अक्सर लोग यह सोचकर डाइट सोड़ा पीते हैं कि यह सेहत के लिए अच्छा हैं। यह सच है कि डाइट सोड़ा में कैलोरीज़ नहीं होती है, लेकिन क्या डाइट सोड़ा सच में आपकी सेहत में सुधार लाती हैं ? शायद नहीं! यह आपके शरीर पर कई नकारात्मक प्रभाव डालती है।

चलिए देखते हैं कि डाइट ड्रिंक्स पीने से आपके शरीर पर किस प्रकार के प्रभाव हो सकते हैं। शायद इसके बाद आप तय कर पाएं कि डाइट सोड़ा पीना आपके शरीर के लिए अच्छा है भी या नहीं।

डाइट ड्रिंक से आपके मूड में बदलाव आ सकता है

डाइट सोड़ा में मौजूद 'एस्पार्टेम' से आपकी एकाग्रता और मस्तिष्क पर प्रभाव पड़ सकता है
डाइट सोड़ा में मौजूद ‘एस्पार्टेम’ से आपकी एकाग्रता और मस्तिष्क पर प्रभाव पड़ सकता है

डाइट ड्रिंक्स में ‘एस्पार्टेम’ नाम का एक आर्टिफिशियल स्वीटनर होता है जो मस्तिष्क पर नकारात्मक तरीके से असर करता है। यह स्वीटनर असल में आपके मूड को खराब करता है और आपको निराशा और चिंता में भी डाल सकता है। एस्पार्टेम में मौजूद न्यूरोट्रांसमीटर – ग्लूटामेट और डोपामाइन आपके मस्तिष्क को प्रभावित करते हैं और आप में डाइट ड्रिंक्स की तलप को बनाए रखते हैं। शायद, आप सोचते हैं कि एक डाइट ड्रिंक्स में केमिकल्स ना होने के कारण वे सेहत के लिए अच्छे होते हैं, लेकिन जिस प्रकार वे आपके मूड पर प्रभाव डालते हैं, वह आपकी सेहत के लिए बिल्कुल ठीक नहीं है।

डाइट ड्रिंक पीने का मतलब यह नहीं कि आप डाइट कर रहे हैं

क्या आपने ध्यान दिया कि डाइट सोड़ा पीने से आपका वज़न असल में कम नहीं हो रहा है
क्या आपने ध्यान दिया कि डाइट सोड़ा पीने से आपका वज़न असल में कम नहीं हो रहा है

दरअसल डाइट सोड़ा पीने से शरीर में कैलरीज़ की मात्रा बढ़ जाती है और कोई भी आम ‘शुगर-स्वीटेंड’ सोड़ा पीने से शरीर का मोटापा बढ़ने की संभावना होती है।

डाइट सोड़ा पीने से आपकी पाचन क्रिया में बुरा प्रभाव पड़ता है

डाइट सोड़ा शरीर के अच्छे बैक्टीरिया को नष्ट करता है और पाचन क्रिया को हानि पहुंचाता है।
डाइट सोड़ा शरीर के अच्छे बैक्टीरिया को नष्ट करता है और पाचन क्रिया को हानि पहुंचाता है।

आपकी पाचन क्रिया को बनाए रखने के लिए पेट के स्वास्थ्य का ध्यान रखना बहुत ज़रूरी होता है। आपके पेट में मौजूद बैक्टीरिया आपकी इम्यून सिस्टम और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार लाते हैं और शरीर में एनर्जी के स्तर को बनाए रखता है। लेकिन, डाइट सोड़ा में मौजूद मीठे पदार्थ पेट के अच्छे बैक्टीरिया को नष्ट कर सकते हैं।

इसी प्रकार, शरीर की पाचन क्रिया के दौरान एस्पार्टेम जैसा आर्टिफिशियल स्वीटनर एस्पार्टिक एसिड और मेथनॉल जैसे पदार्थ में बदल जाता है और फिर आपकी पाचन क्रिया में बाधा डालता है। इसके कारण आपको पेट में तकलीफ हो सकती है।

डाइट सोड़ा पीने से हो सकते हैं यह परिणाम भी

डाइट सोड़ा पीने से आपके दांतों, त्वचा और दूसरे कई अंगों को हानि पहुंच सकती है
डाइट सोड़ा पीने से आपके दांतों, त्वचा और दूसरे कई अंगों को हानि पहुंच सकती है

डाइट सोड़ा पीने से भी आपके शरीर को बहुत नुकसान पहुंच सकता है। ये नुकसान ऊपर बताए गए सभी नुकसानों से अलग है। आपके खाने-पीने की पसंद-नापसंद में बदलाव आ सकता है। डाइट सोड़ा में मौजूद आर्टिफिशियल स्वीटनर्स आपकी त्वचा को डिहाइड्रेट करते हैं जिसके कारण आपकी त्वचा पर मुंहांसे हो सकते हैं। अगर शरीर में डिहाइड्रेशन होता है, तो उसका प्रभाव आपकी बोन मिनरल डेंसिटी पर पड़ता है। बोन मिनरल डेंसिटी पर बुरा प्रभाव पड़ने से आपकी शारीरिक क्षमताओं पर भी असर पड़ता है। डाइट सोडा पीने से आपके दांतो को भी बहुत नुकसान पहुंचता है।

ज़रूरी नहीं की हर वो चीज़ जिसका नाम ‘डाइट’ हो, वो आपकी सेहत के लिए अच्छी हो और आपके वज़न को कम करने में मदद करें। इसलिए अगली बार ‘डाइट’ नाम के कोई भी पदार्थ का उपयोग करने से पहले उसे जांच लें और हो सके तो जल्द से जल्द डाइट सोड़ा पीना छोड़ दें।