आज कल लोग खुद को कीटाणुओं और संक्रमणों से बचाते के लिए क्या कुछ नहीं करते। पहले जहां लोग अपने साथ पेपरसोप, वेट वाइप्स कैरी करते थे, अब उसकी जगह छोटी सी बॉटलवाले सैनेटाइज़र ने ले ली है। सैनेटाइज़र का इस्तेमाल आज कल लोग आम तौर पर करने लगे हैं। खाना खाने से पहले हो या वॉशरूम के बाद लोग अक्सर सैनेटाइज़र का इस्तेमाल करते हुए दिखाई देते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये सैनेटाइज़र आपकी सेहत बेहतर बनाने के बजाय इससे खिलवाड़ कर रहा है। यदि आप ये सोचते हैं कि सैनेटाइज़र आपके हाथों के कीटाणुओं को मार रहा है, तो ज़रा पढ़िए ये खबर।

कीटाणुओं को पूरी तरह से ख़त्म नहीं करता सैनेटाइज़र

सैनेटाइज़र में 60 प्रतिशत अल्कोहल होता है

कीटाणुओं को मारने के लिए इस्तेमाल किये जानेवाले सैनेटाइज़र में 60 प्रतिशत अल्कोहल होता है, जो कीटाणुओं को पूरी तरह से ख़त्म नहीं कर पाता। साथ ही इतनी बड़ी मात्रा में अल्कोहल का इस्तेमाल हाथों पर करना आपकी सेहत के लिए हानिकारक माना जाता है। इसलिए सैनेटाइज़र के इस्तेमाल से बेहतर आपको हाथ साबुन से धोने की सलाह दी जाती है।

सैनेटाइज़र से खांसी-ज़ुकाम की समस्या

आपको जान कर हैरानी होगी कि कम अल्कोहल वाले सैनेटाइज़र भी इस्तेमाल में हानिकारक हो सकते हैं। जिन सैनेटाइजर में अल्कोहल की मात्रा कम होती है, उसमें ट्राइक्लोसन नामक तत्व डाला जाता है। ये एक शक्तिशाली एंटीबैक्टेरियल तत्व माना जाता है, जो हाथों में मौजूद अच्छे बैक्टेरिया का भी सफाया कर देता है। इनकी गैर मौजूदगी से आपको संक्रमण के साथ-साथ खांसी-ज़ुकाम की समस्या होना आम बात हो जाती है।

त्वचा को पहुंचता है नुकसान

हैंड सैनेटाइजर के इस्तेमाल के बाद हैंड लोशन के इस्तेमाल की भी सलाह दी जाती है

सैनेटाइजर का इस्तेमाल आपकी त्वचा के लिए बेहद हानिकारक माना जाता है। इसके लगातार इस्तेमाल से त्वचा शुष्क और खुरदुरी हो जाती है, जिसकी वजह से त्वचा सम्बन्धी समस्याएं होने की संभावना बढ़ जाती है। वहीं हैंड सैनेटाइजर के इस्तेमाल के बाद हैंड लोशन के इस्तेमाल की भी सलाह दी जाती है।

यदि आप अपनी इम्युनिटी को खतरे में नहीं डालना चाहते, तो आज ही हैंड सैनेटाइजर के इस्तेमाल की आदत छोड़ कर हाथ धोने के लिए पानी का इस्तेमाल करना शुरू करें।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..