आज कल की भागदौड़ भरी जिंदगी में भविष्य को बेहतर बनाने के लिए हम हम ज़मीन आसमान एक कर देते हैं और इसी भागदौड़ में हम इतना थक जाते हैं कि हमें छुट्टियों पर जाने का मन करता है। लेकिन ऑफिस से छुट्टी ना मिल पाने का डर भी हमेशा लगा रहता है। ऐसा कहा जाता है कि नौकरी पेशा लोगों को घूमने-फिरने का मौका नहीं मिलता, लेकिन आज हम आपको ऐसा तरीके बताने जा रहे हैं, जिसकी मदद से आप कम पैसों में और काम के चलते भी छुट्टियों का लाभ उठा सकेंगे। आइए जानते हैं कौन सी है ऐसे टिप्स हैं जो आपको काम के साथ-साथ छुट्टियों का मज़ा भी दिलाएगी।
अच्छे एंप्लॉय की छवि बनाएं: कंपनी पॉलिसी के तहत साल भर आपको छुट्टियां सिर्फ इसलिए दी जाती हैं, ताकि आप काम के प्रेशर से खुद को रिलैक्स कर सकें और अपनी क्रिएटिविटी को बरकरार रख सकें। इसीलिए कंपनी में हार्ड वर्किंग एम्प्लोयी की छवि आपको बनानी होगी, जिससे बॉस आपको छुट्टी देने में ना नुकुर ना करें। वहीं अच्छे एंप्लॉई की छवि बनाने से आपके साथी भी आपकी छुट्टियों में अड़ंगा नहीं लगाएंगे।
Sending out a thank you message will always leave a mark on your interviewer
अपने वीक ऑफ़ के दिनों में कंपनी की ओर से मिलने वाली छुट्टियों को क्लब करें

ऐसे करें छुट्टियां प्लान: मलेशिया, सिंगापुर, थाईलैंड जाने के लिए ज़्यादा ना सोचें। आप साल में एक बड़ी ट्रिप और तीन छोटी ट्रिप प्लान कर सकते हैं। इस हिसाब से लोकेशन का चुनाव करें और अपने वीक ऑफ़ के दिनों में कंपनी की ओर से मिलने वाली छुट्टियों को क्लब करें। यदि आपको कोई कम्पनसेटरी ऑफ हो तो इसे भी शामिल कर लें।

टारगेट पूरा करें:  दिल्ली की एक कंपनी में एचआर के तौर पर कार्यरत दीपिका सोनी कहती हैं कि ‘छुट्टी पर जाने से पहले अपना काम पूरी तरह खत्म कर लें, वरना आपकी गैरमौजूदगी में सहकर्मियों पर बोझ बढ़ेगा और अगली लीव के लिए आपको परेशानी उठानी पड़ सकती है। अगर आपका कोई सहकर्मी छुट्टी पर जा रहा है तो काम में उसकी मदद के लिए आगे आएं, ताकि लौटकर आने पर वह भी आपकी मदद कर सकें।’
Hrithik Roshan in Guzaarish
ऑफिस के ट्रिप पर जाने का मौका मिल रहा है तो बिना हिचकिचाहट अपने बैक को पैक कर लें।
बहाने ना बनाएं: ऑफिस में सही तरीके से लीव अप्लाई करें। बीमारी या कोई झूठा बहाना बनाकर छुट्टी ना लें। इससे आपका इंप्रेशन खराब होगा और झूठ पकड़े जाने पर गौर बॉस के गुस्से का शिकार भी आपको ही बनना पड़ेगा। इसके अलावा यदि आपको कभी इमरजेंसी में छुट्टी लेनी पड़ी, तो वह भी नहीं मिलेगी।
मौका नहीं चूके: अगर आपको ऑफिस के ट्रिप पर जाने का मौका मिल रहा है तो बिना हिचकिचाहट अपने बैक को पैक कर लें।इससे आपकी जेब पर एक्स्ट्रा खर्च का बोझ नहीं पड़ेगा और इसके साथ अपनी जगह घूमने जा सकेंगे।
यदि आप इन टिप्स को फॉलो करते हैं तो साल में आप कई बार घूमने जा सकेंगे।
मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणीप्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..