बाहुबली के बाद से ही प्रभास का इंतज़ार उनके फैंस काफी बेसब्री से कर रहे थे। साहो प्रभास की एक्शन वाली बाहुबली इमेज के साथ जस्टिस तो करती है, लेकिन बेसिर पैर की कहानी लोगों को निराश कर रही हैं। बॉलीवुड की सबसे महंगी फिल्मों में शुमार यह फिल्म सुंदर लोकेशन, बड़ी बड़ी इमारतों और एक्शन से भरपूर है। फिल्म के गीत बेहतरीन है और श्रद्धा का काम तारीफ के काबिल। फिल्म में कई सारे कलाकारों को ले लिया गया है और फिल्म में कई टर्न और ट्विस्ट की वजह से कहानी को काफी पेचीदा और मुश्किल बना दिया गया है, जो शायद ही दर्शकों को समझ आए।

फिल्म की कहानी

फिल्म 174 मिनट की है

Image Credit: Movie – Sahoo

फिल्म की कहानी क्या है इस बारे में बताना मुश्किल है। लगभग 3 घंटे थिएटर में बिताने के बाद भी फिल्म की कहानी समझना किसी के लिए भी शायद नामुमकिन हो। इतना ज़रुर है कि फिल्म की कहानी दो लाख करोड़ रुपए की चोरी और ब्लैक बॉक्स से जुड़ी है, जिसके पीछे डोन, चोर और पुलिस तीनों ही लगी है। लेकिन चोर कौन है , पुलिस कौन है, चोर पुलिस में शामिल है या पुलिस चोरों और डोन के साथ, इस बात को फिल्म की कहानी में काफी उलझा कर रख दिया है। ऐसा लगता है मानों प्रभास के साथ सिर्फ और सिर्फ एक्शन करने के लिए इस फिल्म को बनाया गया है। फिल्म में कई जगहों पर ऐसा भी लगता है कि मानो बाहुबली के एक्शन सीक्वेस को सिर्फ मॉडर्न अवतार देकर पेश किया जा रहा हो। एक्शन के ओवरडोज़ के साथ-साथ चलती है साहो यानी प्रभास और अमृता यानी श्रद्धा की प्रेम कहानी

फिल्म में कलाकारों का अभिनय

फिल्म चार भाषाओं में एक साथ रिलीज़ हुई हैं

Image Credit: Movie – Sahoo

फिल्म पूरी की पूरी प्रभास की है। इस फिल्म में पहले वो अंडरकवर पुलिस अफ़सर अशोक चक्रवर्ती, तो कभी चोर, तो आखिर में वांजी के सबसे पॉवरफुल आदमी जैकी श्राफ के बेटे है। एक्शन में प्रभास बेहतरीन है इस बात में कोई दो राय नहीं, लेकिन इस फिल्म में उन्होनें खुद ही अपने डायलॉग की डबिंग की होने की वजह से उनकी डायलॉग डिलीवरी काफी स्लो है। इतना ही नहीं शायद इसी लिए उन्हें इस फिल्म में काफी छोटे-छोटे और कम डायलॉग भी दिए गए हैं। प्रभास इस फिल्म में काफी हैंडसम दिखते हैं और एक्शन के मामले में आपको निराश नहीं करेंगे।

श्रद्धा कपूर एक पुलिस अफसर है और प्रभास के प्यार में पड़ जाती हैं। उनका एक्शन बेहतरीन है और उनकी एक्टिंग भी। उनको जितना काम दिया गया है उन्होनें उसे पूरी तरह निभाया है। प्रभास और श्रद्धा की केमेस्ट्री लोगों का दिल नहीं जीत पाती। फिल्म में एक्शन के बीच-बीच में कहीं कहीं रोमांस ज़रुर है, लेकिन ऐसा कि दर्शक उसे महसूस नहीं कर सकेंगे।

इसने अलावा इस फिल्म में नील नितिन मुकेश, जैकी श्राफ, महेश मांजरेकर, चंकी पांडे, मंदिरा बेदी और साउथ एक्टर विजय अर्जुन जैसे कई सितारों की भरमार है, जो इस फिल्म की कहानी में एक छोटा सा हिस्सा है। लेकिन यह सभी किरदार मिलकर इस कहानी को बेहतरीन बनाने की जगह और ज़्यादा उलझाने का काम कर रहे हैं।

फिल्म देखें या नहीं

फिल्म को अबू धाबी, रोमानिया , यूरोप जैसी जगहों पर शूट किया गया है।

Image Credit: Movie – Sahoo

फिल्म में अगर कुछ अच्छा है तो वो है प्रभास और उनका एक्शन। अगर आप प्रभास के फैन है और आपको एक्शन फिल्में देखना पसंद है तो आप यह फिल्म देख सकते हैं। फिल्म की एक और अच्छी बात है फिल्म की लोकेशन, जिन पर अच्छा खासा पैसा खर्चा किया गया है। फिल्म में गीत काफी बेहतरीन है और स्टाइलिश है। लेकिन यह गीत फिल्म की गति को धीमा कर करते हैं। जहां तक निर्देशन की बात है निर्देशक सुजीत ने हॉलीवुड के स्तर की फिल्म का निर्देशन करने की कोशिश की है, जिसमें वह थोड़ा कामयाब ज़रुर हुए है, लेकिन फिल्म की कहानी में ही जान ना होना इस फिल्म की सबसे बड़ी कमज़ोरी है। फिल्म की सबसे बड़ी कमी है कि एक्शन के नाम पर कई जगह पर प्रभास को सुपर हीरो के तौर पर दिखा दिया गया है। उनका बिना किसी सपोर्ट में हवा में उड़ना हास्यास्पद लगता है।

कुल मिलाकर आवाज़.कॉम इस फिल्म को 2 स्टार देता हैं।

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।