आप सुपरमार्केट में मिलने वाले फूड आइटम्स की तरफ आकर्षित होते हैं क्योंकि ये ऑर्गेनिक होते हैं और अच्छी तरह से पैक्ड और ताजा होते हैं। लेकिन आप इन पर पूरी तरह से भरोसा नहीं कर सकते हैं क्योंकि उनमें से कुछ फूड आइटम्स आपकी सेहत को जोखिम में डाल सकते हैं। अगर आप कम पके हुए फूड आइटम्स खाते हैं तो ये आपको कुछ गंभीर बीमारियां भी दे सकते हैं। यही कारण है कि आपको उन फूड आइटम्स के बारे में जानना बहुत जरूरी है जो सेहत को नुकसान पहुंचाते है। आगे से आप इसे खरीदने से पहले सर्तक हो जाए। और आप अगली बार जब इन्हें खरीदने जाएं तो पैकेट्स को दोबारा चेक करें या पढ़ें कि वे कैसे तैयार किए जाते हैं। यदि आप ठीक तरह से सावधानी नहीं रखते हैं तो ये फूड आइटम्स आपको जहर देने की क्षमता भी रखते है। वजह ये कि ये सही तरीके से तैयार नहीं किए होते हैं और आपके लिए कुछ गंभीर इश्यू पैदा कर सकते हैं।

Kiफूड आइटम्स यदि ढंग से नहीं पके है तो जोखिम में पड़ सकती है आपकी जान

चिकन से भी है रिस्क

Image Credit: generalmills.com

चिकन: जबलपुर रिसर्च सेंटर की डायटीशियन मंजरी ताम्रकर के अनुसार, चिकन को खाने से पहले न्यूनतम 165 डिग्री के इंटरनल टेम्प्रेचर पर पकाया जाना चाहिए। यदि ऐसा नहीं होता है तो चिकन खाने से आपको गंभीर फूड प्वाइजनिंग हो सकती है।

आलू: जिन आलू को आप अंकुरित होता देखते हैं, यदि उसे ही खाते तो है ये आपकी सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। इन आलुओं को यदि बड़ी मात्रा में खाया जाए तो इसमें जो ग्लाइकोकलॉइड होता है वो दस्त, ऐंठन, कोमा या यहां तक कि मौत का कारण भी बन सकता है। यही कारण है कि हमेशा ताजा दिखने वाले आलू को खाए और यदि स्वस्थ रहना हो तो इन्हें अंकुरित होने के बाद फेंक दें।

कैस्टर ऑइल: यह ऑइल आमतौर पर कई फूड आइटम्स में स्वाद के लिए उपयोग किया जाता है। इसके अलावा इसका उपयोग लुब्रिकेंट, प्लास्टिक, पेंट, परफ्यूम और साबुन में भी किया जाता है। कैस्टर के बीज में एक जहरीला एंजाइम होता है जो तेल निकालने पर हिट प्रोड्क्शन को निष्क्रिय कर देता है और एक पॉवरफुपल प्वाइजन की तरह काम करता है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को इस तेल में बनी चीजें नहीं खाना चाहिए क्योंकि इससे प्रीमैच्योर बच्चा होने का खतरा होता है।

इन चीजों को भी अच्छे से पका कर खाएं

लीची: पूरी तरह से पकने से पहले लीची को खाना नुकसानदायक होता है। अगर आप पकने से पहले ही लीची को खाएंगे तो इससे आपको बुखार और ऐंठन हो सकती है। खासकर अगर खाली पेट खाया तो ज्यादा नुकसान हो सकता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि बिना पकी लीची में टॉक्सिन्स होते हैं जो बॉडी में शक्कर बनने को रोकते है और इसका असर सीधे दिमाग पर पड़ता है।

काजू: ये तो सभी जानते है कि काजू सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है, लेकिन कच्चा काजू उतना ही नुकसानदायक भी होता है। कच्चे काजू को जो कि सुपरमार्केट बेचने का दावा करते हैं, हकीकत में वो कच्चे नहीं होते हैं। इनमें से खतरनाक कैमिकल्स को हटाने के लिए हीट-ट्रीटमेंट दिया जाता है। इसके अलावा कच्चे काजू को सीधे पेड़ से तोड़कर खाने से आपको चकत्ते और एलर्जी भी हो सकती है

अंडे: ऐसे कई फिटनेस फ्रीक हैं, जो कच्चे अंडे को खाने में विश्वास रखते हैं लेकिन ऐसा करना वाकई खतरनाक हो सकता है। हर 30,000 कच्चे अंडे में से एक साल्मोनेला नामक बैक्टीरिया से संक्रमित होता है, जो आपको फूड प्वाइजनिंग दे सकता है।

शहद: क्रीम की तुलना में शहद वास्तव में स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है। लेकिन एक साल से कम उम्र के बच्चों को इसका सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए, क्योंकि इससे शिशु बोटुलिज्म (एक तरह का जहर है) हो सकता है। यही कारण है कि सुपरमार्केट में उपलब्ध ज्यादातर शहद की बोतलों में क्रीम मिलाया जाता है।

This is aawaz guest author account