सिरदर्द एक ऐसी समस्या है , जिसे आसानी से निजात नहीं पाया जा सकता। कई बार ये समस्या इतनी बढ़ जाती है कि आपको ये सालों तक परेशान कर सकती है। इसलिए इसे जड़ से ख़त्म करना आपके लिए बेहद ज़रूरी हो जाता है। लेकिन यदि आपको अक्सर सिरदर्द की समस्या रहती है और इससे बाहर निकलने में आपको बेहद परेशानी का सामना करना पड़ता है, तो आज हम आपके लिए कुछ टिप्स लेकर आए हैं, जो आपको मिनटों में सिरदर्द की तकलीफ़ से निजात दे देंगी। ये कुछ ऐसी घरेलू टिप्स हैं, जिसके इस्तेमाल के बाद सिरदर्द से राहत महसूस कर पाएंगे। आइये जानते हैं इन खास घरेलू टिप्स के बारे में।

पानी पीना है ज़रूरी

 

जब आप हल्का गुनगुना पानी पीते हैं, तो आपको सिरदर्द में दुगुना फायदा पहुंचता है

डॉ सतीश राठी की माने तो यदि सिरदर्द की समस्या की शुरुआत हो चुकी है, तो हलके सिरदर्द के समय ही आपको पानी पीना शुरू कर देना चाहिए। खास तौर पर जब आप हल्का गुनगुना पानी पीते हैं, तो आपको सिरदर्द में दुगुना फायदा पहुंचता है। साथ ही यदि सिरदर्द की शुरुआत में ही शरीर को हायड्रेट किया जाए, तो सिरदर्द बढ़ता नहीं। आप चाहें तो जूस या पानी को थोड़ा-थोड़ा करके पी सकते हैं। आप चाहें तो ओआरएस का घोल भी बना कर पी सकते हैं। ऐसा करने से आपके शरीर के एलेक्ट्रोलाइट लेवल को आप बेहतर बना सकते हैं और सिरदर्द जैसी समस्या से निजात पा सकते हैं।

बर्फ का करें इस्तेमाल

आपको जान कर हैरानी होगी कि बर्फ आपके सिरदर्द को जल्द से जल्द ठीक करने की क्षमता रखता है। सिरदर्द होने पर तौलिये में बर्फ के कुछ टुकड़े लपेटकर यदि सिर पर 15 मिनट तक मसाज किया जाए, तो सिरदर्द में आराम मिलता है। बर्फ का इस्तेमाल सिर पर करने से मस्तिष्क की नसों में रक्त का संचार बढ़ता है और इससे सिरदर्द ठीक होने लगता है।

बालों से भी जुड़ा है सिरदर्द

बालों को खुला करके आराम दें और बालों में तेल लगाएं

अक्सर लोग बालों में स्टाइलिंग करते हैं, जिसमें वे कभी हेयरस्टाइल के चलते बालों को कसकर बांध देते हैं या कभी-कभी कुछ ऐसे प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते हैं, जिससे बाल कड़े हो जाते हैं। ऐसे में बालों में खिंचाव बनता है और सिरदर्द शुरू हो सकता है। इसलिए सिरदर्द होने पर आपके बालों को खुला करके आराम दें और बालों में तेल लगाएं। तेल की सीरत ठंडी होती है, जिससे सिरदर्द में आराम मिलता है।

उजाले से करें परहेज

कई बार ज़्यादा रौशनी की वजह से भी हमें सिरदर्द की समस्या हो सकती है। इसलिए सिरदर्द के दौरान अंधेरे में रहें। अंधेरे की वजह से आंखों पर असर नहीं पड़ता और आंखों के आसपास की नर्व्स को आराम मिलता है। आप चाहें तो कमरे के परदे बंद करके आराम कर सकते हैं, रौशनी में सनग्लासेस का इस्तेमाल कर सकते हैं और मोबाइल और लैपटॉप से दूरी बना सकते हैं। साथ ही कई लोगो को तनाव की वजह से सिरदर्द की शिकायत होती है। ऐसे में आपके लिए नींद लेना बेहद ज़रूरी हो जाता है। इसलिए गर्म पानी से नहाने के बाद अंधेरे और शांत कमरे में सोना आपके लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। गर्म पानी से नहाने से शरीर का ब्लड सर्क्युलेशन धीमा पड़ जाता है और इससे आपको रिलेक्स होने में मदद मिलती है।

खाद्य पदार्थों से मदद

आप चाहें तो चाय में इन हर्ब का इस्तेमाल करके सिरदर्द से निजात पा सकते हैं।

यदि आपको सिरदर्द की समस्या हो रही है, तो आपको अदरक, नींबू और तुलसी के सेवन की साल्ह दी जाती है। अदरक एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लामेटरी तत्व होते हैं, जो सिरदर्द में बेहद ज़रूरी माने जाते हैं। वहीं तुलसी में मौजूद तत्वों से शरीर में ब्लड सर्क्युलेशन ठीक रहता है, जिससे सिरदर्द ठीक होने लगता है। ऐसे ही नींबू गैस की समस्या से छुटकारा दिलाता है, जिससे आपको सिरदर्द में राहत मिलती है। आप चाहें तो चाय में इन हर्ब का इस्तेमाल करके सिरदर्द से निजात पा सकते हैं।

यदि आप भी सिरदर्द से परेशान रहते हैं, तो ये उपाय आपके काम आ सकते हैंनींबू गैस की समस्या से छुटकारा दिलाता है। इससे आपका सिरदर्द जल्द ही ठीक हो जाता है।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..