खाने में स्वादिष्ट भिंडी अपने अंदर ढेर सारी विशेषताएं समेटे हुए है। शाकाहारी लोगों की पसंदीदा सब्जियों में से एक भिंडी बहुत ही पौष्टिक आहार है। इसमें मौजूद फायबर,विटामिन्स और अन्य मिनरल्स इसे एक बेहतरीन आहार बनाते हैं। एक्सपर्ट्स के अनुसार, भिंडी ना सिर्फ वजन कम करने में सहायक होती है, बल्कि कई बीमारियों में इसे खाने से लाभ मिलता है, इनमें प्रमुख हैं – अस्थमा और डायबिटीज। यही नहीं भिंडी के ऐसे ही फायदों को देखते हुए गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को भिंडी का सेवन करने की हिदायत भी अक्सर दी जाती है। आइये एक्सपर्ट से जानते हैं भिंडी खाने के कुछ ऐसे ही फायदों के बारे में…

वज़न कम करने में सहायक

डायटीशियन प्रीति शुक्ला के मुताबिक, भिंडी फाइबर का एक अच्छा सोर्स है। चूंकि इसमें अच्छी मात्रा में फाइबर पाया जाता है और इसके सेवन से पाचनतंत्र मजबूत रहता है। साथ ही भिंडी का सेवन करने से लंबे समय तक पेट भरा-भरा रहता है जिसके कारण आपको जल्दी भूख नहीं लगती। इसलिए डाइटिंग कर रहे लोगों को अपनी मील में भिंडी को ज़रूर शामिल करना चाहिए। आपको बता दें कि भिंडी का सेवन हमारे मेटाबॉलिज्म को भी मजबूत करता है।

डायबिटीज में फायदेमंद भिंडी

ऐसे लोग जिन्हें खून में ब्लड ग्लूकोज लेवल कम होने की परेशानी है, उन्हें अपनी डाइट में भिंडी को ज़रूर शामिल करना चाहिए। भिंडी में अच्छी मात्रा में फाइबर होता है और इसे खाने से खून में शुगर और इन्सुलिन का लेवल नियंत्रण में रहता है। भिंडी में मायराइसिटन नामक एक तत्व पाया जाता है जो शरीर में शुगर के लेवल को नियंत्रण में रखता है।

अस्थमा के रिस्क को घटाए

भिंडी का सेवन करने से अस्थमा जैसी बीमारी में भी काफी हद तक लाभ मिलता है। भिंडी में विटामिन – सी पाया जाता है और इसके सेवन से अस्थमा के लक्षणों में काफी सुधार देखा गया है। आपको बता दें कि एक कप बराबर भिंडी में लगभग 21 ग्राम विटामिन सी पाया जाता है।

भिंडी खाने के फायदे

पेट की समस्याओं को भी दूर करे भिंडी
पेट की समस्याओं को भी दूर करे भिंडी

पाचनतंत्र के लिए लाभदायक

भिंडी का सेवन करना पाचन के लिए सबसे अच्छा बताया गया है। दरअसल, भिंडी में अच्छी मात्रा में फाइबर पाया जाता है और इसके सेवन से पेट से जुड़ी समस्याओं जैसे अपच, गैस और कब्ज में आराम मिलता है। आपको बता दें कि कुछ रिसर्च तो यहां तक दावा करती हैं कि आप अल्सरेटिव कोलाइटिस जैसी बीमारी में भी भिंडी का सेवन कर सकते हैं।

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाए

भिंडी में मौजूद विटामिन्स शरीर में सफेद रक्त कोशिकाओं का विकास करता है। इसका नतीजा यह होता है कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता काफी हद तक बढ़ जाती है। आपको बता दें कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने पर आप छिट-पुट बीमारियों जैसे सर्दी, जुखाम और बुखार से आसानी से बच सकते हैं।

किडनी रोग में फायदेमंद

भिंडी के सेवन से किडनी की हेल्थ में भी काफी हद तक सुधार होता है। साल 2005 में जिलिन मेडिकल जर्नल द्वारा प्रकाशित एक रिसर्च में इस संबंध में डिटेल जानकारी दी गई है। इसमें बताया गया है कि कैसे भिंडी का सेवन नहीं करने वालों की तुलना में इसे खाने वालों की किडनी ज्यादा अच्छी अवस्था में पाई गई थी।

गर्भावस्था में विशेष लाभकारी

विटामिन ए, बी विटामिन (बी 1, बी 2, बी 6) और विटामिन सी सहित, जिंक और कैल्शियम की मौजूदगी भिंडी को गर्भावस्था के दौरान खाने के लिए सबसे बेहतरीन विकल्प बनाती है। भिंडी में फोलिक एसिड भी पाया जाता है, ऐसे में इसके सेवन से गर्भावस्था के दौरान आने वाली परेशानियों को इसके सेवन से कुछ हद तक कम किया जा सकता है।

This is aawaz guest author account