पूरी नींद किसी भी व्यक्ति के लिए बेहद ज़रूरी मानी जाती है। लेकिन आज की लाइफस्टाइल इतनी हैक्टिक होती जा रही है कि पूरा दिन काम करने के बाद कामकाजी लोगों को नींद नहीं आती। कई बार ये भी देखा गया है कि सो जाने के बाद भी रात में कई बार नींद खुलने लगती है, जिसकी वजह से सुबह लोग तरोताज़ा महसूस नहीं कर सकते। यही वजह है कि अधूरी नींद की वजह से उनका तनाव और भी बढ़ने लगता है और उनकी नींद का दिन पर दिन और भी बुरा हाल होता जाता है। यदि आपकी भी नींद रात को बार-बार खुलती है, तो इस समस्या से कई कारण हो सकते हैं, आइये जानते हैं इन कारणों के बारे में।

कमरे का तापमान

ज़्यादा गर्म या ज़्यादा ठंडा कमरा भी आपकी नींद को बिगाड़ सकता है

यदि आपको लगता है कि आपकी नींद का आपके कमरे के तापमान से कोई लेनादेना नहीं है, तो आप बिलकुल गलत हैं। दरअसल नींद में खलल डालने के लिए आपके कमरे का गलत तापमान काफी है। ज़्यादा गर्म या ज़्यादा ठंडा कमरा भी आपकी नींद को बिगाड़ सकता है। साथ ही कमरे में यदि कहीं से रौशनी आ रही हो, तो भी आपकी नींद आसानी से खुल जाती है। इसलिए आपका कमरा सही तापमान और पूरी तरह से डार्क होना चाहिए।

एन्ज़ाइटी या चिंता

यदि आप सोने से पहले किसी चिंता की गिरफ्त में हैं, तो आपको हो सकता है कि बार-बार आपकी नींद खुले। लोगों को अक्सर एन्ज़ाइटी की समस्या की वजह से तेज़ी से दिल धड़कने और पैनिक अटैक की समस्या होती है। जिसकी वजह से वे रात को पूरी नींद नहीं ले पाते। इसी की वजह से उन्हें बुरे सपने भी आते हैं, जिसकी वजह से गहरी नींद से जाग सकते हैं।

थायराइड

लोगों को अक्सर एन्ज़ाइटी की समस्या की वजह से तेज़ी से दिल धड़कने और पैनिक अटैक की समस्या होती है

क्या आप जानते हैं आपके थायराइड लेवल का भी असर आपकी नींद पर पड़ता है। थायराइड ग्लैंड कई अंगों को नियंत्रित करता है और जब इसकी गतिविधि ज़रुरत से ज़्यादा बढ़ जाती है, तो यह थायरॉक्सिन नामक हार्मोन रिलीज़ करता है। जिसकी वजह से एन्जाइटी जैसे लक्षण देखे जाते हैं। ऐसे में आपकी नींद में खलल पड़ना आम बात हो सकती है।

स्लीप एप्निया सिंड्रोम

आयुर्वेदाचार्य डॉ नितिन कोचर की माने, तो स्लीप एप्निया सिंड्रोम एक ऐसी समस्या है, जो आपके जीवन में दबे पांव आती है और इसकी आहट से अनजान रह कर आप कई स्वास्थ समस्याओं से घिर सकते हैं। यह समस्या सांस में अवरोध होने की वजह से हो सकती है। यह एक लाइफस्टाइल बीमारी है, जो आपको थायराइड, डायबिटीज़ और हार्ट अटैक और ब्लड प्रेशर जैसी समस्याएं दे सकती है। इसलिए इस समस्या का समाधान करना बेहद ज़रूरी माना जाता है।

इस तरह रात को नींद बार-बार खुलने के कई कारण हो सकते हैं, जिसका इलाज समय रहते करवाना आपके लिए बेहद ज़रूरी मान जाता है।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..