोग एक पुरानी प्रथा को मानने के दौरान खूब जमकर खाते पीते हैं और नशा करते हैं। इस प्रथा को किंग्स फीस्ट कहा जाता है।
इस दौरान लोग बोन फायर के चारों ओर गाते बजाते हैं

यह त्यौहार शुक्रवार को शुरू होता है और शनिवार तक धूमधाम से मनाया जाता है। इस दौरान लोग बोन फायर के चारों ओर गाते बजाते हैं और चयनित राजा को ढेर सारी शराब और खाने के का सामान देते हैं। ऐसा त्यौहार कुछ सालों में एक बार मनाया जाता है।

यही वह त्यौहार है, जहां लोग जमकर नशा करते हैं और अपने बच्चों को भी नशा करवाते हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि पुर्तगाल में तंबाकू खरीदने की न्यूनतम एज 18 साल है, लेकिन इसके बावजूद इस त्यौहार को मनाने के लिए कानून को लोग नजरअंदाज कर देते हैं और छोटे-छोटे बच्चों को ना सिर्फ सिगरेट के धुएं में डुबोते हैं, बल्कि उन्हें शराब के सेवन के लिए भी प्रोत्साहित करते हैं।
इस प्रथा को किंग्स फीस्ट कहा जाता है।
यदि आपको यह बात अजीब लगे, तो यह खबर पढ़कर आपको इसकी सच्चाई के बारे में पता चल जाएगा। यदि आप भी कभी पुर्तगाल जाने की प्लानिंग कर रहे हैं, तो इस गांव देखना आपके लिए दिलचस्प होगा।
मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..