जब भूख लगती है और भूख को खत्म करने की बात आती है तो इंस्टेंट नूडल्स हमेशा ही सबसे अच्छा ऑप्शन माना जाता है। खासकर बच्चों को यह नूडल्स बेहद लुभाते हैं लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि नूडल्स का वो कप हेल्दी है या नहीं? इंस्टेंट नूडल्स के इस डार्क साइड के बारे में पढ़े और जानकारी लें कि ये आपके लिए कितना फायदेमंद या नुकसानदायक।

डायटीशियन अंजू विश्वकर्मा के अनुसार, घर के बने ताजा नूडल्स 1-2 घंटे में डाइजेस्ट हो जाते हैं, जबकि सो- कॉल्ड इंस्टेंट नूडल्स खाने के बाद भी पेट में रहते हैं और अनडाइजेस्ट होते हैं। अधिक आश्चर्य की बात यह है कि आंत को नूडल्स को पचाने या ब्रेक करने के लिए बहुत ज्यादा मशक्कत करनी पड़ती है। यह मैदे से बने होने की वजह से जल्दी नहीं पच पाते। इसके पीछे की सबसे बड़ी और खराब वजह इन इंस्टेंट नूडल्स में मौजूद संरक्षक है। इंस्टेंट नूडल्स खाने में आसान और बहुत ही स्वादिष्ट होते हैं, लेकिन इसे खाने का मतलब खुद के मैटाबॉलिज्म को खतरे में डालना है। इनमें जहां एक तरफ सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है, वहीं इसमें अनहेल्दी सैचुरेटेड फैट और ग्लाइसेमिक भी अधिक होता है।

यदि कोई रेग्यूलरली लंबे समय तक के लिए इंस्टेंट नूडल्स खाता है, तो ट्यूमर और कैंसर विकसित होने की संभावना बढ़ जाती है। ये इस बात से साबित हुआ है कि नूडल्स में टरटाएरी-ब्यूटाइल हाइड्रोक्विनोन (टीबीएचक्यू) नामक एक संरक्षक होता है, जो मुख्य रूप से परफ्यूम में यूज किया जाता है। वो बीमारी और ऑर्गन को कमजोर कर सकता है। टीबीएचक्यू के अलावा, इसमें प्रोपलीन ग्लाइकोल भी शामिल है, ये एक केमिकल है जो तंबाकू के प्रोडक्ट्स में उपयोग किया जाता है। कई रिसर्च में ये साबित हो चुका है कि नूडल्स में मौजूद सोडियम और एमएसजी की मात्रा प्रेग्नेंट वुमन की सेहत के लिए नुकसानदायक है। इसके ज्यादा खाने से मिसकैरेज का खतरा बढ़ जाता है।

सेहत के लिए बेहद खतरनाक है इंस्टेंट नूडल्स

खतरनाक है पैकेजिंग भी

Image credit: msn.com

ज्यादातर इंस्टेंट या कप नूडल्स उन पैकेजों में आते हैं जिनमें बिस्फेनॉल ए (बीपीए) होता है। जब इन कपों को माइक्रोवेव में रखा जाता है, तो BPA तेजी से डिश में और फिर खाते वक्त आपके शरीर में जाता है और मेटाबॉलिज्म को नष्ट कर सकता है। इसमें कॉर्न सिरप, पाम ऑयल और मोनोसोडियम ग्लूटामेट (एमएसजी) जैसे अन्य सिंथेटिक कैमिकल्स भी होते हैं, इसे लंबे समय तक खाने से गंभीर दुष्प्रभाव हो सकते हैं। नूडल्स में किसी भी तरह के मिनरल्स या प्रोटीन नहीं होते हैं। नूडल्स खाने से सेहत को फायदा नहीं होता है, इसलिए इसे जंक फूड कहा जाता है। एक्सपर्ट के अनुसार, इंस्टेंट नूडल्स से हर कीमत पर बचना चाहिए और अगर आप वास्तव में नूडल्स ही खाना चाहते है तो घर के बने नूडल्स खाएं और उसमें सॉटेड ग्रीन वेजिटेबल्स का यूज करें।

This is aawaz guest author account