सब्जियों में एक सब्जी है पत्ता गोभी, जिसे बंद गोभी और कैबेज के नाम से सभी जानते हैं। पत्ता गोभी दूसरी सब्जियों की तरह पोषण से भरपूर होती है। इसी के साथ पत्ता गोभी में फायबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो कि डाइटिंग करने वालों के लिए फायदेमंद होती हैं। पत्ता गोभी कह लो या बंद गोभी, दोनों ही हमारे सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। पत्ता गोभी की तरह दिखने वाली एक और सब्जी है, जिसे हम हिंदी में सलाद पत्ता और अंग्रेजी में लेटस के नाम से जानते हैं। अक्सर ज़्यादातर लोग इसे पत्ता गोभी ही मान लेते है। आइए जानते है पत्ता गोभी और सलाद पत्ता में क्या फर्क हैं और कैसे किया जाता हैं उनका इस्तेमाल।

पत्ता गोभी और लेटस में है बहुत फर्क

पत्ता गोभी को पात गोभी, बंद या करमकल्ला और अंग्रेजी में कैबेज कहते हैं

पत्ता गोभी को अक्सर सब्जी  बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।  इसे हमेशा उबाल कर या फिर पका कर ही खाया जाता है। कई लोग पत्ता गोभी को सलाद के रूप में खाने की कोशिश करते हैं, लेकिन इसका स्वाद वो स्वाद नही दे पाता, जो लेटस यानी सलाद पत्ता देता है। कई लोग बड़े बड़े होटल में देखते हैं कि पत्ता गोभी को सलाद के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा हैं , साथ ही बात बर्गर जैसी डिश में जो देखते है वह लेटस ही होता है। अक्सर लोग घर में उसी तरह का सलाद बनाने का प्रयास करते है, लेकिन वो उस तरह का सलाद बनाने में सफल नही हो पाते। इसकी सबसे बड़ी वजह है लेटस और पत्ता गोभी में अंतर ना पहचानना। लेटस भले  ही पत्ता गोभी जैसा दिखता हो लेकिन इसमें और पत्ता गोभी में बहुत फर्क होता है। पता गोभी भारत में कई जगह मिल जाएगी लेकिन लेटस एक विदेशी सब्जी है और यह बाहर से मंगाई जाती है। ये बहुत ही मंहगी भी होती है।

लेटस से बनते हैं अनेक प्रकार के सलाद

लेटस सलाद आज कल हाई सोसाइटी की लिस्ट में शामिल हो गया।

लेटस  जिन्हें हम सलाद वाले पत्ते कहते हैं वो कई प्रकार के होते हैं।  जैसे हरे पत्ते, बैंगनी पत्ते, और या फिर हल्के हरे रंग के पत्ते। लेटस से हम कई तरह का सलाद बना सकते है। आप अपने सलाद को इन लेटस के पत्तो के साथ कुछ भी एक्सपेरिमेंट कर सकते है। अगर आप चाहते हैं तो आप इन लेटस में अंकुरित दालों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।  आप इन पत्तों को दूसरी सब्जी जैसे शिमला मिर्च, गाजर, बीटरूट में भी मिलाकर सलाद की तरह खा सकतें हैं। आप इसमे अपनी पसंद के फल जैसे सेब, अंगूर, अनार, नाशपाती, संतरे भी मिला सकतें हैं। अगर चाहे तो अाप इन लेटस में चिकन डाल कर चिकेन सलाद भी बना सकतें हैं। ये अपने आप में स्वादिष्ठ के साथ बहुत पोष्टिक भी होते हैं। इन पत्तों को कभी भी उबाला और पकाया नही जाता। इन्हें हमेशा कच्चा ही खाया जाता है।

गोभी का इस्तेमाल चाइनीज़ डिश  में

पत्ता गोभी के लिए पानी और ठंडे वातावरण की आवश्यकता है। इसको खाद भी खूब चाहिए।

लेटस जहां सिर्फ सलाद में इस्तेमाल होता हैं वही हमारी देसी गोभी का इस्तेमाल सब्जी बनाने के अलावा चाइनीज़ खाने जैसे नूडल्स, फ्राइड राइस और मंचूरियन बनाने में किया जाता है। चाइनीज़ के अलावा गोभी का इस्तेमाल गोभी पराठे बनाने, पकोड़ी बनाने और खीर बनाने में भी किया जाता हैं। जो लोग नॉन वेज  मोमोज़ नहीं खाना पसंद करते उनके लिए वेज मोमोज़ के लिए पत्ता गोभी एक अच्छा विकल्प है क्योंकि वेज मोमोज़ को बनाने के लिए पत्ता गोभी का ही सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किया जाता है।

अगली बार आप ध्यान में रखे कि लेट्स का इस्तेमाल बतौर सलाद के साथ विदेशी डिशेस जैसे बर्गर में कर सकते है। अगली बार जब मेहमान घर आए तो आप लेटस सलाद को अलग अलग वेराइटी के साथ परोसें और मेन कोर्स में गोभी के पराठे या फिर गोभी की सब्जी परोसना ना भूले। इससे आपके घर आए हुए मेहमान कुछ अच्छा और हेल्थी खाना देख खुश भी हो जाएंगे और ये सारे डिश देख आपके मेहमान आपके लाइफ स्टाइल से  काफी प्रभावित भी हो जाएंगे।

पहचान छोटी ही सही लेकिन अपनी खुद की होनी चाहिए। इसी सोच के साथ जीती हूँ।अपने सपनों को साकार करने की हिम्मत रखती हूं और ज़िन्दगी का स्वागत बड़े ही खुले दिल से करती हूँ। बाते और खाने की शौकीन हूँ । मेरी इस एनर्जी को चार्ज करती है, मेरे नन्ने बच्चे की खिलखिलाती मुस्कुराहट।