दक्षिण भारतीय फिल्मों की मशहूर हीरोइन सिल्क स्मिता का किरदार, फिल्म ‘डर्टी पिक्चर’ में निभाने वाली विद्या बालन ने उस फिल्म के लिए कई तारीफे और अवार्ड भी बटोरे। अब बहुत ही जल्द वह दक्षिण भारत की काफी समय से चर्चा में रह रही फिल्म का हिस्सा बनने जा रही हैं। लेजेंड्री तेलुगू एक्टर और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके नन्दमुरी तारक रामाराव यानि एनटी रामा राव की ज़िंदगी पर बायोपिक बनने की जब से घोषणा हुई है, तभी से इस फिल्म को लेकर कोई ना कोई खबर बाहर आती रही है। अब इस फिल्म के लिए विद्या बालन को साइन कर लिया गया है। इस फिल्म में एनटी रामा राव की पत्नी का किरदार निभाती नज़र आएंगी। यह उनकी पहली तेलुगू फिल्म होगी। इस फिल्म में एनटी रामाराव के बेटे नंदामुरी बालाकृष्णा ही अपने पिता की भूमिका निभा रहे हैं।

फिल्म इस साल जनवरी में शुरु होनी थी

vidya-balan-and-balakrishna
फिल्म के निर्देशक तेजा को बदल कर अब कृष को लाया गया है।

इस फिल्म को बनाने की ज़िम्मेदारी पहले दक्षिण भारत के निर्देशक तेजा को दी गई थी। हालांकि 6 महीने इस फिल्म पर काम करने के बाद तेजा से यह फिल्म वापस ले ली गई। अब इस फिल्म को कृष डायरेक्ट करने वाले हैं, जो कंगना के साथ अपनी फिल्म मर्णीकर्णीका को लेकर व्यस्त थे। खास बात है कि कृष और बालाकृष्णा इससे पहले भी साथ साथ काम कर चुके है। एनटी रामा राव पर बनाई जा रही इस बॉयोपिक को हिंदी और तेलुगू में बनाया जाएगा। हालांकि चर्चा है कि रामगोपाल वर्मा भी एनटी रामाराव की ज़िंदगी पर फिल्म बनाने वाले हैं।

हालांकि मार्च में ही इस फिल्म का हैदराबाद में लॉन्च किया गया था। इस मौके पर एक भव्य सेट बनाया गया था। उस दौरान तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री, मंत्री और कई फिल्म स्टार्स भी मौजूद थे। फिल्म की शूटिंग इस साल जनवरी में ही शुरु होने वाली थी,लेकिन बालाकृष्णा की अपने दूसरे प्रोजेक्ट को लेकर व्यस्तता के कारण यह फिल्म डिले हो गई । फिल्म की शूटींग अब जुलाई से शुरु होने वाली है। फिल्म का निर्माण बालाकृष्णा, साई कोरापति और विष्णु इंदूकुरी कर रहे हैं। इस फिल्म के लिए अभिनेता परेश रावल के साथ भी बात किए जाने की चर्चा है। फिल्म अगले साल जनवरी में रिलीज़ होने की सम्भावना है।

HFT हिन्दी की एडिटर, मनमौजी, हठी लेकिन मेहनती..उड़ नही सकती लेकिन मेरी कल्पनाशक्ति को उड़ने से कोई नहीं रोक सकता। अपने महिला होने पर मुझे सबसे ज्यादा गर्व है। लिखना मेरा शौक है। लिखने के अलावा बेटे के साथ गप्पे मारना और खेलना मुझे बेहद पसंद है।