लहसुन को खाने और विशेषकर सब्जियों में आमतौर पर इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन हम में से ज़्यादातर लोग इसके फ़ायदों से अनजान हैं। यह ना सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ाता है, बल्कि कई तरह की शारीरिक समस्याओं से बचाव भी करता है। लहसुन में कैल्शियम, फास्फोरस और आयरन जैसे लाभकारी खनिज होते हैं। लहसुन का तीखा स्वाद और अलग तरह की सुगंध इसमें पाए जाने वाले सल्फर के कारण होती है।

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि लहसुन टेंशन को भगाने में भी मददगार है।
आपको यह जानकर हैरानी होगी कि लहसुन टेंशन को भगाने में भी मददगार है।

छवि क्रेडिट: sahhawhana

लहसुन में हैं कई औषधीय गुण

जानी मानी पोषण विशेषज्ञ शेरिल (sheryl)का कहना है, “लहसुन में बहुत से स्वास्थ्यवर्धक गुण पाए जाते हैं। जिसकी वजह से इसका उपयोग औषधियों में किया जाता रहा है। लहसुन का नियमित सेवन करने से कैंसर होने का खतरा काफी कम रहता है। हर हफ्ते पांच कली लहसुन खाने से कैंसर का खतरा 30 से 40 फ़ीसदी कम हो जाता है। लहसुन का एक गुण यह भी है कि यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता में इज़ाफा करती है।

खाली पेट लहसुन की कलियां चबाने से दिल से जुड़ी सभी बीमारियां दूर रहती है।
खाली पेट लहसुन की कलियां चबाने से दिल से जुड़ी सभी बीमारियां दूर रहती है।

छवि क्रेडिट: foodandayurveda

दिल के लिए अत्यंत लाभकारी

उच्च रक्तचाप यानि “हाई ब्लड प्रेशर” को दूर करने में भी लहसुन काफी फ़ायदेमंद होता है। इसमें मौजूद एलिसिन नामक तत्व उच्च रक्तचाप को सामान्य करने में मदद करता है। उच्च रक्तचाप के मरीज़ अगर नियमित रूप से लहसुन का सेवन करते हैं, तो इससे उनका रक्तचाप काफी नॉर्मल रहता है। रोज़ाना लहसुन के सेवन से कोलेस्ट्रॉल में 10 फ़ीसदी की गिरावट आती है।

ठंड से बचाए

लहसुन की तासीर गर्म होने के कारण यह ठंड को दूर करने का कुदरती उपाय है। कई शोधों से यह बात साबित हो चुकी हैं कि ठंड के दिनों में लहसुन के सेवन से सर्दी नहीं लगती। सर्दियों के मौसम में गाजर, अदरक और लहसुन का जूस बनाकर पीने से शरीर को एंटिबायोटिक्स मिलते हैं और ठंड कम लगती है। सर्दी और जुखाम में भी लहसुन एक रामबाण इलाज है।

दांत के दर्द से राहत

ज़्यादा मीठा खाने से और ठीक तरह से दांतों का ख्याल न रखने से दांतों में कीड़े लग जाते हैं, जिसकी वजह से दांत में दर्द होने की शिकायत रहती है। इस दर्द से राहत पाना चाहते हैं, तो आप लहसुन के टुकड़ों को गर्म करके और उन टुकड़ों को दर्द वाले दांत पर रखकर कुछ देर तक दबाए। ऐसा करने से आपके दांत का दर्द चुटकी में दूर हो जाएगा।

लहसुन डाइजेशन को ठीक कर पेट की सफाई करता है
लहसुन डाइजेशन को ठीक कर पेट की सफाई करता है

छवि क्रेडिट: YouTube

इम्यून सिस्टम का रखता है ख्याल

जिन लोगों का इम्यून सिस्टम कमज़ोर है। उन लोगों के लिए लहसुन का सेवन किसी चमत्कारी दवा से कम नहीं। लहसुन में भरपूर मात्रा में सेलेनियम, विटामिन सी और बी पाए जाते हैं। अगर आप रोज़ाना खाली पेट कच्चा लहसुन का सेवन करें, तो आप एकदम स्वस्थ रह सकते हैं और आपका यह इम्यून सिस्टम भी काफी मजबूत हो जाता है।

वजन घटाने में मददगार

जो लोग वजन घटाने के लिए घरेलू नुस्खे तलाश कर रहे हैं उनके लिए लहसुन का सेवन बहुत लाभकारी है। लहसुन का सेवन करने से शरीर का मेटाबॉलिज़्म तेज़ी से बढ़ता है और वजन भी आसानी से कम हो जाता है। अगर आप वजन कम करने के लिए लहसुन का सेवन कर रहे हैं, तो खाली पेट लहसुन का सेवन करें। खाली पेट लहसुन का सेवन करने से शरीर पर इसका असर अधिक होता है और वजन जल्दी से कम हो जाता है।

उन महिलाओं को लहसुन का सेवन नहीं करना चाहिए, जो मां बनने वाली हैं क्योंकि यह बहुत गर्म होता है।
उन महिलाओं को लहसुन का सेवन नहीं करना चाहिए, जो मां बनने वाली हैं क्योंकि यह बहुत गर्म होता है।

छवि क्रेडिट: closte

लहसून खाते वक़्त इन बातों का ध्यान दे

जिन लोगों को पेट या पाचन से जुड़ी बीमारियां होती है, उन्हें डॉक्टर की सलाह लेकर ही लहसुन का सेवन करना चाहिए। लहसुन खाने से मुंह से बदबू आने लगती है इसीलिए जब भी उसका सेवन करें उसके बाद तुरंत सौंफ खाने की कोशिश करें, जिससे आपके मुंह से किसी भी तरह की कोई बदबू ना आए।

अगर आप होम्योपैथी दवा लेते हैं तो लहसुन से परहेज़ करना चाहिए क्योंकि इसकी गरम तासीर होम्योपैथी दवाई का असर कम कर देती है।

उम्मीद करते हैं कि नियमित रूप से लहसुन का सेवन कर आप खुद को और अपने परिवार को बनाएंगे स्वस्थ।

पहचान छोटी ही सही लेकिन अपनी खुद की होनी चाहिए। इसी सोच के साथ जीती हूँ।अपने सपनों को साकार करने की हिम्मत रखती हूं और ज़िन्दगी का स्वागत बड़े ही खुले दिल से करती हूँ। बाते और खाने की शौकीन हूँ । मेरी इस एनर्जी को चार्ज करती है, मेरे नन्ने बच्चे की खिलखिलाती मुस्कुराहट।