आज होली के त्योहार का लोग बाहें फैलाए स्वागत करने के लिए तैयार हैं। इस त्यौहार में लोग आपसी रंजिश भुलाकर लोगों से मिलते हैं और एक-दूसरे का रंगों से स्वागत करते हैं। जहां बच्चे टोलियों में इस त्यौहार का मज़ा लूटते हैं, वहीं बड़े ठंडाई की मिठास से मदहोश हो हंसते-खिलखिलाते हैं। हर साल की तरह आज भी ठंडाई से मेहमानों की आवभगत की जाएगी। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस ठंडाई से आपकी सेहत को भी बेहद फायदे होते हैं? यदि नहीं, तो आइये जानते है इससे जुड़े कुछ ऐसे सेहतमंद फायदे, जिसके बारे में आपने कभी नहीं सुना होगा।

विटामिन का खज़ाना

ठंडाई को दूध और मेवों से मिलाकर बनाया जाता है

 

यदि आपको ऐसा लगता है कि ठंडाई आपके लिए सिर्फ एक कोल्ड ड्रिंक की तरह काम करती है, तो गलत हैं। क्योंकि ठंडाई में कई ऐसे तत्व हैं, जो आपके शरीर को बेहद फायदा पहुंचा सकते हैं। ठंडाई को दूध और मेवों से मिलाकर बनाया जाता है, जिसमें भरपूर मात्रा में फायबर और विटामिन जैसे तत्व पाए जाते हैं। इसलिए ठंडाई पीना आपके लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है।

पाचन के लिए बढ़िया

अक्सर लोगों को सुबह उठने के बाद अपच,कब्ज़ और एसिडिटी की शिकायत होती है। लेकिन एक ग्लास ठंडाई पीने से आपको बेहद राहत मिल सकती है। इसे इलायची और खसखस के बीजों के साथ बनाया जाता है, जिसकी वजह से शरीर डीटॉक्सिफाय होता है। इसके अलावा इसे पीने से पाचन तंत्र ठीक होता है और पेट से जुड़ी हुई समस्या से छुटकारा मिलता है।

ऊर्जा का भंडार

ठंडाई में मौजूद इलायची, खसखस, मिश्री, सौंफ जैसी चीज़ों से शरीर को आयरन, मिनरल्स और ज़िंक जैसे तत्व मिलते हैं, जो होली के दौरान होने वाली थकान को कुछ ही देर में दूर कर देते हैं। इसलिए ठंडाई का एक ग्लास आपको कई घंटों की ऊर्जा देकर जाता है।

इम्यून सिस्टम के लिए वरदान

गाय के दूध में सौंफ, खसखस, गुलकंद, गुलाब के पत्ते इत्यादि मिलाकर बनाई गई ठंडाई आपको डिहाइड्रेशन और गर्मी से बचाती है

 

ठंडाई में मौजूद काली मिर्च और इलायची में एंटी बैक्टेरियल और एंटी सेप्टिक गुण होते हैं, जो शरीर में मौजूद विषैले तत्वों से लड़ने में मदद करते हैं और शरीर के इम्यून सिस्टम को मज़बूत बनाते हैं। होली के दौरान ठंड और थकान से आप बीमार हो सकते हैं, इसलिए ठंडाई आपको इन बिमारियों से बचाती है।

डिहाइड्रेशन से रखे दूर

होली खेलने से आपको प्यास ज़्यादा लगती है और एनर्जी ख़त्म होती है। यदि आप इस दौरान सहीं मात्रा में तरल पदार्थ ना लें, तो आपको डिहाइड्रेशन की शिकायत हो सकती है। गाय के दूध में सौंफ, खसखस, गुलकंद, गुलाब के पत्ते इत्यादि मिलाकर बनाई गई ठंडाई आपको डिहाइड्रेशन और गर्मी से बचाती है और आपके शरीर में पानी की कमी नहीं होने देती।

इस तरह एक ग्लास ठंडाई होली के मौके पर आपके लिए वरदान से कम नहीं मानी जाती।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..