सावन सोमवार की शुरुआत हो चुकी है। इस महीने में महिलाएं उपवास रखती हैं। इस उपवास के दौरान शिव जी का ध्यान कर उन्हें पूजा जाता है। इस महीने में शिव जी की उपासना करने से आपको धन, मोक्ष, संतान और मनचाहे जीवनसाथी का साथ मिलता है। लेकिन जो लोग सावन के महीने में शिव जी की आराधना के लिए उपवास रखते हैं, उन्हें कई नियमों का ध्यान रखना पड़ता है। यदि आप ये उपवास पहली बार रख रहे हैं, तो आपके लिए ये जानना बेहद ज़रूरी होगा कि इस दौरान आपको क्या खाना चाहिए। आज हम आपको इसी से जुड़ी कुछ ख़ास बातें बताने जा रहे हैं।

सावन में खाएं ये अनाज

साबूदाना की, जो भारत में बड़े चाव से खाया जाता है

सावन के दौरान कुछ खास प्रकार के अनाज और उससे बने आटे का सेवन किया जा सकता है। अनाज की बात करें तो कुट्टू का आटा लोगों को बेहद पसंद आता है। कुट्टू के आटे से बना पराठा, पूड़ी, कचौड़ी, हलवा, चीला इत्यादि लोग इस उपवास के दौरान खाते हैं, वहीं सिंघाड़े के आटे से भी यही सारी चीज़ें बनाई जा सकती है।

बात करें चौलाई की, तो इसे भिगाकर इससे कई अलग-अलग चीज़ें बनाई जाती हैं। जहां एक ओर इसे उबालकर हेल्दी दलिया बनाया जाता है, वहीं इसके आटे से पूड़ी और परांठे भी बनाए जाते हैं।

इसके अलावा यदि आप पूड़ी और परांठे नहीं खा सकते, तो आप समा के चावल भी खा सकते हैं। इन चावलों से खिचड़ी, पुलाव और खीर इत्यादि बनाई जाती है। इसी आटे से आप साउथ इंडियन डिशेज़ भी बना सकते हैं। ये चावल सूजी की ही तरह दिखाई देते हैं।

इसके बाद बारी आती है साबूदाना की, जो भारत में बड़े चाव से खाया जाता है। इससे बनी खिचड़ी, वड़े, टिक्की और खीर लोगों को बेहद पसंद आती है।

इन मसालों का होता है इस्तेमाल

देसी घी का इस्तेमाल भी खाना बनाने के लिए कर सकते हैं

उपवास में अलग-अलग तरह के मसालों का इस्तेमाल किया जाता है। इसमें खास तौर पर सेंधा नमक एक ऐसा पदार्थ है, जो खास तौर पर उपवास में इस्तेमाल होता है। इसके अलावा काली मिर्च, जीरा, अनारदाना, लौंग, जायफल, अदरक और हरी मिर्च का इस्तेमाल भी उपवास के खाने को और भी स्वादिष्ट बना सकता है। आप चाहें तो देसी घी का इस्तेमाल भी खाना बनाने के लिए कर सकते हैं।

किन सब्ज़ियों का करें इस्तेमाल?

उपवास में आपको कुछ ख़ास सब्ज़ियों का ही इस्तेमाल करना चाहिए। इन सब्ज़ियों में आलू, कद्दू, अरबी, कच्चा केला, खीरा, लौकी, टमाटर और गाजर मुख्य रूप से खाए जाते हैं। इसके अलावा आप हर प्रकार के मौसमी फलों का भी सेवन कर सकते है।

यदि आप भी सावन सोमवार का व्रत रख रहे हैं, तो आपको इन खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए।

मेरी आवाज़ ही पहचान है! संगीत मेरी कल्पना को पंख देता है.. किताबी कीड़ा, अडिग, जिद्दी, मां की दुलारी.. प्राणी प्रेम ऐसा कि लोग मुझे लगभग पागल समझते हैं! खाने के लिए जीनेवाली और हद दर्जे की बातूनी.. लेकिन मेरा लेखन आपको बोर नहीं करेगा..