गर्मियों की धूप में त्वचा के टैन के बारे में सुना होगा, लेकिन बारिश के दिनों में भी पड़ने वाली हल्की धूप आपके चेहरे को बुरी तरह टैन कर सकती है। यह धूप भी आपके लिए नुकसानदायक साबित हो सकती है। टैनिंग की वजह से चेहरे की रंगत तो जाती ही है, साथ ही स्किन पर काले धब्बे भी पड़ जाते हैं। धूप में जाने से हम बच तो नहीं सकते, लेकिन इसके असर को ज़रूर कम कर सकते हैं।

आपको एंटी टैनिंग ब्यूटी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। वैसे तो बाज़ार में टैनिंग से बचने के लिए कई तरह के प्रोडक्ट मौजूद है, लेकिन कई बार ये आपको सूट नहीं करते। इसीलिए हम आपको बताने जा रहे हैं बारिश के दिनों में टैनिंग से बचाव और छुटकारे का बहुत आसान तरीका।

यह तरीका एक नेचुरल प्रोडक्ट है, जो संतरे के छिलकों के पाउडर से बनाया जाता है। हम बात कर रहे हैं ऑरेंज पील फेस पैक की, जो आपके लिए फायदेमंद साबित होगा। आइए जानते हैं किस तरह इस फेस पैक को बनाया जा सकता है।

Natural and ayurvedic products won’t irritate your skin
एंटी टैनिंग ब्यूटी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है

इसके लिए दो-तीन चम्मच संतरे के छिलकों का पाउडर लें। इसमें एक चम्मच शहद मिलाएं। दो चम्मच दूध या दही डालें। ज़रूरत पड़े तो कुछ बूंदें पानी की भी डाली जा सकती हैं। अब इन सबको मिलाकर अच्छी तरह पेस्ट बना लें। अब इस पेस्ट को चेहरे पर लगा कर 15 से 20 मिनट सूखने दें। सूखने के बाद हल्के हाथ से रगड़कर निकालें। हफ्ते में दो बार इस फेसपैक के इस्तेमाल से आपकी पुरानी टैनिंग धीरे-धीरे चली जाती है।

दो चम्मच बेसन में 2 चम्मच चम्मच संतरे के छिलकों का पाउडर मिलाएं। इसमें आधी चम्मच हल्दी डालें। थोड़ा गुलाबजल और पानी की बूंदें मिलाएं। इस फेसपैक को चेहरे पर 15-20 मिनट के लिए लगाएं। इसका इस्तेमाल हफ्ते में एक बार करें। अगर टैनिंग ज़्यादा है, तो दो हफ्तों के लिए इसका इस्तेमाल हफ्ते में दो बार करें।

4 चम्मच संतरे के छिलकों के पाउडर में आधा नींबू निचोड़ लें। इसमें आधा टमाटर घिसकर डालें। एक चुटकी हल्दी भी मिला लें। दो तीन चम्मच दूध डालकर इसका फेसपैक तैयार करें। जरूरत पड़ने पर पानी मिलाएं। इस फेसपैक को हफ्ते में एक बार इस्तेमाल करें। लगातार इस्तेमाल करने से सारी टैनिंग चली जाती है।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..