मानसून का आगाज हो चुका है और बारिश में सिर्फ जलवायु ही नहीं बदलती, बल्कि बदलता है आपके आसपास का वातावरण। वातावरण में नमी के बढ़ जाने से हमारे शरीर पर इसका अलग-अलग असर होता है। खास तौर पर हमारी त्वचा और बालों पर। बारिश के मौसम में भीग जाना एक आम बात होती है, लेकिन इसकी वजह से जब हमारे बाल गीले हो जाते हैं, तो इसका ख़ामियाज़ा हमें चुकाना पड़ता है। बारिश में भीगे हुए बाल फ्रिज़ी होकर चिपचिपे होने लगते हैं और इसकी वजह से हमें रूसी की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। यदि आप भी अपने बालों का ख्याल रखना चाहते हैं, तो बारिश में भीगने के बाद ये टिप्स आपकी मदद कर सकती हैं।

भीगने के बाद शैम्पू ज़रूर करें

बालों में मौजूद गन्दगी और टॉक्सिन्स निकल जाएंगे

यदि आपके बाल बारिश में भीग गए हैं, तो आपको शैम्पू करने की ज़रुरत पड़ती है। बारिश में भीगे हुए बालों को गुनगुने पानी से भिगाएं और फिर माइल्ड शैम्पू लगाकर हल्के हाथों से मसाज करें। इसके बाद 2 से 3 मिनट तक शैम्पू को बालों में रख कर गुनगुने पानी से धो लें। इससे बालों में मौजूद गन्दगी और टॉक्सिन्स निकल जाएंगे और बाल चिपचिपे नहीं होंगे।

सप्ताह में दो बार कंडीशनर का इस्तेमाल करें

मुंबई के फेमस डर्मेटॉलजिस्ट डॉ मूर्ति की माने, तो बारिश के दिनों में बाल ज़्यादा झड़ते हैं, इसलिए आपको सप्ताह में दो बार कंडीशनर का इस्तेमाल करना चाहिए। बालों को माइल्ड शैम्पू से धोने के बाद कंडीशनर लगाएं और मात्र 30 सेकंड रखने के बाद धो लें। बारिश के दिनों में वातावरण में पहले से नमी ज़्यादा होती है, इसलिए कंडीशनर ज़्यादा देर रखने से बाल और भी चिपचिपे हो सकते हैं। ऐसे में डैंड्रफ की समस्या हो सकती है। इसलिए सप्ताह में दो बार बालों में कंडीशनर का इस्तेमाल करें।

तेल से मसाज है ज़रूरी

आप चाहें तो बादाम के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं

बारिश के दिनों में बाल भीगने की वजह से जल्दी टूटते हैं। इसलिए कम से कम सप्ताह में दो बार तेल से मसाज करें। तेल को हल्का गर्म करने के बाद इसे बालों की जड़ों में लगाएं और हल्के हाथों से मसाज करें। रात भर इसे रखने के बाद माइल्ड शैम्पू से धो लें। यदि आपको डैंड्रफ की शिकायत है, तो बाल धोने से 2 घंटे पहले तेल से मसाज करें और बाल धो लें। आप चाहें तो बादाम के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं, यह कम चिपचिपा होता है और बालों को आम तेल की तुलना में ज़्यादा पोषण देता है।

घरेलू मास्क का करें इस्तेमाल

सर्दियों के दिनों में बालों की नेचुरल शाइन वापस लाने के लिए केले और एवोकाडो से बने मास्क का इस्तेमाल करना आपके लिए बेहद फायदेमंद होगा। एक पके केले और एक एवोकाडो को अच्छी तरह से मिलाकर इसे स्कैल्प में लगाएं और करीब आधे घंटे के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दें। ध्यान रहे कि इसे हलके गुनगुने पानी से माइल्ड शैंपू की मदद से धोएं। इस हेयर मास्क को आप सप्ताह में एक बार इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे बालों में प्राकृतिक रूप से नमी वापस आएगी।

बारिश के दिनों में अंडा भी एक अच्छा नैचुरल हेयर मास्क साबित होता है। अंडे के पीले भाग को बालों में लगाने से बाल ना सिर्फ चमकदार बनेंगे, बल्कि यह बिखरेंगे नहीं। बारिश में अक्सर नमी की कमी की वजह से बिखरे-बिखरे हुए नज़र आते हैं, जिसकी वजह से आप इन्हे मैनेज नहीं कर पाते। अंडे के पीले भाग को फेंट कर अपने स्कैल्प पर अच्छी तरह से मसाज करें। करीब आधे घंटे बाद इसे गुनगुने पानी से धो लें। यह आपके डैमेज बालों को ठीक करेगा।