भारत में अनगिनत दर्शनीय स्थान हैं और बहुत सारी खूबसूरत झीलें भी हैं। हिमालय में ग्लेशियर झीलों से लेकर केरल में साफ झीलों तक भारत में बहुत से खूबसूरत झीलें हैं। झीलों के आस-पास हमेशा शांति और सुकून का अनुभव होता है। एक झील में आप बहुत कुछ कर सकते हैं, जैसे कि मछली पकड़ना, नौका चलाना, एक हाउसबोट किराए पर लेना या बस बैठकर सुंदरता और शांति की सराहना करना। चलिए आज भारत की कुछ सबसे सुंदर झीलों की बात करते हैं।

कश्मीर का आभूषण : डल झील

डल झील की सुंदरता ने कई फिल्म निर्माताओं को भी आकर्षित किया है।

‘कश्मीर के आभूषण’ के नाम से मशहूर ‘डल झील’ की सुंदरता गर्मियों और सर्दियों के दौरान खूब झलकती है। डल झील अपने शिकारों और हाउसबोट के लिए प्रसिद्ध है। यहां हाउसबोट में रहना, नाव की सवारी करने के अलावा, शिकारे में घूमने से लेकर, कश्मीरी हैंडीक्राफ्ट्स , फल और फूल की ख़रीददारी भी आप इस झील में घूमते हुए कर सकते हैं। इस झील की सुंदरता से आकर्षित होकर कई फिल्म निर्माताओं ने यहां अपनी फिल्मों की शूटिंग भी की हैं।

लदाख की ‘पैंगोंग त्सो झील’ : जो अपना रंग बदलती रहती हैं

वो झील जहां फिल्म ‘थ्री इडियट्स’ का क्लाइमेक्स सीन शूट किया गया था।

लद्दाख में 4000 मीटर की ऊंचाई पर स्थित पैंगोंग त्सो, सबसे खूबसूरत झीलों में से हैं और फिल्म निर्माताओं और पर्यटकों की भी पसंदीदा है। तिब्बती भाषा में पैंगोंग त्सो का अर्थ होता है- लंबी, संकीर्ण और करामाती और यह झील सचमुच अपने नाम की तरह ही है। यह झील अपना रंग बदलने के लिए जानी जाती है। खासकर यदि आप इस झील को सूर्यास्त और सूर्योदय के समय अलग-अलग दिशाओं से देखेंगे, तो आप इसके नीले रंग को उसके विभिन्न रंगों में बदलता हुआ देखे सकेंगे। इस झील की सुंदरता का अनुभव करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप इस झील के किनारे, टिमटिमाते तारों के नीचे कैंपिंग कर इसकी सुंदरता का आनंद लें।

वुलर झील : एशिया में सबसे बड़ी झीलों में से एक

हरे पानी वाली मीठे पानी की झील

जम्मू और कश्मीर की वुलर झील ना केवल भारत, बल्कि एशिया के सबसे बड़ी मीठे पानी की झीलों में से एक है। झील का हरा पानी और झील को चारों तरफ से घेरती हुई बर्फीली चोटियां दुनिया भर से पर्यटकों को आकर्षित करती हैं। इस झील में आप विभिन्न प्रकार की मछलियों, पक्षियों और वन्यजीवों को पाएंगे।

गुरुडोंगमार झील : सबसे पवित्र झील

दूधिया दिखने वाली झील

सिक्किम की सबसे ऊंची झीलों में से एक, गुरुडोंगमार झील को हिंदुओं और बौद्धों द्वारा सबसे पवित्र झीलों में से एक माना जाता है। कहा जाता है कि इस झील के जल में चमत्कारिक शक्ति है। इस झील के बारे में सबसे दिलचस्प बात यह है कि सर्दियों में सिर्फ इस झील के एक भाग को छोड़, पूरी झील बर्फ से जम जाती है। कहा जाता है कि उस एक स्थान को भक्तों का आशीर्वाद मिला हुआ है। समुद्र तल से 17,800 फुट की ऊंचाई पर यह दूधिया दिखने वाली झील सभी मौसम में खूबसूरत दिखती है।

त्सोंगमो झील :अपने आप में एक अद्भुत दृश्य

एक चमकते आईने के सामान निर्मल

चांगु झील के नाम से प्रसिद्द त्सोंगमो झील का पानी एक चमकते आईने के सामान निर्मल है और उसके आस-पास बर्फ से ढंके पहाड़ हैं। यह झील किसी स्वर्ग से कम नहीं है। यह झील नाथूला दर्रा के रास्ते में पड़ती है, जो भारत की इंडो – चीन सीमा की तरफ है। यदि आप कभी सिक्किम जाएं, तो इस झील की खूबसूरती को देखना ना भूलें।

इन गर्मियों में घूमिए इन सुकूनदायक खूबसूरत जगहों पर और रिलेक्स हो जाइये।

अपने सपनो को पूरा करने की ताक़त रखती हूँ। अभिलाषी हूं और नई चीज़ों को सीखने की इच्छुक भी। एक फ्रीलान्स एंकर। मेरी आवाज़ ही नहीं, बल्कि लेखनी भी आपके मन को छू लेगी। डांसिंग और एक्टिंग की शौक़ीन। माँ की लाड़ली और खाने की दीवानी।