क्या आप अक्सर थका-थका हुआ महसूस करते हैं ।यदि हां, तो इस विषय में आपको गंभीरता से सोचना चाहिए। पोषक तत्वों की कमी के चलते अक्सर शरीर में थकान और लो एनर्जी बनी रहती है। ऐसे में यह जानना ज़रूरी है कि वह कौन से फूड्स हैं जिनके सेवन से हम शरीर में एनर्जी बढ़ा सकते हैं। एक्सपर्ट्स की मानें तो फूड्स का सही कॉम्बिनेशन लेने से हम अपने शरीर को पर्याप्त एनर्जी दे सकते हैं। तो आइये जानते हैं कुछ ऐसे फूड्स के बारे में इनका सेवन करने से मिलती है एनर्जी।

केले- जबलपुर की डायटीशियन मंजरी ताम्रकार के मुताबिक, इंस्टेंट एनर्जी के लिए केले को सबसे उपयुक्त माना गया है। फ़ूड एक्सपर्ट्स की मानें तो अपनी मील में केला शामिल करना आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होगा। प्रति 100 ग्राम केले में 23 ग्राम कार्ब्स आसानी से मिल सकता है। साथ ही इसमें अच्छी मात्रा में पोटेशियम भी होता है जो आपको अच्छी-खासी एनर्जी देता है।

अंडा- अंडे में अच्छी मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है और इसे प्रोटीन का नेचुरल सोर्स भी कहा जाता है। प्रति 100 ग्राम अंडे में 13 ग्राम के लगभग प्रोटीन होता है। प्रोटीन का यह भंडार अंडे की जर्दी (सफ़ेद हिस्से) में पाया जाता है। डाइट में अंडे को शामिल करने से आपको लो एनर्जी की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा।

कमजोरी में खाएं ये फूड्स तुरंत मिलेगी एनर्जी

बॉडी में एनर्जी लेवल मेंटेन करता है दही

Image Credit: imimg.com

दही- दही में अच्छी मात्रा में विटामिन, कैल्शियम और प्रोटीन पाया जाता है। लगभग 100 ग्राम दही में बड़े ही आराम से 10 ग्राम प्रोटीन की खुराक होती है। यदि आपको बॉडी में एनर्जी का लेवल मेंटेन करना है तो डाइट में दही को शामिल ज़रूर करें।

आलू- आलू में प्रोटीन और कार्ब्स का अच्छा संतुलन होता है। 100 ग्राम आलू में आसानी से 17 ग्राम के लगभग कार्ब्स मिल जाते हैं। आलू का जूस जो कि कच्चे आलू से बनता है, पोषक तत्वों और खनिजों से भरपूर होता है और इसे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। आलू का रस विटामिन बी और सी का एक उत्कृष्ट विकल्प माना जाता है। आलू के जूस में स्टार्च होता है जो इसे स्वादिष्ट बनाता है, और बेहतर स्वाद के लिए आप इसे अन्य सब्जियों के जूस के साथ इस्तेमाल कर सकते हैं। ऊर्जा के स्तर (एनर्जी लेवल) को बढ़ाने के लिए आलू का जूस एक उत्कृष्ट विकल्प है। आलू के जूस में थियामिन का उच्च स्तर होता है, जो कार्बोहाइड्रेट को उपयोगी ऊर्जा में तोड़ने में मदद करता है।

पनीर- पनीर को प्रोटीन का सबसे अच्छा सोर्स माना जाता है। पनीर में सबसे ज्यादा मात्रा में प्रोटीन होता है। प्रत्येक 100 ग्राम पनीर में लगभग 18 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है।

पालक- रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने वाली पालक भी प्रोटीन और आयरन का एक अच्छा सोर्स है। प्रति 100 ग्राम पालक में लगभग 7 ग्राम प्रोटीन होता है। यही नहीं, पालक जहां प्रोटीन का एक अच्छा सोर्स है, वहीं यह दिल की बीमारियों से लड़ने में भी काफी कारगर है।

मक्का- मक्का फाइबर और प्रोटीन का अच्छा सोर्स है। डाइट में मक्के के सेवन से शरीर में प्रोटीन की कमी को पूरा किया जा सकता है। प्रत्येक 100 ग्राम मक्के में लगभग 4 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है।

चिकन- यदि आप मांसाहारी भोजन करते हैं तो ऐसे में प्रोटीन का सबसे बेहतरीन विकल्प चिकन हो सकता है। प्रति 100 ग्राम चिकन में 27 ग्राम के करीब प्रोटीन की मात्रा होती है।

चावल- चावल में अच्छी मात्रा में कार्ब्स होता है। प्रत्येक 100 ग्राम चावल में 28 ग्राम के करीब कार्ब्स मिलता है। डाइट में चावल को शामिल करने से ग्लाइकोजन की घटती मात्रा को आसानी से नियंत्रित किया जा सकता है। आपको बता दें कि चावल में अन्य विटामिन जैसे विटामिन-ए , विटामिन-सी, आयरन एवं फाइबर भी अच्छी मात्रा में होता है। यह आपकी एनर्जी की ज़रूरतों को काफी हद तक पूरा कर सकता है।

मिल्क- चॉकलेट मिल्क एक एनर्जी ड्रिंक का काम करता है। साथ ही इसमें अच्छी मात्रा में कार्ब्स भी होते हैं जो शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। प्रति 100 ग्राम चॉकलेट मिल्क में 10 ग्राम कार्ब्स होते हैं।