दुबई जाने का ख्वाब हर व्यक्ति देखता है। ऊंची-ऊंची इमारतें, विशाल गार्डन, शॉपिंग मॉल्स और स्वादिष्ट खाना, दुबई इन सभी को मिला कर एक ख़ास ट्रेवल डेस्टिनेशन के तौर पर देखा जाता है। न सिर्फ कपल्स, बल्कि लोग पूरे परिवार के साथ दुबई हॉलिडे पर जाना पसंद करते हैं। लेकिन जैसा कि सभी जानते हैं, हर देश में कुछ कानून बनाए जाते हैं, जिसका पालन सार्वजनिक रूप से लोगों को करना पड़ता है। उसी प्रकार दुबई में भी आम लोगों के लिए कुछ सार्वजनिक कानून बनाए हैं, जिसका सख्ती से पालन किया जाता है। इसलिए इन क़ानूनों के बारे में आप भी जान लीजिये।

ना करें सड़कों पर किस

दुबई में हनीमून प्लान करना एक बड़ी समस्या हो सकती है

दुबई में सार्वजनिक तौर पर प्यार जताना सरासर बैन है। जी हां, आप सार्वजनिक जगहों पर अपने पार्टनर को किस नहीं कर सकते, इतना ही नहीं, आप हाथ भी नहीं पकड़ सकते। इसके लिए आपको जेल भी हो सकती है। इसलिए दुबई में हनीमून प्लान करना एक बड़ी समस्या हो सकती है, क्योंकि यहां पब्लिक डिस्प्ले ऑफ़ अफेक्शन को जुर्म माना जाता है।

सोशल मीडिया से बनाएं दूरी

दुबई या यूनाइटेड अरब अमीरात के खिलाफ सोशल मीडिया पर कुछ भी लिखना वहां जुर्म माना जाता है

यदि आप दुबई जाकर वहां की किसी भी बात से परेशान हैं, तो उसे सोशल मीडिया पर शेयर करने से बचें, क्योंकि यहां ऐसा करना आपको मुसीबत में डाल सकता है। दुबई या यूनाइटेड अरब अमीरात के खिलाफ सोशल मीडिया पर कुछ भी लिखना वहां जुर्म माना जाता है, क्योंकि वहां की सेंसरशिप काफी सख्त है।

नाचने पर होगी जेल

दुबई में इस कृत्य को सार्वजनिक शान्ति भंग करने का एक ज़रिया माना जाता है

जैसा कि भारत में होता है, लोग अपनी ख़ुशी ज़ाहिर करने के लिए और सार्वजनिक उत्सवों में सड़कों पर नाच सकते हैं। लेकिन यदि बात ही दुबई की, तो आपको सड़क पर नाचने के लिए जेल जाना पड़ सकता है। दुबई में भले ही नाइट क्लब में रात भर एन्जॉय करें, पर ये एन्जॉयमेंट आप सार्वजनिक जगहों पर ना लाएं, क्योंकि दुबई में इस कृत्य को सार्वजनिक शान्ति भंग करने का एक ज़रिया माना जाता है।

होटल रूप पर विवाद

कुछ होटल आपको ऐसी सुविधा देने की बात कर सकते हैं

भारत में लिव इन एक आम बात है, लेकिन यदि आप दुबई में हैं, तो आपको इसके लिए जेल की हवा खानी पड़ सकती है। दुबई में अविवाहित जोड़े होटल रूम शेयर नहीं कर सकते। हालांकि कुछ होटल आपको ऐसी सुविधा देने की बात कर सकते हैं, लेकिन इन मामलों में हमेशा विवाद पैदा होने का डर बना रहता है। इसलिए दुबई में सिर्फ अपने पार्टनर के साथ ही एक रूम में रहने के बारे में सोचिए।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..