माइग्रेन एक ऐसी समस्या है जिससे व्यक्ति के सिर में भयानक दर्द होता है। खास तौर पर महिलाओं को माइग्रेन की समस्या ज़्यादा होती है। इसका दर्द अचानक शुरू हो जाता है और फिर ठीक होने का नाम नहीं लेता। देखा जाए तो माइग्रेन आम तौर पर अल्कोहल के सेवन, मौसम के बदलाव, तनाव, आहार में परिवर्तन और कम सोने के कारण हो सकता है। इसमें होने वाले  तेज़ दर्द का कोई समय भी निश्चित नहीं है। यह सुबह और शाम किसी भी समय महसूस हो सकता है। यदि आप भी माइग्रेन के दर्द से रहते हैं परेशान, तो हम आपको बताते हैं कुछ ऐसे उपाय, जिससे आप आसानी से इसका दर्द कम कर सकेंगे।

आराम की ज़रूरत: 
नींद लेने से माइग्रेन के रोगियों को राहत मिलती है

यदि आपको माइग्रेन हुआ है, तो आप को ज़्यादा से ज़्यादा आराम करने और नींद लेने की ज़रूरत है। नींद लेने से माइग्रेन के रोगियों को राहत मिलती है। माइग्रेन की समस्या का कारण तनाव भी होता है, इसीलिए नियमित रूप से व्यायाम, योग और मेडिटेशन करने की सलाह दी जाती है।

भरपूर पानी पिएं:
माइग्रेन की समस्या होने पर ज्यादा से ज़्यादा पानी पीना चाहिए

माइग्रेन के बारे में बात करते हुए डॉ देवाशीष चटर्जी बतातें हैं कि डिहाइड्रेशन भी माइग्रेन का कारण हो सकता है, इसलिए माइग्रेन की समस्या होने पर ज्यादा से ज़्यादा पानी पीना चाहिए और साथ ही ठंडे पानी की पट्टी सिर पर रखनी चाहिए। ऐसा करने से मस्तिष्क की धमनियां फैलकर पहले की स्थिति में आ जाती हैं और रक्त का संचार अच्छी तरह से होता है।

हेल्दी डाइट लें:
गाजर और खीरा खाने की सलाह माइग्रेन के रोगियों को दी जाती है

भूखे रहने से माइग्रेन का दर्द बढ़ सकता है, इसलिए थोड़ी थोड़ी देर में कुछ ना कुछ खाते रहें। खास तौर पर हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करें। सलाद का सेवन भी माइग्रेन के दर्द में लाभ पहुंचाता है, इसीलिए गाजर और खीरा खाने की सलाह माइग्रेन के रोगियों को दी जाती है। मैग्नीशियम से भरपूर आहार माइग्रेशन में फायदेमंद होता है, इसीलिए मैग्नीशियम युक्त आहार खाना आपके लिए फायदेमंद होता है।

सोशल मीडिया से रहें दूर:
आज की जनरेशन सोशल मीडिया पर पूरी तरह से डिपेंडेंट है। लोग कमेंट, लाइक के चक्कर में दिन भर सोशल मीडिया पर बैठे रहते हैं। वहीं कुछ लोगों को चैटिंग की बुरी लत होती है। सोशल मीडिया कुछ मामलों में तो ठीक है, लेकिन इसके अत्यधिक प्रयोग से मानसिक समस्याएं हो सकती हैं। अक्सर माइग्रेन तब होता है जब लोग ज्यादा देर तक मोबाइल या लैपटॉप में सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते हैं।अगर आपको भी ऐसी आदत है, तो इसे बदल डालें।

आज ही इन उपायों को अपनाकर आप माइग्रेन को हमेशा के लिए अपनी ज़िन्दगी से दूर कर सकते हैं। ज़रूर अपनाएं ये टिप्स और माइग्रेशन को कहें बाय-बाय!

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..