जन्माष्टमी त्योहार बस आने को है। इस वर्ष जन्माष्टमी का पर्व 24 अगस्त को है। जन्माष्टमी का त्यौहार हर साल मनाया जाता है, जिसमें भगवान विष्णु के आठवें “अवतार” को भगवान कृष्ण के रूप में पूजा जाता है। कृष्ण जन्माष्टमी पूरे देश में बड़ी ही धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाई जाती है। यह भगवान कृष्ण के संपूर्ण व्यक्तित्व के जश्न मनाने का अवसर है, जिन्होंने बुराई को दूर करने और प्रेम और एकता का संदेश फैलाने के लिए जन्म लिया। मथुरा, गोकुल, और वृंदावन जैसे शहरों में जन्माष्टमी का अलग ही उल्लास देखने को मिलता है। वहां पूरे दिन रास लीला, झांकियों को सजाने, उपवास, भक्ति गीत गाने, जागरण, दही हांडी फोड़ने और उपहारों के वितरण का आयोजन होता रहता है। देश-विदेश से कई सैलानी इस दिन भगवान कृष्ण के दर्शन करने के लिए पहुंचते हैं। यदि आप हिन्दुओं के प्रमुख त्योहारों में से एक जन्माष्टमी पर व्रत रखने की योजना बना रहे हैं, तो आपको उपवास करते समय स्वास्थ्य का भी ध्यान रखना चाहिए। आज हम आपको ऐसी ही टिप्स देने जा रहे हैं जिन्हें अपनाकर आप उपवास के दौरान भी हेल्दी बने रहेंगे।

1) एक दिन पहले सेहतमंद खाना खाएं: डायटीशियन अमिता सिंह के मुताबिक, यदि आप इस जन्माष्टमी का व्रत कर रहे हैं, तो आपको एक दिन पहले हेल्दी भोजन खाना शुरू कर देना चाहिए। इससे जिस दिन आप उपवास कर रहे हैं, उससे आपका पाचन तंत्र स्वस्थ बने रहने में मदद मिलेगी। इसके अलावा जिस दिन आप जन्माष्टमी व्रत रखते हैं उस दिन तो खाली पेट रहने पर इससे गैस्ट्रिक प्रॉब्लम या एसिडिटी की समस्या हो सकती है तो एक दिन पहले खाए गये हेल्दी फ़ूड से भी शरीर में एनर्जी कम नहीं होगी।

2) पानी पीते रहें: आप जिस दिन उपवास करते हैं उस दिन बहुत सारा पानी पीना चाहिए। यदि आपको सूर्यास्त के बाद पानी पीने की अनुमति नहीं है, तो सुनिश्चित करें कि आप पूरे दिन पर्याप्त पानी पीते रहें। पानी शरीर को हाइड्रेट रखने में मदद करता है और आपकी इम्यून पॉवर भी मजबूत बनी रहती है। साथ ही, पानी आपके पेट को भरा रखने और सभी प्रकार के एसिड को बेअसर करने में मदद करता है। इसलिए, यदि आप इस जन्माष्टमी का उपवास कर रहे हैं तो कम से कम 5-6 लीटर पानी पीना आवश्यक है।

जन्माष्टमी के व्रत के दौरान ये टिप्स आयेंगे काम

फलों से मिलेगी पॉवर

Image Credit: nationalpost.com

3) फल खाएं: जन्माष्टमी का व्रत करते समय अगर आपको फल खाने की इजाज़त दी गई है तो यह हेल्थ टिप वाकई फ़ायदेमंद होगी। पानी से भरे तरबूज ,सेब या खीरे जैसे फल खाएं, जिनमें पानी की मात्रा अधिक होती है वे आपको दिनभर ऊर्जावान बनाए रखेंगे। फल पोषक तत्व और विटामिन प्रदान करते हैं, जो शरीर के लिए आवश्यक हैं। एक गिलास दूध के साथ केला या आम खाने से भी पेट भरा हुआ लगता है। यह आपको लंबे समय तक और एक्टिव महसूस करने में मदद करेगा और आपको थकान नहीं होगी।

4) खूब सारा न खाएं: जब आप अपना उपवास तोड़ते हैं, तो एकदम से खूब सारा खाना न खाएं। ज़रूरत से ज्यादा खाने पर अपच और वजन बढ़ने जैसी स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। साथ ही कई लोग कृष्ण जन्म के बाद देर रात उपवास तोड़ते हैं इसलिए कभी भी ओवरईटिंग न करें।

5) तले हुए भोजन से बचें: जब आप अपना जन्माष्टमी व्रत तोड़ते हैं, तो पकोड़े, आलू के चिप्स और समोसे जैसे डीप फ्राइड फ़ूड और मिठाइयाँ तैयार की जाती हैं। इन्हें खाने से बचे। इसके बजाय आपको बेकिंग या रोस्टेड जैसे स्वस्थ खाने के विकल्पों की ओर जाना चाहिए। तले हुए खाद्य पदार्थों से पेट की समस्याएं जैसे एसिडिटी और गैस हो सकती हैं।

This is aawaz guest author account