गर्म-गर्म सांभर के साथ फूली हुई सफेद इडली को डुबोकर खाना, मानो दुनिया का सबसे बेहतरीन व्यंजन है। मसालेदार सांभर और चटनी को जब उबली हुई गोल इडली के साथ खाया जाता है, तो मज़ा ही आ जाता है। इडली, दक्षिण भारत के सबसे अधिक पसंद किए जाने वाले व्यंजनों में से एक है और इसे सबसे ज़्यादा नाश्ते के रूप में पसंद किया जाता है। लेकिन कभी सोचा है कि यह इडली कहां से आई है? चलिए पता करते हैं कि कहां हुआ था इडली का आविष्कार ?

इडली और सांभर, स्वर्ग के सामान व्यंजन

अन्य सभी भारतीय व्यंजनों की तरह, इडली के आविष्कार की भी अपनी एक अलग कहानी है।

Image Credit: vegrecipesofindia.com

एक कहानी कहती है कि इडली इंडोनेशिया से लगभग 800-1200 सीई में भारत में आई थी, तब हिंदू राजाओं का शासन था। इडली, केडली नामक एक इंडोनेशियन डिश से काफी मिलती-जुलती है। ऐसी संभावना है कि इंडोनेशिया गए भारतीय रसोइएं, वहां से इस रेसिपी के साथ वापस आए थे, उन्होंने ‘केडली’ को ‘इडली’ में बदल दिया था।

इडली का उल्लेख पहली बार 920 ई.पू. में शिवकोटियाराचार्य द्वारा लिखित, ‘वड्डा धेन’ नामक एक प्राचीन कृति में, कन्नड़ भाषा में किया गया था, जिसे ‘इडलडिज’ कहा जाता है। एक अन्य कन्नड़ लेखक चवुंदराय II बताते हैं कि इस डिश को तैयार करने के लिए मक्खन के दूध में काले चने को छाछ में भिगोना होता है, फिर उसे अच्छे से पीस कर उसका एक पेस्ट बनाना होता है। अंत में साफ पानी या दही और मसालों में इस पेस्ट को मिलाया जाता है। पश्चिमी चालुक्य राजा और विद्वान सोमेश्वरा द्वितीय ने, मनसोलासा नामक उनके विश्वकोश में इडारिका नामक इडली की एक रेसिपी के बारे में लिखा है।

आप इडली को कितना पसंद करते हैं?

लेकिन इनमें से किसी ने भी इडली के आविष्कार के बारे में ठीक-ठीक नहीं बताया है।

Image Credit: indiatvnews.com

ऊपर बताई गयी एक भी रेसिपी में उन सामाग्रियों का वर्णन बिल्कुल भी नहीं था, जिन्हे हम आज इडली बनाने के लिए मुख्य रूप से इस्तेमाल करते हैं। इन सामग्रियों का उल्लेख केवल 1250 सीई के बाद ही किया गया है। यह वह समय है जब इडली की रेसिपी को इंडोनेशिया से लाया गया था।

सच तो यह है कि हमारे पास असल में इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि इडली का आविष्कार असल में कहां से हुआ है। भारतीयों के लिए दक्षिण भारतीय पकवानों और सुबह के नाश्ते में इन स्टीम्ड पेनकेक्स को ना पाना मानो असंभव है। और क्या फर्क पड़ता है कि यह इडली कहां से आई हैं। अब तो यह इडली भारतीय भोजन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, और हम सभी को यह व्यंजन बहुत पसंद है।

This is aawaz guest author account