ओणम केरल के सबसे प्रमुख त्योहारों में से है लेकिन उसकी धूम पूरे दक्षिण भारत में रहती है। ओणम हिन्दू पंचांग के अनुसार भाद्र माह की शुक्ल त्रयोदशी को मनाया जाता है। इस बार इस त्योहार की शुरुआत 1 सितंबर से हुई और अब 11 सितंबर को इसका समापन हो रहा है। इस प्रमुख त्योहार पर घरों में तरह-तरह के पकवान बनाने की परंपरा है। इसमें ओणम साध्य थाली परोसने की परंपरा है, जिसमें 24 प्रकार के व्यंजन परोसे जाते हैं। ओणम के दौरान केले के पत्ते पर कई प्रकार के व्यंजन परोसे जाते हैं ,जो अनिवार्य रूप से बनाये जाते हैं। आइये आपको बताते हैं ओणम के कुछ स्वादिष्ट व्यंजनों के बारे में जो इस मौके पर प्रमुखता से बनाये और खिलाये जाते हैं।

एरिस्सरी: यह कद्दू, लहसुन और हरी मिर्च को कसे हुए नारियल के साथ मिलाकर बनाया जाता है। साथ ही इसमें सरसों, मिर्च और करी पत्ती का तड़का लगाया जाता है।

पचड़ी: यह थाली की सबसे जरुरी डिशेज में से एक है। इसमें नारियल, दही और अनानास को प्रमुखता से इस्तेमाल किया जाता है और इसमें तीखी मिर्च और मसालों को मिलाया जाता है। इस स्वादिष्ट पकवान को चावल या रोटी के साथ खाया जाता है।

एवियल: एक स्वादिष्ट व्यंजन जिसमें आलू, गाजर, कच्चा केला, ड्रमस्टिक, बीन्स और कच्चे आम का उपयोग होता है। अवियल एक पारंपरिक केरल व्यंजन है जिसे चावल के साथ परोसा जाता है और यह बेहद स्वादिष्ट लगती है।

ओणम के मौके पर घरों में बनते हैं ये स्वादिष्ट पकवान

रसम के बिना अधूरा है खाना
रसम के बिना अधूरा है खाना

Image Credit: revisfoodography.com

रसम: तुअर दाल को बहुत सारी मिर्च और टमाटर के साथ अन्य मसालों के साथ मिलाकर बनाया जाता है। यह हर साउथ इंडियन की पसंदीदा होती है और इसके बिना खाना अधूरा माना जाता है। रसम को सूप के रूप में या उबले हुए चावल के साथ खाया जा सकता है।

इंजीपुल्ली: इंजीपुल्ली एक प्रकार की चटनी होती है और यह ओणम साध्य का अहम हिस्सा होती है। इसे अदरक और इमली से तैयार किया जाता है।

थोरान: ओणम साध्य में एक और डिश होती है जिसका नाम होता है थोरान। यह उत्तर भारतीय शैली में बनी सब्जियों की तरह ही होती है जिसे पत्तागोभी, गाजर और बींस से बनाया जाता है। बस इसमें किसा हुआ नारियल जरुर मिलाया जाता है क्योंकि दक्षिण भारतीय व्यंजन नारियल के बिना अधूरे माने जाते हैं।

उल्ली थेयाल: भुनी हुई नारियल की ग्रेवी में पकाए गए छोटे प्याज के साथ बनाई गई यह डिश भी ओणम के मौके पर जरुर बनाई जाती है । यह स्वादिष्ट, मसालेदार और जायके से भरपूर डिश केरल में मिलने वाले मोटे चावल के साथ खाने में बेहद स्वादिष्ट लगती है।

फ्राइड फिश: केरल अपने मांसाहारी खाने के लिए भी मशहूर है। ओणम थाली में कुछ लोग मांसाहारी खाना भी परोसते हैं।इसमें फ्राइड फिश सबसे फेमस है। लाल मिर्च,अदरक,लहसुन के पेस्ट में लपेटकर फिश को फ्राई किया जाता है जिसे सभी बेहद चाव से खाते हैं ।

This is aawaz guest author account