शाकाहारी लोगों को अक्सर यह दुविधा रहती है कि उनकी डाइट में प्रोटीन सही मात्रा में है भी या नहीं। हालांकि, डॉक्टर्स और एक्सपर्ट्स की मानें तो एक प्लांड डाइट को यदि फॉलो किया जाए तो शरीर के लिए आवश्यक सभी पोषक तत्वों को प्राप्त किया जा सकता है। प्रोटीन रिच डाइट लेने के कई फायदे हैं जैसे सही मात्रा में इसे लेने से ना सिर्फ वजन कम होता है बल्कि मांसपेशियां भी मजबूत बनती हैं। एक व्यक्ति को प्रतिदिन प्रोटीन कितनी मात्रा में लेना चाहिए यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपकी डेली एक्टिविटी क्या है ? आपकी उम्र कितनी है ? और आपका वजन कितना है ? यदि आप भी शाकाहारी हैं तो आज ही अपनी डाइट में इन 7 फूड्स को शामिल कर सकते हैं जो ना सिर्फ प्रोटीन के बेस्ट सोर्स हैं, बल्कि बड़ी ही आसानी से उपलब्ध भी हैं।

प्रोटीन से लबालब है यह वेज फूड्स

टोफू है बेहद लाभकारी
टोफू है बेहद लाभकारी

सोया पनीर

इंदौर की डायटीशियन (पीएचडी, एम.एस.सी) प्रीति शुक्ला के अनुसार, प्रोटीन के सबसे अच्छे सोर्स में से एक है सोया पनीर, इसे इंग्लिश में टोफू भी कहा जाता है। एक्सपर्ट्स के अनुसार, सोया पनीर के सेवन से शरीर को अच्छी खासी मात्रा में प्रोटीन मिलता है। यही नहीं सोया पनीर में मौजूद फाइबर, विटामिन और अन्य पोषक तत्व इसे स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभदायक बना देते हैं। हालिया स्टडी से पता चलता है कि डाइट में नियमित तौर पर सोया पनीर को शामिल करने से ना सिर्फ मोटापा कम होता है, बल्कि हार्ट संबंधी बीमारियों के होने के चांसेज भी कम रहते हैं। इसलिए यदि आप शाकाहारी हैं तो अपने डाइट चार्ट में आज ही सोया पनीर को शामिल करें।

दाल

प्रोटीन के दूसरे सबसे अच्छे सोर्सेज में से एक है दालें। हर घर में लगभग प्रतिदिन कोई ना कोई दाल ज़रूर बनती है। क्या आप जानते हैं कि दालों में फैट की मात्रा बेहद कम होती है और इनमें प्रोटीन का एक भंडार होता है। दाल का सेवन आपके पाचनतंत्र को भी मजबूत करता है। शरीर में प्रोटीन की संतुलित मात्रा के लिए ज़रूरी है कि नियमित दालों का सेवन किया जाए। सभी दालों जैसे- तुअर,अरहर, मूंग, चने की दाल, मसूर की दाल आदि में अच्छी खासी मात्रा में प्रोटीन होता है। इसलिए इन दालों में से जिसका भी स्वाद आपको पसंद हो उसका सेवन ज़रूर करिए। एक्सपर्ट्स के अनुसार उपरोक्त सभी दालों में प्रति 100 ग्राम, 7 -10 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है।

पालक

पालक भी प्रोटीन का एक बेहतर विकल्प है। एक्सपर्ट्स के अनुसार, पालक का सेवन ना सिर्फ शरीर की कमज़ोरी दूर करता है, बल्कि इसमें अच्छी मात्रा में प्रोटीन भी पाया जाता है।साथ ही यदि पालक का सेवन पनीर के साथ किया जाये तो इससे और अधिक अधिक फायदा लिया जा सकता है। एक्सपर्ट्स के अनुसार, पालक के सेवन से कैंसर का खतरा भी काफी हद तक कम हो जाता है और इससे वजन बढ़ने और मोटापे की समस्या से भी निजात पाई जा सकती है। प्रति 100 ग्राम पालक में 7 ग्राम के आसपास प्रोटीन पाया जाता है।

मटर

एक कप मटर के दानों में लगभग 8 ग्राम प्रोटीन होता है। मटर खाने से रोगप्रतिरोधक क्षमता का भी विकास होता है। प्रोटीन के साथ ही मटर में विटामिन -C भी अच्छी मात्रा में होता है जो शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होता है।

बादाम

26 ग्राम बादाम में लगभग 6 ग्राम प्रोटीन होता है। बादाम खाना वैसे भी स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा होता है। इसमें मौजूद फाइबर और अन्य पोषक तत्त्व शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। इसलिए कोशिश करें कि अपनी डाइट में सूखे मेवे के तौर पर बादाम को ज़रूर शामिल करें।

काजू

काजू भी प्रोटीन का एक बड़ा सोर्स है। काजू में मैगनीशियम भी पाया जाता है जो पेट के लिए बहुत फायदेमंद है। साथ ही काजू के नियमित सेवन से शरीर का रोग प्रतिरोधक सिस्टम भी एक्टिव रहता है, जिसके चलते आप छोटी-मोटी सीजनल बीमारियों से दूर रहते हैं।

कुट्टू का आटा

कुट्टू के आटे का जिक्र आपने अक्सर व्रत के दौरान सुना होगा। जर्नल ऑफ़ न्यूट्रीशन द्वारा 2013 में पब्लिश की गई रिपोर्ट में बताया गया है कि आधा कप कुट्टू के आटे में 2 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है। प्रोटीन के साथ ही कुट्टू के आटे में मैगनीशियम भी होता है। डायबिटीज के रोगीयों के लिए भी यह एक बेहतरीन आहार है।

This is aawaz guest author account