अक्सर लोगों को नदी की तेज़ धार के बीच राफ्टिंग करने का मज़ा आता है। अब तक भारत में ऋषिकेश को ही लोग राफ्टिंग के लिए चुनते आए थे, लेकिन अब भारत में एक और जगह ऐसी बन गई है, जहां आप जल्द ही रिवर राफ्टिंग का मज़ा ले पाएंगे। ये जगह और कहीं नहीं, बल्कि है स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी के करीब, जहां जल्द ही रिवर राफ्टिंग का लुत्फ़ लोग उठा पाएंगे। आइए जानते हैं कब और कैसे आप इसका हिस्सा बन सकते हैं।

अब पूरे साल लीजिए रिवर राफ्टिंग का मज़ा

हाल ही में गुजरात सरकार ने स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी के पास नर्मदा जिले के खलवानी क्षेत्र में रिवर राफ्टिंग का उद्घाटन किया है। खलवानी क्षेत्र नर्मदा नदी के पास सरदार सरोवर बांध के नज़दीक स्थित है, जहां से रिवर राफ्टिंग की शुरुआत की जाएगी। खलवानी से सरदार सरोवर बांध का पानी साल भर छोड़ा जाता है, जो करीब 600 क्यूसेक है। इस तरह बांध की वजह से पानी का प्रवाह साल भर राफ्टिंग के लिए उपयुक्त बना रहेगा, जिससे यहां साल के किसी भी वक्त रिवर राफ्टिंग का मज़ा लिया जा सकता है। कहा जा रहा है कि लोगों के लिए राफ्टिंग की ये सुविधा उत्तराखंड से आए विशेषज्ञों की मदद से बनाई गई है, जिसे अगले महीने 1 सितम्बर से लोगों के लिए खोला जा सकता है।

आप सरदार पटेल के स्टैच्यू की रौनक रात में भी देख सकते हैं

चिड़ियाघर की भी की गई है पेशकश

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को अमेरिका टाइम्स ने साल 2019 की महानतम पर्यटक स्थलों में दूसरे स्थान पर रखा है। ज़ाहिर है अब सरकार इसे और भी बेहतर बनाने की कशमकश में लग गई है। यही वजह है कि लोगों के मनोरंजन के लिए अगले साल अक्टूबर तक यहां विश्वस्तीय चिड़ियाघर यानी कि जू बनाया जाएगा। जहां सिर्फ भारतीय ही नहीं, बल्कि विदेशी नस्लों को भी जगह दी जाएगी। कहा जा रहा है कि यहां शेर, बाघ, तेंदुआ, जिराफ, अलग-अलग तरह के हिरन और बाइसन जैसे कई जानवरों का घर बनाया जाएगा। साथ ही ये ज़ू 1300 एकड़ में फैला होगा।

इस स्टैच्यू के नीचे सरदार पटेल के जीवन से जुड़ी ख़ास चीज़ें रखी गई है

स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी

स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी लोगों के बीच बेहद फेमस हो चला है। ज़ाहिर है इसे देखने के लिए देश के कोने-कोने से और विदेशों से भी लोग आ रहे हैं। यदि आप स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी देखने जा रहे हैं, तो आपको रहने की सुविधा टेंट सिटी में मिल सकती है। ये लोगों के रुकने के लिए बनाई गई है, जो स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी से करीब 3 किलोमीटर दूर है। आप सरदार पटेल के स्टैच्यू की रौनक रात में भी देख सकते हैं, इसकी वजह है यहां लगाई गई लेज़र लाइट की तकनीक, जो रात को भी पर्यटकों को खूबसूरत नज़ारे का दीदार करवाती है। इस स्टैच्यू के नीचे सरदार पटेल के जीवन से जुड़ी ख़ास चीज़ें रखी गई है, जिसे एक म्यूज़ियम का रूप दिया गया है। साथ ही इसके साथ हाईस्पीड लिफ्ट भी लगाई गई है, जहां से आप ऊपर जाकर सरदार सरोवर बांध का पूरा नज़ारा देखा जा सकता है। इस नज़ारे को देखने के लिए आपको मात्र 300 रूपए अदा करने होंगे।

यदि आप भी गुजरात जाने का प्लान बना रहे हैं, तो अब आपको जल्द ही रिवर राफ्टिंग और ज़ू देखने का मौका भी मिलेगा।