खूब कसरत करना और डाइट का विशेष ध्यान रखना वजन कम करने का एक रामबाण उपाय है। इन दोनों ही नियमों का सही ढंग से पालन करने से वजन तेजी से घटने लगता है।हालांकि, जल्दी वजन घटाने के चक्कर में अक्सर लोग कैलोरीज की मात्रा एकदम से गिरा लेते हैं। शरीर के लिए बेहद ज़रूरी इन कैलोरीज का अचानक से कम होना आगे चलकर शरीर के लिए बेहद नुकसानदायक साबित होता है। ऐसे में हमारे लिए यह जानना बेहद ज़रूरी है कि वह कौन से संकेत हैं जो हमारा शरीर कैलोरीज कम होने पर देता है।

पेट की समस्या

अमिता सिंह कंसल्टेंट मेडिकल डायटीशियन, नेशनल हॉस्पिटल, भोपाल के अनुसार, यदि आप लगातार पेट की किसी समस्या जैसे, दस्त, कब्ज, गैस, आदि से जूझ रहे हैं तो वक़्त है सावधान होने का। जी हां, एक्सपर्ट्स की मानें तो यही वह पहला संकेत है, जो बताता है कि हमारा शरीर कैलोरीज की कमी से जूझ रहा है। लगातार पेट की समस्या का बने रहना इस ओर संकेत करता है कि शरीर को और कैलोरीज़ की आवश्यकता है। दरअसल जब भी आप ना के बराबर खाते हैं तो आपके पाचन तंत्र में फाइबर की कमी हो जाती है और यही पेट की समस्या की एक बड़ी वजह बनती है। इसलिए एक्सपर्ट्स हमेशा सलाह देते हैं कि अपनी डाइट को संतुलित बनाये रखें।

कमजोरी, बालों का झड़ना और कई स्वास्थ्य समस्याएं देती हैं संकेत, आपको है कैलोरीज की कमी

लगातार कमजोरी का बना रहना भी है एक निशानी

Image Credit: hellodoctor.co.za

यदि आपको लगातार कमज़ोरी बनी रहती है और इसके चलते आप अपने रोजमर्रा के कामों को भी ठीक ढंग से नहीं कर पाते तो अलर्ट हो जाइए। लगातार कमजोरी का बना रहना भी इस ओर इशारा करता है कि आपके शरीर में कैलोरीज की कमी है। ऐसे में कमजोरी से निपटने का सबसे बेहतरीन तरीका है प्रोटीन युक्त भोजन करना। एक्सपर्ट्स के अनुसार, दाल-चावल इसका एक बेहतरीन विकल्प है।

बालों का झड़ना

बालों का झड़ना बताता है कि आपकी डाइट सही नहीं है। अनियमित डाइट और कम मात्रा में कैलोरीज लेने से बाल झड़ने लगते हैं। इससे बचने का सबसे अच्छा उपाय है अपनी डाइट में उन सभी पोषक तत्वों को शामिल करना जो आपके शरीर के लिए ज़रूरी हैं। इसलिए जब भी आप बालों की समस्या से दो-चार हों तो सबसे पहले अपनी डाइट की तरफ ध्यान दें और उसमें सुधार करें।

ठण्ड लगना या कपकपी आना

यदि आप वजन घटाने के लिए कोई स्पेशल डाइट प्लान फॉलो कर रहे हैं और इस दौरान आपको ठण्ड या कपकपी की शिकायत बनी रहती है तो तत्काल अपनी डाइट चेक करें। दरअसल, हमारे शरीर को एक निश्चित मात्रा में कैलोरीज की ज़रूरत होती है ताकि बॉडी में गर्माहट बनी रहे। हालांकि, जल्दी वजन घटाने के चक्कर में अक्सर लोग कैलोरीज की मात्रा गिरा लेते हैं जिसके चलते शरीर का तापमान कम हो जाता है और इसी के चलते ठण्ड या कपकपी की समस्या लोगों को परेशान करती है।

बहुत जल्दी बीमार पड़ना

वेट लूज करने के चक्कर में अधिकांश लोग बेहद कम मात्रा में कैलोरीज लेते हैं। इसका सबसे बड़ा नुकसान होता है हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता पर। कम कैलोरीज लेने से हमारा शरीर धीरे-धीरे कमजोर होता चला जाता है और नतीजा होता है रोग प्रतिरोधक क्षमता में कमी। यही कारण है कि लोग बहुत जल्दी बीमार पड़ जाते हैं। इससे बचने का एकमात्र उपाय है डाइट पर संतुलन बनाए रखना।

नींद की समस्या होना

वेट लूज करने के चक्कर में खाली पेट रहना या बेहद कम कैलोरीज का सेवन करना नींद ना आने की समस्या का कारण बनता है। वैसे भी कहावत है कि भूखे पेट नींद नहीं आती। एक्सपर्ट्स के अनुसार, शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने के चलते भी रात को नींद नहीं आती है। इसलिए कोशिश करें कि आप अपनी डाइट में इतनी कैलोरीज ज़रूर शामिल करें जिससे आपको अनिद्रा या नींद ना आने की समस्या से दो-चार ना होना पड़े।

वजन का कम ना होना

लगातार कसरत करने और सही डाइट लेने के बावजूद भी यदि आपका वजन कम नहीं हो रहा है तो यही सही समय है अपनी डाइट को री-चेक करने का। दरअसल, ऐसा होना भी इस ओर इशारा करता है कि आपका शरीर कैलोरीज और अन्य पोषक तत्वों की कमी से जूझ रहा है।

मूड स्विंग

वजन कम करने के चक्कर में यदि आपने भी अपने डाइट प्लान में कुछ बदलाव किये हैं और इसके बाद आपको चिढ़चिढ़ापन, गुस्सा या चक्कर आते हैं तो सावधान। दरअसल, हम डाइट में से कई बार ऐसी कैलोरीज को भी निकाल देते हैं तो शरीर और खासतौर पर दिमाग के सही फंक्शन के लिए बेहद ज़रूरी होती हैं। नतीजतन, मूड स्विंग की समस्या से जूझना पड़ता है। इसलिए ऐसी किसी भी समस्या होने पर अपनी डाइट को ज़रूर चेक करें।

This is aawaz guest author account