ज़िंदगी को खुशहाल बनाए रखने के लिए ट्रैवल करना ज़रूरी होता है। ट्रेवल करने से ना सिर्फ आप अपने आप को बेहतर जान पाते हैं, बल्कि आपका तनाव भी कम होता है। अक्सर फिल्मों में ट्रेवलिंग और रोड ट्रिप पर बहुत कुछ दिखाया जाता है, लेकिन असल जिंदगी और फिल्म में बहुत फर्क होता है।

रोज़मर्रा के काम और ऑफ़िस की ज़िम्मेदारियों के बीच ट्रैवलिंग के लिए समय निकाल पाना सबके बस की बात नहीं होती। खास तौर पर जो लोग  ऑफ़िस जाते हैं, उनके लिए यह काफी मुश्किल हो जाता है। लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने वाले हैं, जिसे सुनने के बाद आप भी ट्रैवलिंग के लिए समय निकाल पाएंगे और छुट्टी पर जाने के लिए आपको छुट्टी लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

वीकेंड और पब्लिक छुट्टियों पर निकाले समय

अक्सर हम वीकेंड और पब्लिक छुट्टियों को ऐसे ही ज़ाया कर देते हैं। ज़रूरी है कि हम इन छुट्टियों से पहले अपनी ट्रिप प्लान करें और घूमने का यह मौका ना छोड़े। अगर वीक डेज़ पर आप ऑफ़िस में अपनी परफॉर्मेंस अच्छी रखेंगे, तो ऑफ़िस में एक-दो घंटे की देरी नज़र अंदाज़ की जाएगी और आप इस तरह पब्लिक हॉलिडे और वीकेंड का इस्तेमाल घूमने के लिए कर सकेंगे।

वर्क ट्रिप के लिए रहें तैयार

इससे बेहतर क्या होगा कि आप काम के साथ-साथ घूमने भी जा पाएं और इसके लिए आपको एक रुपया भी खर्च करने की जरूरत ना पड़े? ऐसा तभी हो सकता है जब आप वर्क ट्रिप पर जाने के लिए तैयार रहें। ऑफ़िस ट्रिप पर जाने के लिए कभी मना ना करें, जब बॉस आपसे काम के लिए ट्रैवलिंग के लिए पूछे तो अपनी रुचि ज़रूर बताएं। कई बार ऑफ़िस के वातावरण से बाहर निकल कर काम करना और नए लोगों से मिलना आपको बहुत कुछ सिखाता है।

काम के वक्त को करें बैलेंस

कई कंपनियों में ट्रेवल पसंद लोगों के लिए खास सुविधा दी जाती है। आप सप्ताह के दौरान एक्स्ट्रा काम करके भी वीकेंड पर ज़्यादा समय कंपनी से मांग सकते हैं। अगर आपकी कंपनी ऐसा नहीं चाहती, तो वीकेंड पर काम करके आप उन दिनों का कॉम्प ऑफ एक साथ ले सकते हैं, जिससे आप ट्रेवल भी कर पाएंगे और कंपनी के लोग आपसे नाराज़ भी नहीं होंगे।

नए काम की शुरुआत करने से पहले ही कर लें बात

जब आप नयी जॉब शुरू करते हैं तो कंपनी आपसे एचआर राउंड के दौरान आपके इंट्रेस्ट के बारे में पूछती हैं। उस दौरान आप ट्रैवलिंग के लिए अपने जुनून को उनके सामने रखिए, अगर  कंपनी को पहले से ही आपके ट्रेवलिंग इंट्रेस्ट के बारे मे पता होगा तो कंपनी आपके ट्रेवल प्लान के बीच रुकावट नहीं बनेगी।

घर के पास ढूंढें डेस्टिनेशन

यदि आप लंबे हॉलिडे के लिए समय नहीं निकाल पा रहे हैं, तो अपने शहर के आसपास एक दिन के सफर पर तो जा ही सकते हैं। घर के आस-पास मौजूद हॉलीडे स्पॉट्स की लिस्ट बनाएं और छुट्टियों के दिन वहां तक घूम कर आएं।

इन टिप्स को आज़मा कर आपको घूमने को तो मिलेगा ही, साथ ही आप को ऑफ़िस का काम के साथ भी कोम्प्रोमाईज़ नहीं करना पड़ेगा। इन टिप्स को अपना कर अब आप भी ट्रेवलिंग के लिए प्लान बना सकते है।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..