अक्सर लोग हिचकी आने से बेहद परेशान रहते हैं। हिचकी आने में कोई दिक्कत नहीं, लेकिन यदि अक्सर आपको इसकी शिकायत होती है, तो यह किसी प्रकार की बीमारी हो सकती हैं। वैसे तो हिचकी थोड़ी देर में अपने आप बंद हो जाती है, लेकिन यदि यह ना रुक रही हो, तो आपको डॉक्टर से सहायता लेनी चाहिए।

हिचकी आने के पीछे कारण यह है कि डायफ्राम के मसल सिकुड़ जाते हैं और यही  हिचकी आने का कारण बनते हैं। आज हम आपको बताएंगे हिचकी आने पर किन उपायों से आप इसे रोक सकते हैं।
1. एक लंबी सांस लें और उसे कुछ सेकंड के लिए रोक कर रखें, ऐसा करने से हिचकी बंद हो जाती है। कहते हैं कि फेफड़ों में जमा होनेवाले कार्बन डाइऑक्साइड को डायफ्राम निकालता है, जिसकी वजह से हिचकी आना खुद-ब-खुद बंद हो जाती है।
2. हिचकी आने पर तुरंत एक चम्मच चीनी का सेवन करें, इससे थोड़ी देर में हिचकी आना बंद हो जाएगी। यदि आप चीनी खाना पसंद नहीं करते, तो चीनी और पानी का घोल बनाएं और उसमें थोड़ा नमक मिला लें और इसे थोड़ा थोड़ा कर के पियें। इससे हिचकी की समस्या से छुटकारा मिलेगा।
3. हिचकी आने पर एक चम्मच नींबू का ताज़ा रस निकालें, अब इसमें थोड़ा शहद डालें और दोनों को साथ चाट लें। ऐसा करने से हिचकी की समस्या में आराम मिलेगा।
तीखी चीज़ खाने से भी हिचकी आने लगती है
4. अक्सर लोग तेज़ गति से खाना खाते हैं। वैसे तो शरीर के लिए यह ज़रूरी है कि खाना धीरे-धीरे चबाकर खाया जाए, लेकिन यदि तेज़ खाने की वजह से आपको हिचकी आ रही है, तो खाना आराम से खाएं। वहीं तीखी चीज़ खाने से भी हिचकी आने लगती है, इसीलिए यदि आपको हिचकी की समस्या है, तो तीखी चीज़ खाना टालें।
5. जब हिचकी की समस्या से ज्यादा परेशान हों, तो तुरंत चॉकलेट पाउडर खाना आपको फायदा पहुंचा सकता है। एक चम्मच चॉकलेट पाउडर खा लेने से हिचकी ठीक हो जाएगी।
इस तरह आप आसानी से हिचकी की समस्या से निजात पा सकते हैं।
मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..