दुनिया भर में हाई ब्लड प्रेशर मृत्यु का एक प्रमुख कारण है। भारत में हर साल हाई ब्लड प्रेशर के लगभग 10 मिलियन नए मामले सामने आ रहे हैं। हाई ब्लड प्रेशर एक बहुत ही सामान्य मेडिकल कंडीशन हो चुकी है और लगभग सभी आयु वर्ग के लोगों में इससे जुड़ी दिक्कतें सामने आ रही हैं। इस बीमारी की सबसे ख़ास बात है कि यह एक लंबे समय तक पकड़ में नहीं आती है। एक्सपर्ट्स की माने तो हाइपरटेंशन या हाईब्लड प्रेशर होने की मुख्य वजहों में से एक है ‘तनाव’, साथ ही किडनी से जुड़ी बीमारियों और बेतरतीब लाइफस्टाइल के कारण भी यह बीमारी अधिकांश लोगों को हो रही है।

आपको बता दें कि यदि सही समय पर हाई ब्लड प्रेशर का इलाज नहीं करवाया गया, तो यह आगे चलकर दिल की बीमारियों, ब्रेन स्ट्रोक और लकवे का कारण तक बन सकती है। दवाइयों से काफी हद तक हाईब्लड प्रेशर को नियंत्रित किया जा सकता है, लेकिन इसका सबसे बेहतरीन उपचार है अपने खाने-पीने की आदतों में सुधार करना, जिससे इस मेडिकल कंडीशन को काफी हद तक सुधारा जा सकता है। तो आइए जानते हैं कि कौन से ऐसे फूड्स हैं जो ब्लड प्रेशर की इस बीमारी से आपको बचा सकते हैं।

उच्च रक्तचाप से निपटने में कारगर है ग्रीन टी

Image Credit: healthywomen.org

भोपाल की डायटीशियन अंजू विश्वकर्मा के मुताबिक, ग्रीन टी उच्च रक्तचाप से निपटने में काफी प्रभावी होती है क्योंकि इसमें पॉलीफेनोल पाया जाता है। पॉलीफेनोल्स शक्तिशाली, पौधे-आधारित पोषक तत्वों का एक समूह है और पर्याप्त मात्रा में ग्रीन टी में पाया जाता है। इसके सेवन से ब्लड प्रेशर में काफी सुधार होता है।

अनार का जूस

अनार का जूस उच्च रक्तचाप को कम करने में मदद करता है, कोलेस्ट्रॉल के स्तर में सुधार करता है यहां तक कि आपकी धमनियों में आ रहे ब्लॉकेज को भी काफी हद तक घटा देता है।

चुकुन्दर का जूस

चुकंदर का रस धमनियों को आराम देता है, जिससे रक्तचाप को कम करने में मदद मिलती है। प्रति दिन 250 मिलीलीटर चुकंदर का रस पीने से रक्तचाप को 7.7 / 5.2 mmHg तक कम किया जा सकता है।2 गाजर, 1 सेब, और 1 ककड़ी के साथ चुकंदर का रस लेना बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है।

हिबिस्कस टी

हिबिस्कस टी में एंथोसायनिन और अन्य एंटीऑक्सिडेंट अच्छी मात्रा में मौजूद रहते हैं यह धमनियों को सिकुड़ने से बचाते हैं।इसलिए यदि आप ब्लड प्रेशर की स्थिति को नियंत्रित करना चाहते हैं तो हिबिस्कस टी का सेवन करना शुरू कर दें।

अजवाइन का रस

अजवाइन में 3-n-butylphthalide होता है, जो ब्लड वेसल्स की मसल्स वॉल को आराम देता है।इससे ब्लड प्रेशर कम होने के चांसेस बढ़ जाते हैं, दरअसल अजवाइन का रस पीने से ब्लड वेसल्स फ़ैल जाती हैं और ब्लड का फ्लो काफी आसान हो जाता है। अजवाइन, सेब, गाजर, और चुकंदर का जूस ब्लड प्रेशर की समस्या से निपटने के लिए बेहद फायदेमंद है।

केले

पोटेशियम से भरपूर खाद्य पदार्थ खाने से रक्तचाप को कम करने में भी मदद मिलती है और यह केले को एक बेहतरीन विकल्प बनाता है। इसलिए यदि आप हाइपरटेंशन या हाईब्लड प्रेशर की बीमारी से ग्रसित हैं तो केले को अपनी डाइट में ज़रूर शामिल करें।

प्याज

प्याज में प्रोस्टाग्लैंडीन-ए पाया जाता है, जो ब्लड वेसल्स के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। यह ब्लड के गाढ़ेपन को दूर करता है साथ ही ब्लड के माइक्रोसरकुलेशन में ज़बरदस्त सुधार करता है।

ओट्स

ओट्स एक उच्च फाइबर, कम वसा और कम सोडियम वाला भोजन है जो आपके ब्लड प्रेशर को एक सही स्तर पर रखने में मदद करता है।

पानी

यदि आप हाइपरटेंशन या हाईब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित हैं, तो पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं। हाइपरटेंशन या हाईब्लड प्रेशर की समस्या को नियंत्रित करने का यह सबसे आसान तरीका है।हाइपरटेंशन या हाईब्लड प्रेशर का एक बहुत बड़ा कारण डिहाइड्रेशन है।

नमक

अंत में, नमक के सेवन को नियंत्रित करना महत्वपूर्ण है। प्रतिदिन 1 चम्मच से अधिक नमक या 5 ग्राम नमक का सेवन न करें। इसके अलावा, सोडियम युक्त खाद्य पदार्थों से बचने की कोशिश करें: बेकिंग पाउडर, डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ, संरक्षित खाद्य पदार्थ, नमकीन अचार, चिप्स, नट्स, पॉपकॉर्न, और बिस्कुट इनका सेवन कम से कम करें।

This is aawaz guest author account