दक्षिण भारत में कई ऐसी खूबसूरत जगहें हैं, जहां आप अपना अगला हॉलिडे बिता सकते हैं। खास तौर पर यदि आप सोलो ट्रेवलर हैं, तो दक्षिण भारत आपके लिए हॉलिडे की पहली चॉइस होनी चाहिए। आज हम बात करेंगे दक्षिण भारत के टूरिस्ट स्पॉट कुन्नूर की, जो अपनी खूबसूरती के लिए जाना जाता है। तमिलनाडु में नीलगिरि की पहाड़ियों की तलहटी में बसा हुआ कुन्नूर अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए जाना जाता है। यदि आप अपनी अगली सोलो ट्रिप प्लान कर रहे हैं, तो कुन्नूर के बारे में काम आ सकती है।

नीलगिरि की पहाड़ियों पर टॉय ट्रेन का मज़ा

करीब 1 घंटे के सफर में आपको पहाड़, हरी-भरी वादियां और खूबसूरत जंगल दिखाई देंगे

credit: wordpress.com

ऊटी से कुन्नूर के बीच चलने वाली टॉय ट्रेन का भी एक अपना ही अलग मज़ा है। इस टॉय ट्रेन की ख़ासियत ये है कि ये ट्रेन मात्र तीन डिब्बों से बनी हुई है, जो स्टीम इंजन से चलती है। इस पूरी ट्रेन जर्नी के दौरान आपको 16 सुरंग और करीब 250 पुल दिखाई देंगे, जो अपने आप में किसी जन्नत से कम नहीं है। करीब 1 घंटे के सफर में आपको पहाड़, हरी-भरी वादियां और खूबसूरत जंगल दिखाई देंगे। आपको जान कर हैरानी होगी कि इस जर्नी के लिए आपको मात्र 3 रूपए खर्च करने होंगे, क्योंकि टॉय ट्रेन की टिकट की यही कीमत है।

डॉल्फिन नोज़ फेमस टूरिस्ट स्पॉट

जैसा कि इसका नाम है, यह जगह डॉल्फिन मछली के मुंह के आकार में दिखाई देती है। यह जगह एक फैंस टूरिस्ट स्पॉट मानी जाती है। यह शहर से मात्र दस किलोमीटर की दूरी पर बसा हुआ है, जहां जाकर आपको सुकून का एहसास होगा। इस टूरिस्ट स्पॉट की ख़ासियत है कि आप यहां से घने जंगल, पहाड़ी वादियां का दीदार कर सकते हैं।

चाय बागान की सुंदरता

यहां के चाय के बागान आपका दिल हमेशा के लिए चुरा लेंगे

credit: orbitzholidays.com

कुन्नूर अपनी हरियाली के लिए भी जाना जाता है। खास तौर पर यहां के चाय के बागान आपका दिल हमेशा के लिए चुरा लेंगे। ये चाय के बागान मीलों तक फैले हुए दिखाई देते हैं। इसके अलावा यहां संतरे के बाग जैसी भी कई घूमने लायक जगहें हैं।

रोज़ गार्डन है खूबसूरत जगह

कुन्नूर में सिम्स पार्क एक फेमस बॉटनिकल गार्डन के तौर पर जाना जाता है। यहां आपको अलग-अलग और खूबसूरत प्रजातियों के फूल दिखाई देंगे। यह बॉटनिकल गार्डन बारह एकड़ जैसे विशाल एरिया में फैला हुआ है। इस गार्डन की ख़ासियत है इसमें मौजूद रोज़ गार्डन, जहां आपको गुलाबों की कई खूबसूरत प्रजातियां दिखाई देंगी।

स्नेक पार्क एक आकर्षण

यहां कई विषैले और नॉन पॉइज़नस सांपों की अलग-अलग प्रजातियां भी मौजूद है

credit: amazonaws.com

कुन्नूर अपनी खूबसूरत वादियों के अलावा अपने ख़ास स्नेक पर के लिए भी जाना जाता है। कुन्नूर के इस स्नेक पार्क का नाम है परिस्सिनिकदावु। यहां कई विषैले और नॉन पॉइज़नस सांपों की अलग-अलग प्रजातियां भी मौजूद है, जो पर्यटकों का ध्यान अपनी ओर खींचती है। यह केरल के एनएच 17 से बेहद पास है, जहां इन सर्प प्रजातियों पर अनुसंधान किया जाता है और इन्हे खास संरक्षण दिया जाता है। यहां पिट वाइपर, पाइथन और कोबरा की कई ऐसी प्रजातियां मौजूद है, जिसे देखना आपके लिए एक हटकर अनुभव होगा।

इस तरह कुन्नूर कुल मिलाकर एक खूबसूरत हॉलिडे स्पॉट है, जहां जाकर आप तरोताज़ा महसूस करेंगे।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणीप्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..