आपने अब तक सिर्फ गुजरात में हर साल होनेवाले काइट फेस्टिवल के बारे में सुना होगा, लेकिन आज हम आपको एक खबर से चौंकाने वाले हैं। दरअसल गुजरात ही एक ऐसा राज्य नहीं है, जहां पतंगबाज़ी का शौक लोग रखते हैं, बल्कि केरल भी इनमें से एक है। आज हम केरल के कोवलम क्षेत्र में होनेवाले एक ऐसे काइट फेस्टिवल के बारे में आपको बताएंगे, जो पूरी दुनिया में एकलौता अपनी तरह का काइट फेस्टिवल है। आइये जानते हैं क्या ख़ास बात है इस फेस्टिवल की।

कोवलम का काइट फेस्टिवल इसलिए है ख़ास

इस फेस्टिवल में 650 से ज्यादा दिव्यांग बच्चे हिस्सा लेने जा रहे हैं

केरल के काइट फेस्टिवल की एक खासियत है कि यह फेस्टिवल खास तौर पर दिव्यांगों के लिए आयोजित किया जाता है। कोवलम में मौजूद एक एनजीओ हेल्पिंग हैंड ऑर्गेनाइजेशन ने इसे आयोजित किया है। 2 दिन का यह काइट फेस्टिवल इसीलिए मशहूर है, क्योंकि दुनिया भर से प्रोफेशनल पतंगबाज़ इस आयोजन में मौजूद होंगे। इस आयोजन में मलेशिया, यूएस, जर्मनी, दक्षिण कोरिया जैसे बड़े-बड़े देशों के पतंगबाज़ शामिल होने आएंगे। हेल्पिंग हैंड ऑर्गेनाइजेशन के अनुसार इस फेस्टिवल में 650 से ज्यादा दिव्यांग बच्चे हिस्सा लेने जा रहे हैं। इस फेस्टिवल में लोगों को परेशानी ना हो, इसीलिए पूरे राज्य से वॉलिंटियर आकर लोगों की सुविधा के लिए काम करते हैं। जिसकी मदद से व्हील चेयर इस्तेमाल करने वाले और ऑटिज़्म से ग्रसित और नेत्रहीन बच्चे इस पतंगबाजी में हिस्सा लेते हैं।

वहीं दूसरी ओर इस फेस्टिवल में ना सिर्फ दिव्यांग बच्चे, बल्कि पूरे राज्यों से बुजुर्ग, अनाथ आश्रम के बच्चे, वृद्ध आश्रम में रहने वाले बुजुर्ग और कई स्कूल और कॉलेज के बच्चे भी हिस्सा लेंगे।

होगा ख़ास पतंगों का इस्तेमाल

इस फेस्टिवल में और भी कई गेम्स और काइट मेकिंग वर्कशॉप जैसी मनोरंजक चीजें आयोजित की जाएगी

आपको जानकर हैरानी होगी इस फेस्टिवल में ऐसी पतंगों का इस्तेमाल किया जाएगा, जो इको फ्रेंडली है। यह पतंगे कागज़ और कपड़ों से बनाई जाएगी। हेल्पिंग हैंड ऑर्गेनाइजेशन के मुताबिक इन पतंगों को देखने के लिए काइट टूर का आयोजन किया जाएगा। जिसके अंतर्गत बच्चों को कोच्चि, कोझिकोड इत्यादि जगहों पर ले जाय जाएगा। जिससे वे केरल की इंटीरियर को देख सकें और इसकी खूबसूरती का अनुभव कर सकें। इसके अलावा इस फेस्टिवल में और भी कई गेम्स और काइट मेकिंग वर्कशॉप जैसी मनोरंजक चीजें आयोजित की जाएगी।

अप्रैल में मनाया जाएगा फेस्टिवल

यह काईट फेस्टिवल कोवलम में 27 और 28 अप्रैल को आयोजित होगा।इस आयोजन से जुड़ी पूरी जानकारी हेल्पिंग हैंड ऑर्गेनाइजेशन एनजीओ के द्वारा आपको मिल जाएगी। आप चाहें तो इस काइट फेस्टिवल में अपने परिवार सहित शामिल हो सकते हैं। तो क्यों न इस बार केरल के इस अनोखे काइट शो का लुत्फ उठाया जाए।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..