सुंदर आंखें इंसान की खूबसूरती चार गुना बढ़ा देती है, क्योंकि यह कुदरत की अनमोल देन है। इसलिए ज़रूरी है कि आंखों को बीमारियों से बचाव के लिए समय-समय पर इनकी सही देखभाल की जाए। खास तौर पर गर्मियों में, जब आंखों की समस्याएं बढ़ती हैं, ऐसे में आंखों का ख़याल रख कर हम इन समस्याओं से बच सकते हैं। यदि आप चाहते हैं कि इन गर्मियों में आंखों खूबसूरत बनी रहे, तो आपको यह उपाय ज़रूर आज़माने चाहिए। आइये डॉ नीलेश जैन से जानते हैं गर्मियों में आंखों को सेहतमंद बनाए रखने के तरीके।

ठंडा पानी है ज़रूरी

ठंडे पानी से आंखें धोने की सलाह दी जाती है

वैसे तो आंखें प्राकृतिक रूप से ठंडी होती है, जिसकी वजह है आंखों में मौजूद पानी, लेकिन कई बार गर्म हवा और तेज़ लू की वजह से आंखों में मौजूद तरल पदार्थ कम होने लगता है। यही वजह है कि ठंडे पानी से आंखें धोने की सलाह दी जाती है। ठंडे पानी से आंखें धोने की वजह से गर्मियों में भी आंखें सेहतमंद बनी रहती है।

सनग्लासेस का करें इस्तेमाल

गर्मियों में यू वी किरणों की वजह से आंखों को बेहद नुक्सान पहुंचता है, इसलिए इसलिए गर्मियों में सनग्लासेस इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। ध्यान रखें कि आप ऐसे सनग्लासेस का इस्तेमाल करें, जो पूरी तरह से आपकी आंखों को कवर करें और साथ ही यू वी रेडिएशन को रोक सके।ऐसे सनग्लासेस लें, जिनका रंग रोशनी को 80% तक ब्लॉक कर सकने की ताकत रखता हो, नहीं तो यू वी किरणों से आपकी आंखों का बचाव नहीं हो पाएगा।

भरपूर नींद

भरपूर नींद ना होने की वजह से आंखों को सबसे पहले नुकसान पहुंचता है।दिन भर काम करने की वजह से आंखें थक जाती है, लिहाजा अच्छी तरह से नींद ना लेने पर आंखों में दर्द की शिकायत रहती है। खास तौर पर गर्मियों के मौसम में यह नुकसान दुगुना हो सकता है, इसीलिए कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद ज़रूर लें।

स्विमिंग के दौरान रखें ध्यान

आप चाहें तो खीरे और आलू को भी कीसकर आंखों पर रखकर आराम ले सकते हैं

गर्मियों में लोग स्विमिंग करना पसंद करते हैं, लेकिन एक स्विमिंग पूल में बहुत से लोग तैरते हैं। इससे आंखों का संक्रमण होने का खतरा बढ़ जाता है। इसीलिए स्विमिंग पूल में जाने से पहले स्विमिंग ग्लासेस का इस्तेमाल जरूर करें। वरना आंखों का संक्रमण होते देर नहीं लगेगी।

मांसपेशियों का मसाज

आंखों के आसपास की मांसपेशियां लंबे समय तक काम करने की वजह से थक जाती हैं। ऐसे में यदि इन मांसपेशियों पर मसाज किया जाए तो रक्त संचार बढ़ जाता है। आंखों की पुतलियों के ऊपर बनी हड्डियों और मांसपेशियों पर हल्के हाथों से उंगलियों से मसाज करना आपकी आंखों के लिए बेहद फायदेमंद साबित होगा।

ये टिप्स अपनाएं

गर्मियों में तापमान जैसे-जैसे बढ़ता है आंखों का ठंडापन दूर होता जाता है।ऐसे में हमेशा गुलाब जल आंखों पर लगाएं। रुई में भिगोकर इसे कुछ देर के लिए आंखों पर रहने दें। आप चाहें तो खीरे और आलू को भी कीसकर आंखों पर रखकर आराम ले सकते हैं। इससे आंखों में ठंडक बनी रहती है और डार्क सर्कल भी कम होते हैं। साथ ही ध्यान रखें कि सर्दियों में ड्राई आइज़ की समस्या अक्सर लोगों में होती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हम 24 घंटे ए सी में रहते हैं। ए सी की हवा से आंखें ड्राई हो जाती हैं और आंखों में जलन और दर्द होने की शिकायत होती है। इसीलिए एयर कंडीशन के एकदम सामने ना बैठे। कुछ देर के लिए सामान्य तापमान में भी रहे।

इन टिप्स को आज़मा कर आप इन गर्मियों में आंखों का ख़याल रख पाएंगे।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..