अक्सर ऐसा होता है कि लोगों को दांत के दर्द और दांत में सड़न की शिकायत होती है। ऐसे में कई बार बेसमय दांत का दर्द आपको परेशान कर सकता है। यदि आप भी दांत के दर्द से परेशान हैं, तो आज हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं, जिससे दांतो के दर्द में आपको तुरंत आराम होगा। तो अपनाएं यह टिप्स और दांतो के दर्द को हमेशा के लिए कहिए बाय-बाय!
आपके टूथपेस्ट में नमक हो या ना हो, मगर जब दातों का दर्द होता है, तो आपको गर्म पानी में नमक डालकर कुल्ला करना चाहिए। इससे आपको तुरंत आराम मिलता है।
आप चाहें तो लहसुन की कली को नमक में डुबोकर दर्दवाली जगह पर रखें।ऐसे में दांतो के दर्द में आराम होगा। यदि आपको दांत दर्द की शिकायत नहीं है, तो भी आप रोज़ सुबह लहसुन की एक कली चबाकर खा सकते हैं, जिससे आपके दांत हमेशा के लिए मज़बूत रहेंगे।
Try brushing with a fresh minty toothpaste
आपको गर्म पानी में नमक डालकर कुल्ला करना चाहिए।
रोज सुबह कच्ची प्याज़ खाने से भी दांतों के दर्द में आराम मिलता है। हर 3 मिनट में एक स्लाइस प्याज़ खाने से मुंह में मौजूद कीटाणु मर जाते हैं और दर्द से आराम मिलता है।
जैसा कि सभी जानते हैं नींबू विटामिन सी का बड़ा स्त्रोत है, इसीलिए जब दांत का दर्द हो, तो दर्दवाले हिस्से में नींबू का कतरा लगाएं। इससे दर्द में तुरंत राहत मिल सकती है।
दांत में दर्द हो तो मुंह में लौंग रखने से भी आराम मिलता है। तेज़ दर्द के दौरान दर्द वाले हिस्से पर लौंग का तेल लगाना भी आपके लिए फायदेमंद साबित होगा।
यदि आपको तीखा खाने से तकलीफ ना हो, तो आप काली मिर्च का पाउडर और नमक मिलाकर दर्द वाले जगह पर लगाएं।इससे आपको तुरंत आराम मिलेगा।
आप शायद नहीं जानते होंगे कि टी बैग्स भी दांत के दर्द में फायदेमंद होते हैं। जब दांत का दर्द हो, तो गर्म पानी में डुबाकर रखे हुए टी बैग्स से दर्द वाले हिस्से की सिकाई करें। दांतों के दर्द में आराम मिलेगा।
आपको जानकर हैरानी होगी कि ब्रांडी के इस्तेमाल से भी आपका दांत का दर्द छूमंतर हो सकता है। रुई में ब्रांडी को डुबोकर उसे दांतों में दर्द वाले स्थान पर लगाएं, इससे दातों का दर्द दूर हो जाएगा।

यदि आपके दांत में तेजी से दर्द हो रहा है और यह आपको परेशान कर रहा है, तो इन टिप्स को अपनाकर आप कुछ ही मिनटों में दर्द से छुटकारा पा सकते हैं।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..